scriptNarayan issue raised in front of CM, Chitrakoot ticket also discussed | Satna BJP: सीएम के सामने उठा नारायण का मुद्दा, चित्रकूट के टिकट पर भी चर्चा | Patrika News

Satna BJP: सीएम के सामने उठा नारायण का मुद्दा, चित्रकूट के टिकट पर भी चर्चा

प्रदेश के शीर्ष नेतृत्व ने जिला कोर कमेटी के सदस्यों से की सीधी बात

संवाद बढ़ाने जिले में सशक्त होगी कोर कमेटी

अकेले नहीं लिए जा सकेंगे महत्वपूर्ण फैसले

सतना

Published: May 11, 2022 11:02:45 am

सतना. मिशन 2023 को लेकर भाजपा अब पूरी तरह से सक्रिय मुद्रा में आ गयी है। इसको लेकर तमाम रणनीतियां और कार्यक्रम बनने लगे हैं। इस बीच भाजपा प्रदेश कार्यालय में सतना जिले की कोर कमेटी की बैठक हुई। बैठक में न केवल संगठनात्मक मुद्दों पर चर्चा हुई बल्कि सत्ता और संगठन के समन्वय पर भी बात की गई। यह भी तय किया गया कि छोटे बड़े नेता और जनप्रतिनिधि लगातार संपर्क में रहेंगे। जिला अध्यक्ष या अन्य कोई अकेले महत्वपूर्ण संगठनात्मक फैसले नहीं ले सकेंगे। ऐसे मामले कोर कमेटी के संज्ञान में लाना अनिवार्य होगा। इस दौरान विधानसभावार स्थितियों पर भी रणनीतिक चर्चा की गई। जिसमें मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी के संबंध में बातें हुई तो रैगांव चुनाव की चर्चा के साथ ही चित्रकूट और नागौद के टिकट को लेकर भी बातें हुई। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सहित राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, सतना के प्रभारी मंत्री डॉ विजय शाह सहित अन्य शामिल हुए। इस बैठक में भाजपा के प्रदेश के शीर्ष नेतृत्व ने चुनावी तैयारी के पहले जिले की कोर टीम को एक्टीवेट करने सभी सदस्यों के साथ बैठकर काम काज की समीक्षा की। कोर कमेटी की बैठकों को लेकर सवाल दागे गये तो प्रवास पर जोर दिया गया। कहा गया कि जिलाध्यक्ष कम से कम जिले में 15 दिन का प्रवास करेंगे तो जिला प्रभारी 10 दिन और संभाग प्रभारी दो दिन का प्रवास जिले में करेंगे।
Satna BJP: सीएम के सामने उठा नारायण का मुद्दा, चित्रकूट के टिकट पर भी चर्चा
Satna BJP: Narayan's issue raised in front of CM, Chitrakoot ticket also discussed
जनप्रतिनिधि बैठेंगे 2 दिन जिला कार्यालय में

चुनावी तैयारी को देखते हुए शीर्ष नेतृत्व सत्ता और संगठन में बेहतर समन्वय चाह रहा है। इसको लेकर स्पष्ट कहा गया कि सप्ताह में दो दिन सांसद विधायक जिला भाजपा कार्यालय में अवश्य बैठेंगे। इसको लेकर कोर कमेटी के साथ जिले के प्रभारी मंत्री की बैठक में इस संबंध में और दिशा निर्देश तय किये गये। कोर कमेटी की बैठकें नियमित नहीं होने पर असंतोष जाहिर किया गया। तय किया गया कि कोर कमेटी नियमित बैठकें करके स्थानीय और प्रदेश स्तर के मुद्दों पर चर्चा और प्रस्ताव पारित कर जानकारी प्रदेश नेतृत्व को भेजेगी।
संभाग में सतना अव्वल

बैठक में समर्पण निधि के संबंध में चर्चा की गई। जिसमें पाया गया कि सतना जिला 1.65 करोड़ रुपये की निधि के साथ संभाग में सबसे ऊपर है। इसके बाद सिंगरौली ने 1.22 करोड़ रुपये, सीधी 60 लाख और रीवा ने 90 लाख रुपये जमा किये हैं।
पुराने कार्यकर्ताओं में उत्साह की कमी

इस बैठक में कोर कमेटी के सदस्य की ओर से पुराने कार्यकर्ताओं में उत्साह नहीं होने की बात कही गई। कहा गया कि निराशा का वातावरण है। पहले जैसा उत्साह नहीं दिख रहा है। इस पर सभी को साथ लेकर चलने की नसीहत दी गई। सत्ता संगठन के तालमेल पर जिले की स्थिति बेहतर बताई गई।
विधानसभावार हुई चर्चा

इस दौरान विधानसभावार स्थितियों पर भी चर्चा की गई। जिसमें रैगांव के संबंध में बात आई कि अपने ही लोगों को लगने लगा था कि दूसरे को श्रेय न मिल जाए उस हिसाब से काम किया। यह अच्छी बात नहीं है। इसमें सुधार लाना होगा। चित्रकूट के संबंध में कहा गया कि पहले से ही हिंट दे देना चाहिये। क्योंकि चुनाव के ऐन पहले जब प्रत्याशी तय होता है तो दूसरे लोग दावेदार सकारात्मक रुख नहीं अपनाते हैं। लिहाजा पहले से तय करना चाहिए ताकि काम उस तरह से हो सके। मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी पर भी चर्चा हुई। जिस पर कहा गया कि उनका तो स्पष्ट है कि वे पार्टी लाइन से अलग हैं। यह अलग है कि कुछ स्थितियों के चलते उन्हें पार्टी से निष्काषित नहीं किया जा सकता है। नागौद के संबंध में भी बात आई कि नागेन्द्र सिंह की उम्र को लेकर तमाम बयान उनके ही सामने आते रहते हैं। लिहाजा पार्टी को इस पर चिंता करनी चाहिए। सासद ने भी कहा कि जिले की तीन चार विधानसभाओं पर अभी से पार्टी को चिंता करनी होगी।
ये रहे मौजूद

इस बैठक में जिले की कोर कमेटी के सदस्य प्रदेशाध्यक्ष योगेश ताम्रकार, जिलाध्यक्ष नरेन्द्र त्रिपाठी, सासद गणेश सिंह, मंत्री रामखेलावन पटेल, विधायक रामपुर विक्रम सिंह, महामंत्री प्रतिमा बागरी, पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह बघेल, विनोद यादव सहित अन्य मौजूद रहे। कोर कमेटी की बैठक के बाद देर शाम जिले के प्रभारी मंत्री विजय शाह के साथ कोर कमेटी सदस्यों की पृथक से बैठक हुई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.