खाली एमसीएमसी कक्ष में बंद टीवी से हो रही निगरानी

न प्रभारी का पता न कर्मचारियों की कोई खबर,

एक व्यक्ति की कई जगह लगाई ड्यूटी

By: Ramashanka Sharma

Updated: 09 Apr 2019, 11:08 PM IST

सतना. चुनाव के दौरान पेड न्यूज के तहत मीडिया में प्रकाशित होने वाले विज्ञापन, समाचार तथ्यों की जांच के लिए जिलास्तरीय मीडिया सर्टिफिकेशन एण्ड मॉनीटरिंग कमेटी (एमसीएमसी) गठित की गई है। कमेटी आचार संहिता लागू होने के बाद से क्रियाशील हो जानी चाहिए। हालांकि अधिसूचना जारी होने के बाद यह प्रत्याशी के समाचारों की निगरानी और वैल्यूएशन करती है पर अधिसूचना जारी होने के पहले तक इसका काम अखबारों और चैनलों में एमसीसी (आदर्श आचार संहिता) की निगरानी करना होता है। सतना में यह प्रकोष्ठ भगवान भरोसे चल रहा है। न तो कोई कर्मचारी बैठता है और न यहां टीवी द्वारा स्थानीय चैनलों की निगरानी हो रही है। भुगतान के अभाव में सेट टॉप बाक्स चल नहीं रहे हैं। चौंकाने वाला तथ्य तो यह सामने आया कि एक कर्मचारी की कई-कई जगह ड्यूटी भी लगाई गई है। इससे वे परेशान घूम रहे हैं।
प्रकोष्ठ में 44 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इनका काम है अधिसूचना जारी होने तक मीडिया में एमसीसी के उल्लंघन की निगरानी करें। इसके बाद जैसे ही अधिसूचना जारी हो जाती है तो वह स्थानीय स्तर पर मीडिया में पेड न्यूज की निगरानी करें। अभी हालात यह है कि एमसीएमसी प्रकोष्ष्ठ कागजों में तो गठित है पर भौतिक रूप से यहां ज्यादातर कर्मचारी अपने तय समय पर उपस्थित नहीं हो रहे हैं। जबकि चार पालियों में ड्यूटी लगाई गई है।

तीन जगह ड्यूटी, कहां-कहां करें

मंगलवार को जब साढ़े चार बजे एमसीएमसी कक्ष की स्थिति देखी गई तो गिनती को दो-तीन लोग दिखे वो भी कैमरा देखकर खिसकते नजर आए। न तो यहां लगी टीवी में कुछ चल रहा था न ही कम्प्यूटरों में कुछ दिख रहा था। सभी कम्प्यूटर की स्क्रीन स्लीप मोड पर थी। पूछने पर बताया गया कि कार्मिक देख रहे लोगों की लापरवाही से इस बार लोगों की ड्यूटी में भारी गड़बड़ है। एक-एक कर्मचारी की तीन-तीन जगह ड्यूटी लगा दी गई है। लता सिंह की ड्यूटी मतदान दल, कम्युनिकेशन और एमसीएमसी में लगाई गई है। मिथलेश पाण्डेय की एमसीएमसी और मतदान दल में भी लगाई गई है। ललिता कुशवाहा, क्षमा द्विवेदी की एमसीएमसी व कम्प्युनिकेशन में, वंदना मिश्रा की एमसीएमसी और मतदान दल में ड्यूटी लगाई गई है। ड्यूटी सुधारने कहा भी जाता है तो कोई सुनने को तैयार नहीं है।
जल गए टीवी
जहां एमसीएमसी प्रकोष्ठ बनाया गया है वहां गर्मी की अधिकता बताई जा रही है। प्रकोष्ठ के लोगों ने बताया कि इस वजह से यहां दो टीवी और कुछ कम्प्यूटर फुंक चुके हैं।

Ramashanka Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned