कलेक्टर ने कहा, जनपद सदस्य को बाउण्ड ओवर करो

कलेक्टर ने कहा, जनपद सदस्य को बाउण्ड ओवर करो
collector said, Bond Over to janpad Panchayat Member

Ramashankar Sharma | Publish: Jun, 26 2019 12:16:38 AM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

विकलांग को मौके पर दी गई ट्राईसिकिल

जिला स्तरीय जनसुनवाई में दो सौ के लगभग लोग पहुंचे, मौके पर कलेक्टर ने किया निराकरण

राजस्व निरीक्षकों से सीमांकन के आवेदनों का तत्काल निराकरण कराने के निर्देश

 

सतना. जिला स्तरीय जनसुनवाई में कलेक्टर के पास पहुंची रामनगर क्षेत्र की महिला ने बताया कि एक जनपद सदस्य उसे लगातार प्रताडि़त कर रहा है और उसके साथ मारपीट की जा रही है और उसे गांव से बाहर निकालने के लगातार प्रयास हो रहे हैं। पूरा मामला समझने पर कलेक्टर सतेन्द्र सिंह ने रामनगर एसडीएम को संबंधित पर बाउण्ड ओवर की कार्रवाई के निर्देश दिए। इसी तरह से एक महिला की शिकायत पर उसके दामाद के खिलाफ घरेलू हिंसा अधिनियम के तहत तत्काल प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई के निर्देश दिए। एक मंदिर पर अतिक्रमण का मामला सामने आने के बाद एसडीएम रामपुर को जनसुनवाई से छोड़ते हुए तत्काल मंदिर पहुंच कर मौका मुआयना के निर्देश दिए। इसी तरह से एक साल से लंबित सीमांकन के मामले में संबंधित आरआई को अगले दिन सीमांकन कर पूरी जानकारी वाट्स अप पर मैसेज करने के निर्देश दिए साथ ही चेताया कि ऐसा हुआ तो निलंबन के लिये तैयार रहें। अधीक्षक भू-अभिलेख पर भी सीमांकन के लंबित मामलों पर नाराजगी जताई और कहा कि इनका तत्परता से निराकरण करें। नहीं तो अब हीला हवाली करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान जिपं सीईओ साकेत मालवीय, अपर कलेक्टर आईजे खलखो सहित विभागों के जिला प्रमुख मौजूद रहे।

जनसुनवाई में अमरपाटन ब्लाक की हर्रई निवासी श्यामा प्रजापति ने कलेक्टर को बताया कि जनपद सदस्य उनके साथ अभद्रता करता है और आए दिन झगड़ा करता है। इस दौरान श्यामा ने अपने साथ हुई मारपीट के निशान भी दिखाए। जिस पर कलेक्टर ने डेस्क-टॉप कान्फे्रंस से एसडीएम को तत्काल निर्देश दिए कि संबंधित जनपद सदस्य के विरुद्ध बाउण्ड ओवर की कार्रवाई करें साथ ही महिला के साथ इस तरह के दुव्र्यवहार की स्थिति को देखते हुए पद से पृथक करने का प्रस्ताव भी भिजवाएं। इसके साथ ही डीपीआरओ से जांच कराने के भी निर्देश दिए। इसी तरह से सतना धवारी निवासी किरण खरे ने बताया कि दामाद ने उनके मकान पर बेजा कब्जा कर रखा है और उनको लगातार प्रताडि़त कर रहा है। इस पर महिला सशक्तिकरण अधिकारी को दामाद के खिलाफ घरेलू हिंसा अधिनियम के अंतर्गत प्रकरण पंजीबद्ध कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
बीच जनसुनवाई से एसडीएम को अतिक्रमण रोकने भेजा

रामपुर बाघेलान के ग्राम बकिया से एक महिला अपने पुत्र के साथ पहुंची और बताया कि कुछ लोगों ने आम रास्ता बाधित कर रखा है साथ ही यह भी बताया कि स्टे के बाद भी यहां निर्माण हो जाने दिया गया। इस पर एसडीएम से कलेक्टर ने शिकायतकर्ता के साथ एसडीएम से स्थिति पूछी जिसे महिला ने गलत जानकारी देना बताया। इस पर कलेक्टर ने अगले दिन एडीएम को जाकर मौका मुआयना करने के निर्देश दिए। साथ ही एसडीएम को कहा कि वहां आप मौजूद रहें। इसी तहसील के मदनमोहन मंदिर में अतिक्रमण किये जाने की शिकायत सामने आई। शिकायत की प्रकृति गंभीर होने पर कलेक्टर ने एसडीएम से कहा कि आप अभी जनसुनवाई छोडि़ए और तत्काल मंदिर पहुंच कर यहां की स्थिति देखिये।
स्कूल का रास्ता तत्काल बनवाएं

बघेरा गांव से स्कूल की छात्राएं अपने गणवेश में कलेक्टर के सामने पहुंचीं। बताया कि उनके स्कूल तक जाने का कोई रास्ता नहीं है। अब बारिश आने वाली है जिससे दिक्कत और बढ़ जाएगी। इस पर मैहर एसडीएम से कहा कि मौके पर जाकर देखें कि रास्ता कैसे बनेगा और यह काम शीघ्रता से किया जाए। उचेहरा के पोड़ी निवासी राजभान और लीलावती सूर्यवंशी द्वारा आम रास्ते की शिकायत सामने आने पर संबंधित एसडीएम को आम रास्ता तत्काल खुलवाने के निर्देश दिए।
कलेक्टर के आदेश पर सुनवाई से भड़के

रजरवार निवासी अरूण त्रिपाठी ने बताया कि कलेक्टर कोर्ट के आदेश का पालन नहीं हो रहा है और वहां के तहसीलदार इस आदेश के विरुद्ध अपना अलग से प्रकरण चला रहे हैं। इस पर कलेक्टर ने कोटर तहसीलदार से कहा कि धारा 133 के तहत जब कलेक्टर ने फैसला सुना दिया है तो आप उसका पालन कराएं। और अगले दिन तक इसके क्रियान्वयन से मुझे सूचित करें।
मुआवजा वितरण का लगेगा कैम्प

अमरपाटन क्षेत्र से कई लोग नहरों का मुआवजा नहीं मिलने की शिकायत लेकर पहुंचे। जिस पर कलेक्टर ने एसडीएम अमरपाटन से कहा कि आप एक दिन तय कर लें और उस दिन सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को बुलाकर एक कैम्प मुआवजा समस्या निराकरण का लगाएं। अगर यह बुधवार को लगाया जाता है तो वे स्वयं भी कैम्प में पहुंचेंगे। इसी तरह से मैहर के घुनवारा निवासी अनिल तिवारी ने मुआवजा निर्धारण में अनियमितता का आरोप लगाया और कहा कि उन्हें परेशान किया जा रहा है। जिस पर मैहर एसडीएम को मौका मुआयना कर मामले का तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए।
मौके पर दी ट्राईसिकिल

जनसुनवाई में एक मूक बधिर दिव्यांग मुकेश केवट अपनी मां रामबाई के साथ आया। मुकेश की स्थिति देख कलेक्टर स्वयं उसके पास पहुंचे। पहले उसे संवाद स्थापित करने की कोशिश की लेकिन सुनने बोलने में अक्षम मुकेश के बारे में मां से जानकारी ली। इसके बाद जनसुनवाई में ही सामाजिक न्याय विभाग से ट्राइसिकिल मंगा कर मुकेश को प्रदान की। इस दौरान मुकेश की मां के आंखों में खुशी के आंसू छलक पड़े। मां ने बताया कि उसका पुत्र 10 वर्ष की आयु से लकवा की बीमारी से गस्त है। तीन साल पहले पति का निधन हो चुका है। उसके दो लडके एवं चार लड़कियां सहित कुल 6 संतानें हैं। घर में कमाई का कोई स्थाई जरिया न होने से रामबाई मजदूरी कर अपना एवं अपने बच्चों का भरण पोषण करती है। ऐसे में मुकेश की जिम्मेदारी काफी बढ़ जाती है। अब उसे इधर उधर जाने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned