MP के क्रिकेटर ने पूना में मचाया धमाल, हैट्रिक के साथ चटकाए 6 विकेट

असम के खिलाफ प्रद्युम्न ने हैट्रिक के साथ चटकाए 6 विकेट, DCA रहा विजेता, महात्मा गांधी चेलेंजर ट्रॉफी में दिखा सतना के खिलाड़ी का दबदबा

By: suresh mishra

Published: 11 Dec 2017, 04:33 PM IST

सतना। महाराष्ट्र के पूना स्थित जिम खाना स्टेडियम में चल रही महात्मा गांधी चेलेंजर ट्रॉफी में रविवार को सतना के होनहार क्रिकेटर ने धूम मचा दी। असम के खिलाफ अंडर-19 ट्रॉफी के 20-20 मैच में जहां एक ओवर में तीन विकेट झटकर हैट्रिक लगाई है। वहीं पूरे मैच में बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 60विकेट भी चटकाए है। सतना के क्रिकेटर ने पूरे मैच में दर्शकों को प्रद्युम्न-प्रद्युम्न कहने को मजबूर कर दिया।

हैट्रिक का कारनामा प्रद्युम्न तिवारी 'मोहंतीÓ ने अपने तीसरे ओवर की दूसरी, तीसरी, चौथी गेंद में किया है। दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन (डीसीए) की ओर से सीरीज का दूसरे मैच असम के खिलाफ हुआ। शुरुआत में ही दिल्ली टीम मजबूत स्थित में दिखी। एक बाद एक विकेट चटकाते हुए 17 ओवर में 105 रन पर असम की पूरी टीम को आल आउट कर दिया। दूसरी इनिंग में उतरी दिल्ली की टीम ने 15 ओवर और एक गेंद में 106 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया। दिल्ली के खिलाडिय़ों ने ट्रॉफी का पहला मैच जीतकर पूना के प्रशंसकों का दिल जीत लिया।

बेहद खराब असम की शुरुआत
सीरीज में असम की शुरुआत बेहद की खराब रहीं। यहां तक की 6 खिलाड़ी दहाई का आंकड़ा तक नहीं पार कर पाए। दयाल कृष्णा और दानिश श्यामल ने 15-15 रन बनाकर टीम के उच्च स्कोरर रहे। वहीं पल्लव ने 11 रन तो विकाश क्षेत्री और मोहन व्यास ने 14-14 रन का सहयोग कर टीम का स्कोर 105 रन पहुंचाया है। जबकि दिल्ली की ओर से कसी हुई गेंदबाजी करते हुए प्रद्युम्न ने 4 ओवर में 6 विकेट तो विवेक कटारिया और अर्पित शर्मा 2-2 विकेट लिए है। मैच में टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करना असम टीम को भारी पड़ गया।

4 विकेट खोकर दिल्ली ने हासिल किया लक्ष्य
दूसरी इंनिग में उतरी दिल्ली टीम की शुरुआत मजबूत रहीं। दिल्ली के ओपनर अमन सिंह ने 19 बाल में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 26 रन बनाए। उनके जाने के बाद नितिन तोमर और नारंग शर्मा ने चौकों और छक्कों की बरसात कर दी। नितिन ने जहां 26 बाल में 4चौके और एक छक्के की मदद से 30 रन बनाएं वहीं नारंग ने 20 बाल में दो चौके और एक छक्के लगाकर 106 रन का लक्ष्य हासिल कर लिया। असम की ओर से बालिंग करते हुए विकाश क्षेत्री को दो विकेट तो मोहन व्यास और सामिल दास को एक-एक विकेट मिले है।

ये टीमें ले रही भाग
बता दें कि महात्मा गांधी चेलेंजर ट्रॉफी आठ राज्यों की टीमें भाग ले रहीं है। जिसमें दिल्ली, महाराष्ट्र, हैदराबाद, विदर्भ, जम्मू कश्मीर, केरला, सिक्कम, सहित झारखंड की टीमों ने हिस्सा लिया है। सीरीज का आयोजन महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन करा रही है। दिल्ली अभी तक इस सीरीज में एक मैच जीती है और एक मैच हारी है। अगले मैच में करो या मरो का मुकाबला होगा। सीरीज में बने रहने के लिए अगला मैच हर-हाल में जीतना होगा।

मां और दादा ने छोड़ा साथ
रामपुर बाघेलान क्षेत्र के बकिया गांव के रहने वाले प्रद्युम्न तिवारी साधारण किसान के बेटे है। उनके सर से पहले ही मां का आंचल छिन चुका है। बचे-कुचे प्यार की भरपाई दादा कर देते थे जो विगत माह ही इस दुनिया से बिदा हो गई। इसलिए प्रद्मुन के खेल में गिरावट आने लगी। दुख: से उभरने के बाद दिल्ली पहुंचे तो कोचिंग कैंप में डीसीए के ट्रायल में सीनियर कोच संजय भरद्वाज से मुलाकात हुई। जिन्होंने प्रतिभा देखकर दिल्ली टीम की ओर से खेलने का मौका दिया। ये संजय भरद्वाज वही है जो गौतम गंभीर , विराट कोहली सहित 44 प्लेयरों को कोचिंग देकर इंडियन टीम में सिलेक्ट करा चुके है। वर्तमान में प्रद्युम्न कोच राजेश शर्मा की देख रेख में क्रिकेट का गुर सीख रहे है।

suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned