बड़ा आरोप: CM शिवराज ने किसानों को पीटने के लिए पंजाब से खरीदे 17 हजार डंडे

समन्वय समिति की एकता यात्रा लेकन पन्ना पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप

By: suresh mishra

Published: 02 Jun 2018, 06:21 PM IST

पन्ना। समन्वय समिति की एकता यात्रा लेकर पन्ना पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि शिवराज सिंह चौहान द्वारा पंजाब से पुलिस वालों के लिए 17 हजार डंडे खरीदे हैं। पुलिस के ये सभी डंडे किसानों पर बरसाने के लिए तैयार किए गए हैं। सर्किट हाउस में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा, किसान इन डंडों से डरने वाले नहीं हैं।

भावांतर योजना किसानों को मूर्ख बनाने की योजना है। सोयाबीन में किसानों को प्रति क्विंटल 660 रुपए का नुकसान हुआ। चना और गेहूं में भी यही हो रहा है। कहा कि, नर्मदा किनारे सवा 6 करोड़ पौधे लगाने के नाम पर भारी भ्रष्टाचार हुआ है। उन्हें नर्मदा परिक्रमा के दौरान सिर्फ 3 पेड़ ही मिले थे। मनरेगा का करोड़ों रुपए उसमें खर्च कर दिया गया।

गड्ढ़े तक नहीं खोदे गए। मजदूरों को भुगतान भी नहीं हूआ। गांव में काम नहीं मिलने के कारण पलायन हो रहा है। झांसी और खजुराहो के रेलवे स्टेशनों में पलायन करने वालों की भीड़ देखी जा सकती है। जिससे किसानों में असंतोष है। इसी करण से किसानों के संगठन देशभर में आंदोलन कर रहे हैं। इसे गांव बंद का नाम दिया गया है।

किसके आदेश पर चली थी गोली
उन्होंने कहा, बीते साल मंदसौर जिले की मंडी में पुलिस की गोली से छह लोगों की मौत हुई थी। यह पहला मामला था जब किसी सक्षम अधिकारी के बगैर आर्डर के गोली चलाई गई। घटना को एक साल हो गए हैं। प्रदेश सरकार अभी यह नहीं बता पाई है कि गोली किसके आदेश पर चली थीं। यदि बगैर किसी के आदेश के गोली चली थी तो यह हत्या का मामला बनता है। हम मामले में हत्या का मामला दर्ज करने की मांग कर रहे हैं। आगामी दिनों राहुल गांधी प्रदेश के दौरे के दौरान पीडि़तों के परिवार के लोगों से भी मिलेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि देश की एकता को खंडित किया जा रहा है। धर्म के नाम पर लोगों को बांटने का प्रयास किया जा रहा है। इनके खिलाफ कांग्रेस ने नेताओं से एकजुट होने का आह्वान किया।

मोदी से बड़ा झूठा कोई नहीं
पूर्व मुख्यमंत्री सिंह ने कहा, सोशल मीडिया में झूठा प्रचार करने का प्रशिक्षण दिया जाता है। प्रधानमंत्री मोदी स्वयं संघ के प्रचारक रहे हैं। उनसे बड़ा झूठा तो कोई नहीं है। शिवराज सिंह चौहान ने भी जहां जाते हैं घोषणा करते हैं। यहां भी कई घोषणाएं करके गए हैं। उनमें से कितनी पूरी हुई हैं। आप सभी को पता होगा। उन्होंने कहा, कांग्रेस प्रदेश की सभी सीटों पर कांग्रेस चुनाव लड़ेगी। संयुक्त गठबंधन और उसमें शामिल किए जाने वाले दलों के संबंध में एआईसीसी और पीसीसी स्तर पर निर्णय लिया जाएगा।

कांग्रेस के लोगों को एकजुट करने आए हैं

बसपा से गठबंधन को लेकर भी प्रदेश स्तर पर ही निर्णय होगा। हम सभी कांग्रेस के लोगों को एकजुट करने आए हैं। जिसे विधायकदल के लोग अपना नेता चुनेंगे वहीं राहुल गांधी की सहमति से सीएम बनेगा। पहले प्रदेश में एमपी बोर्ड से परीक्षा पास करने वालों को ही नौकरी दी जाती थी, अब झारखंड और यूपी, बिहार से आकर लोग नौकरी कर रहे हैं और प्रदेश के युवाओं को नौकरी नहीं मिल पा रही है। उन्होंने कहा, मेरे समय बिजली संकट इसलिए आया था क्योकि तब प्रदेश के अधिकतर बिजलीघर छत्तीसगढ़ चले गए थे। अब सरकार निजी बिजलीघरों से बिजली खरीद रही है और सरकारी बिजली घरों को बंद कर रखा है। बिजली में बड़ा भ्रष्टाचार हो रहा है।

अवैध खनन में लगा सीएम का पूरा परिवार
दिग्विजय सिंह ने कहा, पूरे प्रदेश में अवैध उत्खनन हो रहा है। प्रदेश में सबसे ज्यादा अवैध उत्खनन सीएम के गांव जैत के आसपास हो रहा है। सीएम का पूरा परिवार अवैध खनन में लगा हुआ है। उन्होंने कहा, आज भाजपा के पुराने जनसंघ के जमाने के कार्यकर्ता भाजपा से ही नाराज हैं। आज भाजपा को कार्यकर्ताओं की जरूरत नहीं है। उसे जरूरत है ठेकेदारों की। दलालों की। अवैध खनन करने वालों की। आज भ्रष्ट अधिकारी, कर्मचारी और नेता भाजपा का संचालन कर रहे हैं। भाजपा का शासन देश की संवैधानिक संस्थाओं के कामकाज में हस्ताक्षेप कर रहा है। भाजपा का शासन न्यायिक प्रक्रिया में भी हस्ताक्षेप कर रहा है।

पीसी के दौरान पवई विधायक ने ली झपकी
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय की पीसी के दौरान जिले की पवई विधानसभा से विधायक और राष्ट्रीय प्रवक्ता मुकेश नायक कुछ समय के लिए झपकी लेते हुए नजर आए। करीब 5 मिनट तक वे सोते से नजर आए। अचानक मिडियाकर्मियों के कैमरे उनकी ओर मुडऩे पर पास में बैठे सत्यव्रत चतुर्वेदी ने उन्हें इसारा किया, इसके बाद विधायक नायक झपकी से वापस लौटे और चेहरे पर हल्की सी मुस्कान बिखेरी। हालांकि वे सम्हल पाते इससे पहले ही मिडियाकर्मियों के कैमरों में कैद हो चुके थे।

Show More
suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned