MP-UP पुलिस ने दस्यु दल को घेरा, जंगल में रसद छोड़ भागे डकैत, मुठभेड़ में पकड़ाए दो मददगार

फिर बच निकला डकैतों का गिरोह

By: suresh mishra

Published: 07 Jan 2019, 12:50 PM IST

सतना। मप्र और उप्र के सीमाई जंगलों में सक्रिय साढ़े पांच लाख के इनामी डकैत बबुली कोल के गिरोह के होने की खबर पाते ही दोनों राज्यों की पुलिस ने घेराबंदी कर दी। मप्र पुलिस की टीमें डकैतों के नजदीक पहुंचीं तो अपना खास सामान छोड़कर दस्यु दल भाग निकला। जबकि उप्र की ओर से जंगल में घुसी पुलिस ने मुठभेड़ करते हुए डकैतों के दो मददगारों समेत छह व्यक्तियों को पकड़ा है।

पुलिस को सूचना मिली थी कि महुली खेर के भौंटी जंगल में दस्यु बबुली कोल अपने साथियों के साथ रुका है। खबर पाते ही मप्र की ओर से नयागांव थाना प्रभारी केपी त्रिपाठी, मझगवां थाना प्रभारी ओम प्रकाश सिंह और बरौंधा थाना प्रभारी केपीएस तेकाम सहित एसएएफ जवान जंगल में अलग-अलग दिशाओं से दाखिल हुए।

यह है मामला

रविवार की दोपहर करीब 12 बजे सटीक लोकेशन पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही डकैत अपना दैनिक उपयोग का सामान छोड़कर पहाड़ की ओर भाग निकले। आसपास तलाश में जब दस्यु नहीं मिले तो पुलिस ने वहां से बरामद सामान को जब्त कर लिया। इसके बाद शाम को मानिकपुर थाना क्षेत्र के कल्याणपुर जंगल में डकैतों के होने की सूचना पर उप्र पुलिस ने घेराबंदी कर दी।

बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी

खबर है कि यहां बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। इस पर पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग करते हुए बदमाशों को घेरा। मुठभेड़ के दौरान दो लोगों को पकड़ा गया है। इसमें शिव शरण पाठक के पुत्र सुशील पाठक व सुनील पाठक निवासी बाल्मीकि नगर पश्चिमी मानिकपुर शामिल हैं।

यह सामग्री हुई जब्त
पकड़े गए दोनों डकैत बबुली कोल को असलहे व कारतूस देने जा रहे थे। इनके पास 2 राइफल, 5 तमंचे, एक अद्धी, एक पिस्टल, थर्टी स्प्रिंग राइफल के 30 कारतूस, 12 बोर राइफल के 20 कारतूस समेत अन्य सामग्री बरामद हुई है। पकड़े गए दोनों मददगारों से उप्र पुलिस पूछताछ कर रही है। इनके अलवा चार और संदिग्ध उप्र पुलिस ने पकड़े हैं।

दस्यु दल के बारे में की जा रही पूछताछ

इनमें संजीत सिंह पुत्र रणजीत सिंह निवासी गढ़चपा, बच्चीलाल राजपूत पुत्र शंकर राजपूत निवासी भरभरवा का पुरवा गढ़चपा, मौजीलाल कोल पुत्र सुंदरलाल कोल निवासी ददरा मजरा चुरेह केशरूवा, सौखीलाल कोल पुत्र शिवराज कोल निवासी बेलहा उमरी शामिल हैं। इनसे भी दस्यु दल के बारे में पूछताछ की जा रही है।

Show More
suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned