Breaking: अमानती सामान घर के लॉकर ने उगले करेंसी साइज के पेपर, बड़ा नेटवर्क होने का खुलासा

मैहर रेलवे का मामला: आरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट संतोष लाल हंसदा ने मीडिया को दी पूरे मामले की जानकारी, आरपीएफ, जीआरपी और रेलवे के कर्मशियल विभाग ने की कार्रवाई।

सतना। मध्यप्रदेश के मैहर रेलवे स्टेशन के अमानती सामान घर के लॉकर ने करेंसी साइज के पेपर उगले है। बताया गया कि शनिवार सुबह से चल रही संदिग्ध चर्चाओं को शाम को उस समय विराम लग गया जब कटनी आरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट संतोष लाल हंसदा ने पूरे मामले की जानकारी मीडिया को दी। करेंसी वाले बैग की जांच आरपीएफ, जीआरपी और रेलवे के कर्मशियल विभाग की संयुक्त टीम ने मिलकर की है। मीडिया के सामने जो दिखाया गया है वह नोटों की साइज का करेंसी ब्लैंक पेपर है।

ये भी पढ़ें: हत्या कर कुएं में फेंका गया था शव, धड़ बरामद, आधा हिस्से की तलाश में पुलिस हलकान

कयास लगाए जा रहे है कि शातिर आरोपी इन कागजों को प्रिंट कर जाली नोट बना कर मार्केट में चला सकता था। लेकिन आरोपी को लॉकर से बैग निकालने का अवसर नहीं मिला और पूरे मामले की खुलासा हो गया। फ्री हाल मैहर जीआरपी ने मामला दर्ज कर आरोपी की खोजबीन शुरू कर दी है।

Maihar breaking : currency size paper found in Home locker
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika

क्या है करेंसी साइज के पेपर की कहानी
कटनी आरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट संतोष लाल हंसदा ने बताया कि तीन माह पहले बालक दास नाम का शख्स जो कि महाराष्ट्र के मनसा का निवासी है। वह लॉकर में एक बैग रखकर चला गया था। जब वह कई महीना नहीं लौटा तो रेलवे के अधिकारियों ने लॉकर के मामले की सूचना विभाग को दी। रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी ने आरपीएफ, जीआरपी और कर्मशियल विभाग की संयुक्त टीम बनाकर लॉकर की पड़ताल शनिवार सुबह से जारी की गई।

मैहर जीआरपी में मामला दर्ज
शुरूआती दौर में पैक बंडल को देखकर लगा कि सही में करेंसी है लेकिन जब लिफाफा खोला गया तो ब्लैंक पेपर मिले। हालांकि जो पेपर है वह करेंसी के आकार के ही दिख रहे है। लेकिन जब तक आरोपी से पूछताछ नहीं होती सही निष्कर्स नहीं निकल पाएगा। फ्री हाल मैहर जीआरपी ने मामला दर्ज कर लिया है। रेलवे अधिकारियों का दावा है कि आरोपी को लॉकर देने से पहले उसका आईडी प्रूफ और पीएनआर नंबर रजिस्टर्ड में दर्ज किया था।

suresh mishra
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned