छत्तीसगढ़ के हाथियों ने सिंगरौली में मचाया आतंक, 1 की मौत, 3 गंभीर, कलेक्टर और डीएफओ ने गांव में डाला डेरा

छत्तीसगढ़ के हाथियों ने सिंगरौली में मचाया आतंक, 1 की मौत, 3 गंभीर, कलेक्टर और डीएफओ ने गांव में डाला डेरा
elephant attack 1 dead and 3 serious in Singrauli district villagers

Suresh Kumar Mishra | Updated: 09 Oct 2019, 01:13:53 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

उर्ती गांव को बनाया निशाना, 12 से ज्यादा हाथी मौजूद, कई घरों को किया ध्वस्त

सिंगरौली/ मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिला अंतर्गत हाथियों के आंतक की बड़ी खबर आ रही है। बताया गया कि छत्तीसगढ़ बॉर्डर स्थित उर्ती गांव में बीती रात 12 की संख्या में मौजूद हाथियों ने जमकर कहर ढाया। पहले तो गांव में बने कच्चे मकान को निशाना बनाया। फिर कई घरों को ध्वस्त करते हुए एक ग्रामीण को कुचल दिया। हादसे में एक ग्रामीण की मौके पर मौत हो गई। वहीं तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए है।

ये भी पढ़ें: ट्रक-बोलेरो की भिड़ंत में 5 की मौत, 1 गंभीर, दशहरे की खुशियां मातम में पसरी

हाथियों के आंतक की खबर सुनकर बुधवार की सुबह कलेक्टर केवीएस चौधरी और डीएफओ विजय सिंह प्रभावित गांवों को दौरा कर हाथियों के झुंड को भगाने की रणनीति बनाई है। इधर मृतक ग्रामीण के शव को पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है। सूत्रों की मानें तो हाथियों के आंतक से गांव क्षेत्र की फसलों सहित कच्चे घरों को मिलाकर लाखों का नुकसान हुआ है। वहीं गंभीर घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कर उपचार दिया जा रहा है। ये मामला बैढऩ कोतवाली क्षेत्र के गोभा चौकी अंतर्गत का है।

ये भी पढ़ें: अंकल आपके पैसे गिर गए, मुड़ते ही 50 हजार रुपए से भरा बैग छुड़ाकर भागे बदमाश

elephant attack 1 dead and 3 serious in Singrauli district villagers
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika

ये है मामला
मिली जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ सीमा से सटी गोभा चौकी अंतर्गत उर्ती गांव में सोमवार को एक दर्जन से ज्यादा हाथियों ने दस्तक दी। हाथियों के झुंड ने सीमा पार करते हुए गांव में कहर ढाना शुरू किया तो आनन-फानन में वन विभाग को सूचना दी गई। जानकारी के बाद पहुंची वन विभाग की टीम ने वाइल्ड लाइफ नियमों के मुताबिक हाथियों के झुंड को छत्तीसगढ़ की ओर खदेड़ दिया। दूसरी बार मंगलवार की शाम हाथियों ने एक बार फिर प्रवेश किया। जब वन विभाग की टीम को सूचना दी गई तो वह तुरंत नहीं पहुंचे। ग्रामीणों ने सोचा कि जिस तरह वन विभाग ने हाथियों को खदेड़ दिया था। उसी तरह हम लोग भी कुछ करते है।

एक युवक पर टूट पड़े हाथी
बताया गया कि वन विभाग के नियमों को फलो करते हुए रामकृपाल पाल 35 वर्ष निवासी धोधा गांव के नेतृत्व में खदेडऩा शुरू किया। इसी बीच हाथियों का झुंड रामकृपाल का टूट पड़ा। देखते ही देखते एक दर्जन हाथियों ने रामकृपाल को पैरों से कुचल दिया। तीन अन्य लोगों ने रामकृपाल को बचाने की कोशिश की तो उनकों भी हाथियों ने पटक दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। आनन-फानन में पुलिस सहित वन विभाग को सूचना दी गई। बुधवार की सुबह कलेक्टर और डीएफओ, तहसीलदार, आरआई, पटवारी सहित आधा सैकड़ा वन अमला उर्ती गांव पर पहुंचा। जो मौका-मुआयना कर छतीपूर्ति का आंकलन लगा रहे है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned