कोरोनाकाल की शर्मनाक तस्वीरः 40 किलोमीटर दूरी का शववाहन का किराया 10 हजार !

कोरोना महामारी के दौरान आपदा में कुछ लोग ऐसे अवसर तलाश रहे हैं जो मानवता को शर्मसार करने वाले हैं। लचर सिस्टम के चलते कोरोना पीड़ित व्यक्ति को मरने के बाद में इंसानियत के दुश्मन नोचने में जुटे हैं। यह शर्मनाक तस्वीर शव वाहन वालों की है जो 40 किमी दूरी का 10 हजार किराया मांग रहे हैं।

By: Ramashanka Sharma

Updated: 20 Apr 2021, 02:38 AM IST

सतना. कोरोना काल में जैसे जैसे संक्रमण का फैलाव होता जा रहा है वैसे ही लगातार मौत की घटनाएं भी सामने आ रही है। लेकिन इस आपदा में भी कुछ लोग अवसर तलाश रहे हैं। ऐसा ही मामला जिला अस्पताल के पास शव वाहन खड़े करने वाले वाहन मालिकों और दलालों का है। इन लोगों ने शव वाहन के रेट 10 गुना तक बढ़ा दिये हैं। ऐसा ही मामला सोमवार को सामने आया जिसमें सतना से 40 किमी दूर अमरपाटन तक का किराया 10 हजार रुपये बताया जा रहा था। बमुश्किल मामला जब सरकारी सिस्टम तक पहुंचा तो फिर दखल के बाद किसी तरह कम रेट पर शव को ले जाया गया।

जिला अस्पताल में सक्रिय दलाल
मिली जानकारी के अनुसार जिला अस्पताल में अमरपाटन निवासी अज्जू चौरसिया के पिता का कोरोना से निधन हो गया। इस पर उन्होंने शव को घर ले जाने के लिए शव वाहन की तलाश प्रारंभ की। तभी यहां खड़े दलाल ने उन्हें कुछ लोगों के पास भेजा। जिस शख्स के पास भेजा गया उसका नाम इमरान था, जो खुद को अस्पताल के पास खड़े होने वाले वाहनों का नियंत्रक बता रहा था। इमरान ने कहा कि अमरपाटन जाने का किराया 10 हजार रुपये लगेगा। इतने पैसे तो थे नहीं तो रेट करने पर बातचीत शुरू हुई जो कुछ ही देर में बहस में बदल गई।

बजरंग दल ने दिया दखल

तभी किसी ने इसकी जानकारी बजरंग दल के एक पदाधिकारी को मिली। बजरंग दल के इस पदाधिकारी ने स्थिति को देखते हुए कोविड काल में शव वाहन व्यवस्था के प्रभारी अधिकारी आरटीओ को मोबाइल पर फोन लगाया गया। कई कॉल जाने के बाद भी उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की। तब परेशान होकर इसकी जानकारी नगर निगम के रमाकांत शुक्ला को दी। उन्होंने बाद में शव वाहन संचालकों से चर्चा कर उचित दर पर वाहन भिजवाया।

हालात बिगड़ रहे

जिला अस्पताल के सामने खड़े होने वाले शव वाहन संचालकों ने कोरोना काल को अपने लाभ के रूप में लेना शुरू कर दिया है। हालात यहां तक हो गए हैं कि नगर निगम क्षेत्र के अंदर भी शव ले जाने के लिए इनके द्वारा 2 से 3 हजार रुपये मांगे जा रहे हैं।

'' सूचना मिली थी कि कोई इमरान सतना से अमरपाटन तक का १० हजार रुपये किराया मांग रहा है। हालांकि प्राथमिक तौर पर तय दर पर वाहन उपलब्ध कराया गया है। संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई के लिए अगले दिन प्रस्तावित किया जाएगा। ''

- रमाकांत शुक्ला, व्यवस्था प्रभारी नगर निगम

Ramashanka Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned