नंबरों के लिए टीचर्स करते थे शिकायत, आज बिटिया मल्टीनेशनल कंपनी में

नंबरों के लिए टीचर्स करते थे शिकायत, आज बिटिया मल्टीनेशनल कंपनी में
mothers day specials

Jyoti Gupta | Publish: May, 12 2019 12:17:08 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

मां ने बेटी की खूबियों को पहचान कर दी हौसले को उड़ान

 

सतना. एक मां वंदना कटोच ने अपने बेटे को६० अंक प्राप्त करने पर बधाई दी। साथ ही सोशल मीडिया में बधाई संबंधी बेटे के नाम लेटर लिखा। हमारे शहर में भी वंदना कटोच जैसी एक मां है, जिसने बेटी की प्रतिभा को पहचाना। पुष्पराज कॉलोनी निवासी राखी होतचंदानी की बेटी शहर के एक अच्छे स्कूल की स्टूडेंट रही। जिस समय वह स्कूल में थी तो पढऩे में कमजोर रही। हमेशा उसके क्लास टीचर कम अंक आने की शिकायत करते थे। पर, राखी को कभी इससे फर्क नहीं पड़ा। उन्होंने अपनी बेटी रिया को कभी भी अच्छे माक्र्स के पीछे भागने नहीं दिया। जब रिया हाइस्कूल में थी तब उसके ७० प्रतिशत अंक आए। रिया के आसपास और स्कूल फ्रैंड भी रिया से काफी अच्छे अंक हासिल किए। इस दौरान रिया परेशान हुई और मां से कहा कि शायद वह कुछ अच्छा नहीं कर पाएंगी। तब राखी ने रिया को अपने पास बैठाया और बताया कि अच्छे माक्र्स लाना न तो अच्छे व्यक्तित्व की पहचान है न ही मंजिल पाने का रास्ता। तुम मस्त रहो, खुश रहो। आगे की पढ़ाई करो। जीवन में पढऩा जरूरी है। इसी बात की सकारात्मकता को अपने जेहन में बसाए हुए रिया ने आगे की पढ़ाई की। १२वीं में रिया ने ८० प्रतिशत अंक हासिल किए। इसके बाद इंदौर से बीकॉम आनर्स किया। नीट और कैट की तैयारी की, जिसको पास करने के बाद रिया को हैदराबाद के आइबीएम कॉलेज में दाखिला मिला। फाइनल में ही रिया का कैम्पस सिलेक्शन बेंगलूरु की मल्टीनेशनल कंपनी में हुआ है। फिलहाल रिया इस समय इंटर्नशिप कर रही हैं। इसके साथ ही वह मॉडलिंग के क्षेत्र में एक्टिव हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned