scriptKamal Nath performed Jalabhishek of Bholenath in Patparnath Dham | रैगांव उपचुनावः कमलनाथ ने पटपरनाथ धाम में भोलेनाथ का किया जलाभिषेक, फिर पहुंचे सभा में | Patrika News

रैगांव उपचुनावः कमलनाथ ने पटपरनाथ धाम में भोलेनाथ का किया जलाभिषेक, फिर पहुंचे सभा में

भोलेनाथ के दर्शन के बाद नाथ ने रैगांव चुनाव प्रचार का किया शुभारंभ

सतना

Published: October 20, 2021 01:26:14 am

सतना. मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भगवान भोलेनाथ के दर्शन के बाद रैगांव चुनाव प्रचार का शुभारंभ किया। कांग्रेस प्रत्याशी कल्पना वर्मा के समर्थन में उपचुनाव में अपनी पहली सभा को संबोधित करने से पहले उन्होंने सिंहपुर क्षेत्र के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल पटपरनाथ धाम पहुंच कर भगवान शिव का जलाभिषेक किया। इसके बाद उन्होंने सभा स्थल के पीछे बने अलग पंडाल में सेक्टर और मंडलम पदाधिकारियों की बैठक ली। इसके बाद चुनावी सभा को संबोधित किया।
रैगांव उपचुनावः कमलनाथ ने पटपरनाथ धाम में भोलेनाथ का किया जलाभिषेक, फिर पहुंचे सभा में
पटपरनाथ धाम में भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक करते कमलनाथ
मंदिर दर्शन बनता जा रहा चुनावी मुद्दा

रैगांव उपचुनाव में अब मंदिर दर्शन मुद्दा बनता जा रहा है। विगत दिवस भरजुना की चुनावी सभा के बाद बिना भरजुना देवी दर्शन के लौट गये शिवराज से जनता की नाराजगी को कांग्रेस अब भुनाने में जुट गई है। लिहाजा कांग्रेस के नेताओं के भाषण में यह मसला बड़ा मुद्दा बनता जा रहा है तो कमलनाथ ने चुनावी सभा की शुरुआत भोलेनाथ दर्शन के बाद करके अपनी ओर से भी इस मुद्दे को हवा दे दी है। इतना ही नहीं कमलनाथ का 23 अक्टूबर को जो दौरा बना है उसमें भरजुना की सभा रखी गई है और माना जा रहा है कि वे इस दिन भरजुना देवी के दर्शन करने भरजुना देवी मंदिर जाएंगे। उल्लेखनीय है शिवराज ने रैगांव उपचुनाव को लेकर अभी तक 6 बार यहां आ चुके हैं। लेकिन इस दौरान उन्होंने मंदिर में मत्था टेकने से परहेज किये रखा। दशहरे के दिन सोहावल की सभा के बाद वे कस्बे में घूमे भी लेकिन यहां के प्रसिद्ध दो अखाड़े तक नहीं पहुंचे। जबकि इन अखाड़ा आश्रमों के सामने से भी गुजरे। कांग्रेस ने इसे भी मुद्दा बना लिया है।
पदाधिकारियों को दिया जीत का मंत्र

कमलनाथ ने भोलेनाथ के दर्शन के बाद रैगांव विधानसभा के सेक्टर और मंडल पदाधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने कहा सामने मंच पर बैठे लोग न चुनाव हरा सकते हैं और न ही जिता सकते हैं। चुनाव आप लोग हरा या जिता सकते हो। नाथ ने कहा कि कांग्रेस तो पहले बहुत मजबूत रहती है लेकिन अंतिम के तीन दिनों में सब बिगड़ जाता है। इसलिए इस बार अंतिम के तीन दिनों में पूरी ताकत लगा दीजिए। समझाया कि प्रचार के अंतिम तीन दिन संभाल लिये तो सब ठीक रहेगा। इस दौरान म.प्र. विस के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा, पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल, लखन घनघोरिया, सईद अहमद, जिलाध्यक्ष दिलीप मिश्रा, विधायक नीलांशु चतुर्वेदी, सिद्धार्थ कुशवाहा, यादवेंद्र सिंह, ऊषा चौधरी, राजाराम त्रिपाठी सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। बैठक के बाद उन्होंने सभा को संबोधित किया। जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री पर रैगांव के विकास की अनदेखी के गंभीर आरोप लगाए। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज पर जमकर निशाना साधा कहा, शिवराज के कार्यकाल में विकास तो हुआ नहीं सिर्फ घोषणाएं ही बढ़ी हैं।
चुनाव के समय ही क्यों याद आता है कॉलेज

सभा को अन्य कांग्रेस नेताओं ने भी संबोधित किया। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि इससे बड़ा दुर्भाग्य क्या होगा कि जिस क्षेत्र की जनता ने भाजपा को 25 साल दिए, 17 से साल प्रदेश में भाजपा की सरकार है उसके बावजूद मुख्यमंत्री को चुनाव के दौरान कॉलेज जैसी बुनियादी सुविधाओं की घोषणा करनी पड़ रही है। इन्हें चुनाव के समय ही रोड कालेज क्यों याद आते हैं। पूर्व सांसद विवेक तनखा ने कहा कि जिस तरह से ऊषा चौधरी ने पहले उन्हें राज्य सभा में पहुंचाया था इस बार भी वे कांग्रेस को जिताएंगी। पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि रैगांव की जनता मुख्यमंत्री की झूठी घोषणाओं के झांसे में आने वाली नहीं है। विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा बिजली, महंगाई और विकास का मुद्दा जनता के सामने रखा। इस दौरान जिलाध्यक्ष दिलीप मिश्रा, पूर्व महापौर राजाराम त्रिपाठी, पूर्व विधायक यादवेंद्र सिंह, ऊषा चौधरी, रामगरीब वनवासी, मंजुल त्रिपाठी ने भी संबोधित किया।
ये रहे मौजूद

सभा के दौरान विधायक अजय टण्डन, संजय शर्मा, नरेश सर्राफ, प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष अर्चना जायसवाल, एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी पूर्व विधायक रामपुर रामलखन पटेल, अभय सिंह रोली, सुधीर सिंह तोमर, रामशंकर पयाशी, अजीत सिंह, गणेश त्रिवेदी, रवींद्र सिंह सेठी, गया बागरी, मनीष तिवारी, उर्मिला त्रिपाठी, जिला पंचायत उपाध्यक्ष रश्मि पटेल ब्लाक अध्यक्ष रामप्रताप उरमलिया, नलिनेन्द्र मिश्रा, प्रवीण सिंह, यतेंद्र सिंह,धर्मेश घई, पुष्पराज सिंह, गेंदलाल पटेल, अतुल सिंह परिहार, राजभान सिंह, प्रदीप समदरिया गीता सिंह सितपुरा, स्वतंत्र मिश्रा, अरुण तनय मिश्रा, शिवम सिंह, विकास सिंह भटगंवा, उपेंद्र सेन, आशुतोष तिवारी सहित अन्य मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.