BJP की बीच बैठक में गुल हो गई बिजली, पसीना पोछते रहे नेता

जिला कार्यसमिति की बैठक, सदस्यता शुल्क जमा न होने पर मंडल अध्यक्षों को फटकार

 

By: Pushpendra pandey

Published: 12 Jul 2021, 02:15 AM IST

सतना. कोरोना काल में आर्थिक तंगी के बीच महंगाई की मार सिर्फ जनता पर ही नहीं, भाजपा कार्यकर्ताओं पर भी अपना असर दिखा रही है। लेकिन, भाजपा सरकार न तो आम जनता को राहत देने के मूड में है और न पार्टी कार्यकर्ताओं को। इसकी एक झलक रविवार को भाजपा जिला कार्यालय में आयोजित भाजपा जिला कार्यसमिति की बैठक में उस समय देखने को मिली, जब सदस्यता शुल्क का लक्ष्य पूरा न होने पर संगठन के पदाधिकारियों ने मंडल अध्यक्षों को फटकार लगाते हुए आजीवन सदस्यता शुल्क वसूली बढ़ाने के निर्देश दिए। हालांकि इस दौरान आमजनता को रुला रही बिजली ने भी अपना रुख दिखाया। बीच बैठक में बिजली गुल हो गई। इस कारण करीब १५ मिनट तक पदाधिकारी और कार्यकर्ता पसीना बहाते बैठे रहे।

जेब में अठन्नी नहीं, सदस्यता शुल्क कहां से लाएं
जिला समिति की बैठक में सदस्यता शुल्क वसूली का लक्ष्य मिलने से पदाधिकारियों का दर्द छलक उठा। एक पदाधिकारी ने अपनी पीड़ा व्यक्त कते हुए कहा कि कोरोना काल में लोगों के पास खाने के लिए रोटी नहीं है। महंगाई लोगों का दिवाला निकाल रही है। सदस्यों को पार्टी वेतन तो देती नहीं, एेेसे में महंगाई की मार झेल रहे सदस्य सदस्यता शुल्क कहां से देंगे। संगठन के पदाधिकारियों को यह समझना चाहिए। एक सदस्य ने कहा कि १०-२० रुपए की बात हो तो जमा करा दें। एक सदस्य को एक हजार रुपए की रसीद काटना है। इस महंगाई में कोई १०० रुपए देने को तैयार नहीं है।

पार्टी कार्यकर्ताओं को सेवाभाव का झुनझुना
भारतीय जनता पार्टी की जिला कार्यसमिति की बैठक जिला कार्यालय में दो सत्र में आयोजित की गई। इसमें मुख्य अतिथि के तौर पर पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष कांतिदेव सिंह रहे। अध्यक्षता जिलाध्यक्ष नरेन्द्र त्रिपाठी ने की। मुख्यवक्ता के तौर पर मध्यप्रदेश के खनिज मत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह रहे। पार्टी पदाधिकारियों से मुख्य अतिथि कांतिदेव सिंह ने कहा कि सत्ता हमारे लिए सेवा का माध्यम है। देश में जब भी संकट की स्थिति आती है, भाजपा कार्यकर्ता सेवा कार्य में जुटते हैं। जहां एक तरफ दूसरे दलों के नेता कोरोना के इस संकट में भ्रम और झूठ फैला रहे थे, वहीं दूसरी तरफ हमारे कार्यकर्ता पीडि़तों की सेवा में दिन-रात लगे रहते थे।

घर-घर जाएंगे पार्टी कार्यकर्ता
जिलाध्यक्ष नरेन्द्र त्रिपाठी ने कहा कि पार्टी की विचारधारा हम सबके लिए सबसे महत्वपूर्ण है। कोरोना संकट के दौरान कार्यकर्ताओं ने मरीजों एवं जनसामान्य की सेवा में लगातार काम किया। सभी मंडलों में सेवा ही संगठन के तहत कार्यक्रम चलाए गए। यही कारण है कि हमें अन्य राजनीतिक दलों से अलग देखा जाता है। बैठक में कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर तक घर-घर जाकर पार्टी की उपलब्धियों एवं योजनाओं से मतदाताओं को अवगत कराने की कार्ययोजना पर विचार किया गया। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष योगेश ताम्रकार, सांसद गणेश सिंह, मंत्री रामखलावन पटेल, प्रभाकर सिंह सहित जिले के सभी पदाधिकारी उपस्थित रहे।

बिजली ने कराई किरकिरी
भाजपा जिला कार्यसमिति की बैठक में उस समय असहज स्थिति निर्मित हो गई, जब संबोधन के दौरान बीच में बिजली गुल हो गई। कार्यालय में जनरेटर की व्यवस्था न होने से बैठक में शामिल पदाधिकारी व जनप्रतिनिधि १५ मिनट तक पसीना बहाते रहे। प्रदेश में सरप्लस बिजली पैदा होने एवं बिजली का कोई संकट न होने का दावा करने वाले पदाधिकारी भी बैठक में शामिल रहे, जो बिजली कट के दौरान गमझे से अपना पसीना पोछते नजर आए।

जोश और अनुभव का संगठन को मिलेगा लाभ
सांसद गणेश सिंह ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित राजनीतिक दल है। इसमें कार्यकर्ताओं को देवतुल्य की संज्ञा दी जाती है। जिला भाजपा संगठन की नवगठित कार्यकारिणी युवा, जोश व अनुभव से परिपूर्ण है। इसका लाभ जिला संगठन को मिलेगा। भाजपा ने इतने कम समय पर यदि राष्ट्रीय स्तर पर अपने आपको स्थापित किया है तो इसका श्रेय परिश्रमी कार्यकर्ताओं को जाता है। प्रधानमंत्री मोदी एवं मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में देश व प्रदेश विकास के नए आयाम स्थापित कर रहा है।

BJP's meeting
IMAGE CREDIT: patrika
Pushpendra pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned