बिजली के मनमाने बिलों पर होटल एसोसिएशन ने जताया कड़ा विरोध

कलेक्टर को ज्ञापन देकर राहत देने की मांग

By: Pushpendra pandey

Published: 23 May 2020, 07:04 PM IST

सतना. डिस्ट्रिक होटल एसोसिएशन ने शुक्रवार को कलेक्टर को ज्ञापन देकर विद्युत वितरण कंपनी द्वारा भेज जा रहे मनमानी बिल का विरोध जताया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष सागर गुप्ता ने बताया कि लॉकडाउन के चलते बीते दो महीने से कारोबार ठप है। इस दौरान होटल, मैरिज गार्डन, उत्सव हाल व मॉल पूरी तरह से बंद हैं, लेकिन कर्मचारियों का वेतन सहित अन्य खर्चे यथावत हैं। ऊपर से बिजली कंपनी द्वारा भेजे जा रहे मनमाने बिल का भुगतान कर पाना कारोबारियों के लिए काफी मुश्किल साबित हो रहा है। बताया कि लॉकडाउन के दौरान कंपनी द्वारा फिक्स चार्ज, मिनिमम चार्ज व सरचार्ज जोड़कर हजारों रुपए के बिल दिए गए हैं। अब इनके भुगतान के लिए भी तरह से तरह से दबाव बनाया जा रहा है। उन्होंने कलेक्टर को ज्ञापन देकर राज्य सरकार से मांग की है कि लॉकडाउन के दौरान सिर्फ वास्तविक खपत का बिल ही वसूला जाए। इसमें अलग से कोई चार्ज न शामिल किया जाए। अन्यथा व्यवसायी काफी मुश्किल में आ जाएंगे। ज्ञापन देने में एसोसिशन के अध्यक्ष सागर गुप्ता के अलावा, महामंत्री रामसजीवन यादव, कोषाध्यक्ष धीरज कापड़ी व राहुल जैन भी मौजूद रहे।

शर्तों का प्रभावशील होना अनुचित
होटल व मैरिज गार्डन के संचालक सामान्य स्थितियों के लिए विद्युत वितरण कंपनी से समुचित श्रेणी का स्थाई संयोजन स्वीकृत कराकर लगातार विद्युत प्रदाय हेतु अनुबंध निष्पादित कराया था। इसके फलस्वरूप सामान्य व्यावसायिक स्थितियों हेतु ईस्ट डिस्काम प्रभावशील टैरिफ व निष्पादित अनुबंध शर्तों अनुसार प्रत्येक इकाई को मासिक ऊर्जा देयक प्रेषित करता रहा। अब महामारी के चलते सभी इकाइयां बंद हैं। ऐसे में अनुबंध व टैरिफ की शर्तों का प्रभावशील होना अनुचित है।

Pushpendra pandey Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned