ICSE बोर्ड: 10वीं, 12वीं में छात्रों ने किया उम्दा प्रदर्शन, यहां पढ़िए पूरी लिस्ट

आईसीएसई बोर्ड में शत-प्रतिशत छात्रों ने हासिल किया प्रथम स्थान

By: suresh mishra

Published: 15 May 2018, 03:16 PM IST

सतना। सोमवार को घोषित आईसीएसई के 10वीं, 12वीं के परीक्षा परिणाम ने क्रिस्तुकला के शत-प्रतिशत छात्र-छात्राओं को खुश कर दिया। जहां 10वीं में 224 तो 12वीं में 100 बच्चों ने सफलता का परचम लहरा कर प्रथम स्थान हासिल किया। जिलेभर में आइसीएसी पैटर्न का यह इकलौता स्कूल है। बेहतर परीक्षा परिणाम आने पर विद्यालय प्रबंधन ने भी खुशी व्यक्त की है।

ये हैं 10वीं के टॉप थ्री
कक्षा दसवीं साइंस ग्रुप में 96 प्रतिशत अंक हासिल कर हार्दिक अग्रवाल टाप पर रहे। वहीं संस्कार केजरीवाल 94.83 अंक के साथ दूसरे, जबकि 94.67 अंक अर्जित कर आदित्य अग्रवाल तीसरे स्थान पर रहें। साथ ही कामर्स ग्रुप में आयुष जैन 87.83 अंक पाकर टॉप किया, प्रणिका अग्रवाल 86 प्रतिशत के साथ दूसरे और 79.86 अंक के साथ कुश शाह तीसरे स्थान पर रहे।

ये हैं 12वीं के टॉपर
कक्षा बराहवीं मैथ समूह से 93.20 प्रतिशत अंक के साथ आशुतोष पांडेय ने बाजी मारी है। दूसरे स्थान पर अर्चिता बागरी 92.60 प्रतिशत, तीसरे स्थान पर केतन रायजादा 89.60 प्रतिशत। वहीं बायो ग्रुप में वैष्णवी सिंह 91.6 प्रतिशत पाकर पहले पायदान पर रहीं। 90.40 प्रतिशत के साथ पारूल शुक्ला दूसरे, 88.60 प्रतिशत के साथ पुनीत नारायण तीसरे स्थान पर रहे, जबकि कामर्स समूह से सुमित पांडेय 92.80 प्रतिशत के साथ टाप पर रहे। 86.60 प्रतिशत पाकर प्रतीक मिश्रा दूसरे, 86.60 प्रतिशत के साथ पूर्वी गौतम तीसरे स्थान पर रहीं।

अपने रिजल्ट से खुश हूं। सिविल सर्विस मे जाना रुचि है। सभी के सहयोग से ही बेहतर परिणाम आया है। मैं अपने माता-पिता व शिक्षकों को इसका श्रेय देता हूं।
आशुतोष पांडेय

आआइटी की तैयारी मुंबई से करना चाहते हैं। सभी के सहयोग से परिणाम बेहतर आया है। जिसका श्रेय शिक्षक और माता-पिता को जाता है।
हार्दिक अग्रवाल

कोटा से आइआइटी करने की इच्छा है। मां घर में पढ़ाती थीं। ट्यूशन सर, स्कूल टीचर और माता-पिता सभी को इसका श्रेय जाता है।
संस्कार केजरीवाल

दिल्ली में कोचिंग करना है आइपीएस की। पुलिस अधिकारी बनने की शुरू से इच्छा रही है। मेहनत का फल मीठा होता है। शिक्षक, माता-पिता सभी को श्रेय देता हूं।
आयुष जैन

और बेहतर कर सकते थे। डॉक्टर बनने की चाहत है। आगामी शिक्षा जहां घर लोग बोलेंगे वहीं से करुंगा। सभी को श्रेय जाता है।
पुनीत नारायण त्रिपाठी

मैं कलेक्टर बनना चाहती हूं। सभी टीचरों का सहयोग और घर के सदस्यों का विश्वास साथ था, इसलिये बेहतर अंक आए।
पूर्वी गौतम

सीपीटी की तैयारी कर रहें हैं। स्कूल का बेहद सपोर्ट मिला, शिक्षक, माता-पिता का प्रमुख रोल था। आगे भी अच्छा करने का प्रयास करेंगें।
सुमित पांडेय

Show More
suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned