मध्यप्रदेश बीजेपी में 'घमासान', भिड़ गए हैं सांसद और विधायक

मध्यप्रदेश बीजेपी में 'घमासान', भिड़ गए हैं सांसद और विधायक

Pawan Tiwari | Updated: 04 Jun 2019, 01:36:42 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India


जानें, आखिरी क्यों बीजेपी के सांसद और विधायक भिड़ गए हैं...

सतना. लोकसभा चुनाव में मिली बंपर जीत के बाद मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार को गिराने का सपना देख रही बीजेपी में घमासान मचा हुआ है। बीजेपी के विधायक और सांसद की लड़ाई सरेआम हो गई है। बीजेपी विधायक ने तो सांसद को यहां तक कह दिया है कि उन्होंने मानसिक संतुलन खो दिया है।

 

दरअसल, सतना सांसद गणेश सिंह के अपनी पार्टी के नेताओं पर भितरघात के आरोप लगाने के बाद मैहम के भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा कि जीत के कारण सांसद ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है। लगता है दो लाख से ज्यादा मतों से जीतने के कारण उन्हें लगने लगा है कि वे लोकप्रिय हो गए हैं।

इसे भी पढ़ें: बेईमानी करने वाले मेरे पास न आएं, आएंगे तो मुझसे कुछ गलत निकल जाएगा: गणेश सिंह

bjp

 

मोदी जी के कारण मिली जीत
नारायण त्रिपाठी ने कहा कि सांसद गणेश सिंह भूल गए हैं कि जीत उनकी लोकप्रियता के कारण नहीं, बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कारण मिली है। विधायक ने कहा कि अहंकार में डूबे सांसद यह जान लें कि विधायकों ने उनका विरोध किया होता, तो वे इस तरह की बयानबाजी के लिए बचे ही नहीं होते।

bjp

 

हार गया था बीजेपी प्रत्याशी
नारायण त्रिपाठी ने कहा कि मेरे गृह ग्राम में लटगांव में चार पोलिंग आती हैं, चारों में सांसद ने जीत दर्ज की है। जबकि विधानसभा चुनाव में सांसद के गृह ग्राम खमरिया में भाजपा प्रत्याशी पोलिंग हार गया था। पार्टी को उनके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। नारायण त्रिपाठी ने सांसद पर भी आरोप लगाया कि विधानसभा चुनाव के दौरान सांसद ने छह विधानसभा में भाजपा को हराने का प्रयास किया। केवल अमरपाटन में वे पार्टी के पक्ष में रहे।

bjp

 

पार्टी नेताओं को दी थी धमकी
सतना से सांसद गणेश सिंह ने रविवार को अपने संसदीय क्षेत्र स्थित नागौद में मंच से चुनाव में असहयोग करने वाले नेताओं को धमकी दी थी। उन्होंने कहा कि वे भूलकर भी कभी मेरे समाने न आएं। मेरे मुंह से उनके लिए गलत शब्द निकल जाएंगे। विधायक नारायण त्रिपाठी ने पलटवार करते हुए कहा कि सांसद कहते हैं कि कोई सामने आ जाएगा तो बेइज्जत कर देंगे। तो ध्यान रखिएगा कि आप भी बेइज्जत होंगे।

bjp

 

अपनी बलि देकर जिताया
विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा कि 2014 में मैंने अपनी बलि देकर चुनाव जीताया था। अगर मैं इनके लिए अपनी राजनैतिक बलि न देता तो कम से कम ये एक लाख वोट से चुनाव हारते। उसके बाद भविष्य में राजनीति करने के लायक नहीं बचते।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned