डकैतों ने खोवा व्यापारी का आधी रात घर से किया था अपरहण, यूपी पुलिस मान रही कुछ और..

डकैतों ने खोवा व्यापारी का आधी रात घर से किया था अपरहण, यूपी पुलिस मान रही कुछ और..
manikpur kidnapping: dacoit kidnapped khova vyapari lost in chitrakoot

Suresh Kumar Mishra | Updated: 17 Aug 2019, 01:15:20 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

मानिकपुर के निही पंचायत की वारदात: उप्र पुलिस ने तराई में बढ़ाई चौकसी

सतना। मध्य प्रदेश की सीमा से सटे उत्तर प्रदेश के दस्यु प्रभावित इलाके से एक खोवा व्यापारी के अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मानिकपुर थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत निही के एक मजरा गांव से डकैत गिरोह ने गुरुवार की रात करीब नौ बजे खोवा बनाने वाले व्यापारी का अपहरण कर लिया। डकैतों ने बाहर से घर की कुंडी बंदकर परिवार के सदस्यों को अंदर कैद कर दिया। रातभर घर वाले व्यापारी के आने का इंतजार करते रहे। सुबह घटना की जानकारी मिलने पर एसओ मानिकपुर मौके पर पहुंचे। पुलिस ने कई संभावित ठिकानों पर दबिश भी दी। इसके बावजूद पुलिस अपहरण जैसी किसी भी घटना से इंकार कर रही है।

बताया गया, बरहा कोलान मजरा निवासी पाण्डेय परिवार से ताल्लुक रखने वाला खोवा व्यापारी घर में भट्ठी जलाकर खोवा तैयार कर रहा था। उसी दौरान दस्यु गिरोह उसके घर पहुंचा। गिरोह के दो असलहाधारी सदस्य घर के भीतर पहुंचे और व्यापारी को अपने साथ लेकर चले गए। डकैतों ने व्यापारी का फोन भी उसी समय ले लिया। जाते समय घर के दरवाजे की कुंडी बाहर से डकैतों ने बंद कर दिया ताकि परिवार का सदस्य बाहर निकलकर किसी को सूचना न दे सके। घर वाले रातभर व्यापारी के आने की राह देखते रहे पर वह सुबह तक वापस घर नहीं आया।

अपहरण से दहशत
अपहरण को लेकर पाठा समेत मानिकपुर कस्बे में दिनभर तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। पुलिस अपहरण की घटना से अनभिज्ञता जाहिर करने के बावजूद भी निही, बांसा पहाड़, टिकरिया सहित अन्य इलाकों में छह लाख के इनामी डकैत बबुली कोल के कई संभावित ठिकानों पर दबिश देती रही। क्षेत्र में दहशत का माहौल है। लोगों का कहना है कि मानिकपुर विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव को देखते हुए डकैत अभी से ही इलाके में दहशत फैलाने का काम कर रहे है।

शक की सुई बबुली पर
व्यापारी के अपहरण की वारदात को पुलिस भले ही सिरे से नकार रही हो, लेकिन इस वारदात को लेकर जिस तरह से उप्र पुलिस की गतिविधियां शुक्रवार को बीहड़ में नजर आई हैं उससे स्पष्ट हो रहा कि पाठा में कुछ न कुछ जरूर हुआ है। सूत्रों की मानें तो व्यापारी के अपहरण मामले में शक की सुई छह लाख के इनामी डकैत बबुली कोल पर ही जा रही है। कारण है कि इस इलाके में डकैत बबुली कोल गिरोह की ही चहलकदमी बनी रहती है।

डकैतों से संपर्क में परिजन
घटना की सूचना पाकर एसओ मानिकपुर केपी दुबे मौके पर पहुंचे। एसओ का कहना है कि सूचना पर गांव गए थे। यह पता चला है कि घर से नाराज होकर व्यापारी कहीं चले गए हैं। वहीं दूसरी तरफ सूत्रों की मानें तो व्यापारी के परिजन पुलिस के बगैर सहयोग के ही डकैतों से संपर्क साधकर उसे रिहा कराने के प्रयास में लगे हैं। घटना के बाद पूरा परिवार दहशत में है। खोवा व्यापारी की पत्नी की हालत काफी खराब हो गई है। उसका घर वाले अस्पताल में उपचार करा रहे हैं।

अपहरण जैसी किसी वारदात के होने की कोई जानकारी नहीं है। रोजाना की तरह पुलिस कॉम्बिंग कर रही है। डकैत बबुली कोल के संभावित ठिकानों में छापेमारी की जा रही है।
मनोज कुमार झा, एसपी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned