रसिक मिजाजी पड़ी महंगी, महिला कर्मचारियों ने बीईओ को चप्पलों से पीटा देखें वीडियो-

विकासखंड शिक्षा अधिकारी (बीइओ) को अधीनस्थ महिला कर्मचारियों से अश्लील बातें करना पड़ा भारी, दफ्तर में ही महिलाओं ने चप्पल से पीटा, वीडियो वायरल..

By: Shailendra Sharma

Published: 28 Jul 2020, 08:47 PM IST

सतना. मैहर में पदस्थ रसिक मिजाज विकासखंड शिक्षाधिकारी (बीइओ) कमला प्रसाद वर्मा को रसिक मिजाजी महंगी पड़ गई और उनकी ही अधीनस्थ महिला कर्मचारियों ने उनकी दफ्तर में घुसकर चप्पलों से जमकर पिटाई कर दी। इतना ही नहीं बीईओ की पिटाई करने वाली महिला कर्मचारियों ने पूरी घटना का वीडियो भी बनाया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

 

satna_2.jpg

अश्लील बातें करने का आरोप
रसिक मिजाज बीइओ कमला प्रसाद वर्मा को पीटने वाली महिलाओं ने आरोप लगाया है कि बीइओ उनसे फोन पर अश्लील बातें करते हैं। पत्नी के बीमार होने की बात कहकर महिला कर्मचारियों पर सेवा करने का दबाव बनाते हैं और ऐसा न करने पर ट्रांसफर करने की धमकी देते थे, कुर्सी का रौब दिखाते हुए उनकी फाइल लौटा देता था और दबाव बनाता था। दोनों महिलाएं बीइओ की हरकतों से इस कदर परेशान हो गई थीं कि वो बीइओ के केबिन में पहुंची और उसकी चप्पलों से जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान दफ्तर के दूसरे कर्मचारी भी मौजूद थे लेकिन किसी ने भी महिलाओं को रोकने की कोशिश नहीं की, उल्टे जब बीइओ महिलाओं से छूटकर भागने की कोशिश कर रहा था तो उसे फिर से पकड़कर महिलाओं के पास धकेल दिया। दफ्तर में मौजूद कर्मचारियों ने बीइओ की पिटाई का वीडियो भी बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है। महिलाओं ने बीइओ की पिटाई करने के बाद एसपी को भी फोन लगाया लेकिन जब फोन नहीं उठा तो मैहर टीआई को फोन कर घटना की जानकारी दी।

देखें वीडियो-

 

रंगीन मिजाजी के कारण पहले भी हो चुकी है पिटाई
ये पहली बार नहीं है जब बीइओ कमला प्रसाद मौर्य की महिला कर्मचारी ने पिटाई की है। शिक्षा विभाग से जुड़े सूत्र बताते हैं कि इससे पहले भी जब कमला प्रसाद मौर्यय सज्जनपुर हायर सेकेंडरी एवं माधवगढ़ स्कूल में प्राचार्य थे तब एक महिला टीचर ने उनकी पिटाई की थी लेकिन विभाग के उच्चाधिकारियों ने मामले को दबा दिया था जिससे कमला प्रसाद मौर्य के हौसले बुलंद होते गए और मैहर बीइओ बनने के बाद भी उनकी हरकतें जारी रहीं। वहीं अब जब सोशल मीडिया पर बीइओ की पिटाई का वीडियो वायरल हो चुका है तो जिला शिक्षाधिकारी केएस कुशवाहा ने घटना को शर्मनाक बताते हुए कहा कि उन्हें भी सोशल मीडिया से घटना की जानकारी लगी है, मामले की जांच कराई जाएगी और यदि बीइओ जांच में दोषी पाए गए तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned