जिसको मिलेगा पंजा चुनाव चिन्ह, वही होगा हम सबका प्रत्याशी: नेता प्रतिपक्ष

जिसको मिलेगा पंजा चुनाव चिन्ह, वही होगा हम सबका प्रत्याशी: नेता प्रतिपक्ष

suresh mishra | Publish: Jul, 13 2018 06:19:26 PM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India

नेता प्रतिपक्ष ने कांग्रेस के दावेदारों को दी हिदायत, कहा- कांग्रेस की सरकार नहीं बनी तो मेरा काम तो हो जाएगा, आप लोगों की कोई नहीं सुनेगा

सीधी। मध्यप्रदेश के नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल ने जवाहर कांग्रेस भवन में शुक्रवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक ली। बैठक के दौरान सीधी जिले की गतिविधि से वह कुछ खास संतुष्ट नजर नहीं आए, जिससे उनके तेवर तख्त दिखे। कई बार कांग्रेसियों को कई हिदायत भी दिए। सबसे ज्यादा कांग्रेस में टिकट के दावेदारों को आड़े हाथों लिया गया। कहा कि संगठन ने जिसे पंजा चुनाव चिन्ह दिया जाता है, वहीं हम सबका प्रत्याशी होगा, उसे जिताने के लिए हमे जी-जान से मेहनत करनी होगी, चाहे मुझे टिकट मिले या कमलेश्वर पटेल को। उनका सबसे ज्यादा ध्यान सीधी व धौहनी विधानसभा की सीट पर केंद्रित देखा गया, वहीं दोनों विधानसभा के लिए प्रभारियों की भी मौखिक नियुक्ती की गई। जिनके मार्गदर्शन में कार्यकर्ताओं को कार्य करने की हिदायत दी।

भैया हम लोगों की नगरसैनिक भी नहीं सुनते
अजय सिंह राहुल कार्यकर्ताओं को बता रहे थे कि यदि कांग्रेस नहीं आती तो हमारा काम नहीं रूकेगा, मेरा काम मुख्यमंत्री व प्रमुख सचिव घर आकर कर देगें लेकिन आप लोगों की कहीं सुनवाई नहीं होगी। इस बीच भीड़ से आवाज आई कि भैया हम लोगों की तो इस समय नगरसैनिक भी नहीं सुनते, तब नेता प्रतिपक्ष ने व्यंगात्मक लहजे में कहा कि अभी तो हम इतना नीचे नहीं उतरे हैं।

सीधी व धौहनी को करेंगें ये नेतृत्व
आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने सीधी व धौहनी विधानसभा सीट के लिए प्रभारियों की नियुक्ती की गई है। जिनके मार्गदर्शन में कार्य करने की हिदायत कार्यकर्ताओं को दी। सीधी विधानसभा के लिए कांग्रेस जिला अध्यक्ष रूद्रप्रताप सिंह बाबा, पूर्व अध्यक्ष आनंद सिंह चौहान, महामंत्री अरविंद तिवारी तथा धौहनी विधानसभा के लिए चिंतामणि तिवारी, आनंद सिंह शेर को प्रभारी बनाया गया है।

सीधी व धौहनी में दावेदारी की फौज
कांग्रेस में चुरहट व सिहावल विधानसभा सीट से टिकट की दावेदारी करने में दूसरे नेता हिम्मत नहीं जुटा पाते हैं। चुरहट से नेता प्रतिपक्ष तो सिहावल से कमलेश्वर पटेल की सीट फिक्स मानी जा रही है। इसी तरह भाजपा में धौहनी व सीधी विधानसभा सीट से खुलकर कोई बगावत करने या दावेदारी करने की हिम्मत नहीं कर पाता। लेकिन कांग्रेस में सीधी व धौहनी विधानसभा सीट से दावेदारों की भरमार लगी हुई है। कुछ दावेदारों ने तो गांव-गांव घूमकर चुनाव की तैयारियां भी शुरू कर दी गई है। जिसके कारण कार्यकर्ताओं में भी मनमुटाव बना हुआ है। जिसको दूर करने की भी हिदायत नेता प्रतिपक्ष ने दी।

Ad Block is Banned