जाम के झाम में सतना शहर, एक किमी में सात यू-टर्न

मनचाही जगह से गाड़ी मोड़ देते हैं वाहन चालक, टक्कर के बाद लगता है जाम, होती है हुज्जत, दिन भर दौड़ लगाती है यातायात पुलिस

By: Dhirendra Gupta

Published: 26 Nov 2019, 01:04 PM IST

सतना. शहर के बीच से गुजरे हाइवे पर यू-टर्न ने जाम का झाम बना रखा है। फ्लाई ओवर के बाद सर्किट हाउस की ओर महज एक किमी के रास्ते में सात एेसे यू-टर्न हैं जो दिन भर वाहन चालकों में हुज्जत कराते हैं। इन्हीं घुमावदार मोड़ पर जब चौपहिया वाहन फंसते हैं तो यातायात पुलिस को दौड़ लगाना पड़ती है। इस पूरे रास्ते में सहूलियत से वाहन चलाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन सा है।
यह हैं सात यू-टर्न
रीवा रोड में सिंधु स्कूल के सामने ही एक मोड़ है। इसके आगे बढ़ें तो सबेरा होटल के पास मोड़ बना है। थोड़ा आगे जाते ही भरहुत नगर मोड़ है जहां यातायात सबसे जयादा बाधित रहता है। इसके कुछ कदम आगे ही प्रताप होटल के सामने खेरमाई रोड का मोड़ है। यहां से बढ़ते हैं तो पारिजात निवास के सामने ही एक मोड़ है और इसके चंद कदम आगे बम्हनगवां से रीव रोड पर निकलने वाले मार्ग पर 'यूÓ टर्न बना है। थोड़ा और आगे चलें तो बम्हनगवां मोहल्ले को जाने वाले रास्ते में टायर एजेंसी के सामने से टर्न बना हुआ है। अब कुछ आगे ही सर्किट हाउस चौराहा है।
तस्वीरों में देखें वाहनों की चाल
पत्रिका ने जब सोमवार को इस एक किमी के मार्ग के यातायात का हाल जाना तो देखा कि हर मोड़ पर हर मिनट एक गाड़ी वाला निकलने की होड़ में लगा था। एेसे में यू-टर्न से गाड़ी मोडऩे वाले के लिए दोनों तरफ मार्गों में वाहनों को रुककर बढऩा पड़ा। दो पहिया वाहनों में ज्यादा दिक्कत नहीं रही, लेकिन जब इन्हीं यू-टर्नसे चौपहिया वाहन वालों ने गाड़ी मोड़ी तो दोनों तरफ का यातयात थम गया।
ऊंचे डिवाइडर के सामने पार्किंग
रीवा रोड पर गाड़ी चलाने वाले वाकई साहस का काम करते हैं। इस मार्ग में एक ओर तकनीकी तौर पर गलत बने ऊंचे डिवाइडर वाहन चालकों के लिए परेशानी बने हैं तो दूसरी तरफ एचडीएफसी बैंक, एकता टॉवर, वीनस स्वीट्स, सुपर बाजार, माहेश्वरी स्वीट्स, सतना प्लाजा के सामने सड़क पर ही बनी पार्किंग हाइवे के वाहनों को निकलने से रोक लेती हैं। जबकि इन स्थानों पर बेसमेंअ पार्किंग चालू करने के लिए कई दफा भवन मालिकों को नोटिस दिया गया। लेकिन भवन मालिक नगर पालिक निगम, पुलिस अफसर और जिला प्रशासन पर भारी साबित रहे हैं।

"रीवा रोड पर यातायात का दबाव ज्यादा होने से ड्यूटी बढ़ जाती है। स्टॉफ को बार बार इधर उधर भागना पड़ता है ताकि जाम न लगे। सिग्नल लगने के बाद थोड़ी राहत है। सबसे ज्यादा समस्य भरहुत नगर मोड़ पर होती है।"- वर्षा सोनकर, यातायात थाना प्रभारी

Dhirendra Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned