Diwali 2017: दिवाली तक रहेगा पुष्य नक्षत्र, 17 शुभ योगों के साथ तेरस को होगी धनवर्षा

suresh mishra

Publish: Oct, 13 2017 05:27:58 (IST)

Satna, Madhya Pradesh, India
Diwali 2017: दिवाली तक रहेगा पुष्य नक्षत्र, 17 शुभ योगों के साथ तेरस को होगी धनवर्षा

बाजार में रहेगा बूम: उम्मीदों का व्यापार, धनतेरस और दिवाली पर 17 शुभ योग

सतना। धनतेरस और दीपावली को महज कुछ ही दिन बचे हैं। नोटबंदी, जीएसटी सहित अन्य व्यापारिक समस्याओं को झेलने के बाद व्यापारी इन दोनों पर्व की तैयारी में जुट गए हैं। इस बार यह पर्व 17 शुभयोग लेकर आया है। दीपावली तक पुष्य नक्षत्र रहेगा। इस कारण व्यापारियों को अच्छा कारोबार होने की उम्मीद है।

सराफा, ऑटो मोबाइल, कपड़ा, इलेक्ट्रॉनिक, बर्तन, मोबाइल मार्केट में बेहतर बूम की उम्मीद है। कारोबारियों का आकलन है कि इस सीजन में साढ़े चार करोड़ से अधिक का व्यापार शहर में होगा।

पं. रामबहोर तिवारी ने बताया, अक्टूबर में खरीदारी के 17 शुभ योग ? हैं। 5, 7, 9, 11, 12 व 18 अक्टूबर को सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा। 6 अक्टूबर को अमृति सिद्धि योग बन चुका है। 13 को सुबह 7.46 बजे के बाद पुष्य नक्षत्र रहेगा। यह योग खरीदी के लिए बेहतर हैं।

त्योहारी सीजन में सराफा बाजार में उछाल
साराफा बाजार में बीते एक सप्ताह में सोना-चांदी के भाव में उतार- चढ़ाव दर्ज किया गया। शनिवार को एमसीएक्स बंद रहने के बाद खुले बाजार में सोना-चांदी के भाव में आंशिक तेजी रही है। शनिवार को सोना में 150 रुपए प्रति दस ग्राम व चांदी चार सौ रुपए किलो तेज रही है। बीते सप्ताह मंगलवार को सराफा बाजार खुला तो सोना 30, 200 रुपए प्रति दस ग्राम व चांदी स्थिर रही है। गुरुवार को सोना में पचास रुपए गिरावट रही, वहीं चांदी में 200 रुपए किलो की तेजी रही। शुक्रवार को सोना स्थिर रहा तो चांदी 400 रुपए प्रति किलो लुढ़की।

400 रुपए प्रति किलो चांदी में तेजी
शनिवार को सोना १५० रुपए प्रति दस ग्राम व चांदी 400 रुपए प्रति किलो तेज रही। सराफा कारोबारी अविश सराफ ने बताया कि वर्तमान में दोनों मूल्यवान धातुओं के भाव में हलचल जारी है। 12 अक्टूबर को अमेरिका के आर्थिक सर्वेक्षण के आंकड़े के बाद इसमें तेजी मंदी की संभावना है। उन्होंने बताया कि करवाचौथ का त्योहार होने से चांदी के आभूषणों की पूछ परख रही है। आने वाले दिनों में व्यापार में तेजी आने की संभावना है।

बर्तन
बर्तन विक्रेता विवेक गुप्ता का कहना है, समय के साथ व्यापार में कुछ परिवर्तन आया है। नोटबंदी का बाजार में असर है। धनतेरस व दीपावली को लेकर बाजार में दस दिन में पांच लाख से अधिक का व्यापार होने की उम्मीद है। स्टील के बर्तन की मांग को देखते हुए बाजार में रौनक है।

कपड़ा
जिलेभर में 1000 से ज्यादा दुकानें कपड़े की हैं। इस त्योहारी सीजन में 10 लाख से अधिक का कारोबार हो सकता है। कपड़ा व्यापारी राहुल मोडिया ने बताया कि रेडीमेड व्यापार में नई वेरायटी को अलग नजर से देखा जा रहा है। युवा वर्ग को देखते हुए व्यापार में तेजी की उम्मीद है।

सराफा
धनतेरस और दीपावली पर लगभग एक करोड़ रुपए का कारोबार होने की संभावना है। सराफा व्यापारी राजीव वर्मा का कहना है, सराफा बाजार शहरी व ग्रामीण ग्राहकी पर निर्भर है। आभूषणों की नई रेंज मंगाई है। दिवाली तक अच्छे व्यापार की उम्मीद है। जीएसटी में छूट का लाभ मिलने की आस है।

ऑटो
त्योहारी सीजन में 400 से ज्यादा दो पहिया वाहन तथा 20 से ज्यादा चार पहिया वाहन बिकने की संभावना है। एक माह में तीन करोड़ से ज्यादा के कारोबार की उम्मीद है। ऑटो मोबाइल व्यापारी आशीष पुरी ने बताया, वैरायटी देखने ग्राहक आने लगे हैं। यहां ग्राहक के लिए एक से बढ़कर एक वाहन हैं।

इलेक्ट्रॉनिक्स
इलेक्ट्रॉनिक सामान के विक्रेता अंकित सिंह का कहना है, जिलेभर में तीन हजार से अधिक दुकानें हंै। आगामी दिनों में दस से बीस लाख रुपए तक के कारोबार की उम्मीद है। इस वर्ष चाइना सामानों से व्यापारियों ने दूरियां बनाई हैं। इस कारण भारतीय इलेक्ट्रॉनिक सामान की बहार है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned