गर्मियों में फायदेमंद सनस्क्रीन

नेशनल सनस्क्रीन डे: सूर्य की हानिकारक किरणों के साथ ही सनबर्न से भी बचाती यह क्रीम

 

By: Jyoti Gupta

Published: 27 May 2019, 09:47 PM IST

सतना.गल्र्स ब्यूटी और अपनी स्किन को लेकर बहुत ही केयरिंग हैं। शहर ही नहीं बल्कि आसपास की विलेज की गल्र्स अपनी स्किन को लेकर बेहद सजग रहती हंै। शायद यही वजह है कि शहर में सनस्क्रीन की डिमांड पहले की अपेक्षा काफी बढ़ गई है। एक जनरल स्टोर के मैनेजर ने बताया कि आज से दो साल पहले सनस्क्रीन शहर के प्रमुख दुकानों में ही मिलती थी पर आज हर छोटी-बड़ी दुकानों में हर कंपनी की सनस्क्रीन अबेलेवल होती है। लगभग ४० प्रतिशत तक ब्यूटी प्रोडेक्ट के तहत सनस्क्रीन की सेलिंग बढ़ गई है। पहले जहां माह में १५ या बीस गल्र्स, महिलाएं सनस्क्रीन की मांग करती थी अब हर दिन इसकी खरीदारी गल्र्स, वीमन कर रही हैं। सबसे बड़ी बात यह कि गल्र्स के साथ-साथ बॉयज भी इन सनस्क्रीन का धड़ल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके फायदे को देखते हुए गर्मी तो गर्मी सर्दियों में भी इसकी मांग की जा रही है। स्किन एक्सपर्ट डॉ. पुनीत अग्रवाल कहते हैं कि सनस्क्रीन सिर्फ धूप से नहीं बचाती, बल्कि स्किन के लिए भी कई तरह से फ ायदेमंद है।

चेहरे पर आता है हेल्दी ग्लो

एक्सपर्ट का कहना है कि सुबह घर से बाहर निकलते वक्त स्किनकेयर का ध्यान रखना इसलिए भी जरूरी है ताकि दिनभर आपकी स्किन को वातावरण से होने वाले नुकसान से बचाया जा सके। सनस्क्रीन लगाने से स्किन की बाहरी लेयर प्रोटेक्टेड रहती है और चेहरे पर हेल्दी ग्लो आता है। अगर आप ऐसी क्रीम या प्रोटेक्शन का इस्तेमाल नहीं करतीं हैं जो आपकी स्किन को सूर्य की हानिकारक यूवी किरणों से बचाता है तो आपकी स्किन निश्चित तौर पर ड्राई होकर डैमेज हो जाएगी। इसलिए जब भी धूप में बाहर निकले सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूर करें।

मुंहासे का दाग होगा दूर
आपके चेहरे पर अक्सर कील-मुंहासे निकल आते हैं और मुंहासे ठीक होने के बाद उनका दाग रह जाता है तो इस परेशानी में सनस्क्रीन आपके काम आ सकती है। डॉ. देवेश अग्रवाल की मानें तो इस समस्या को पोस्ट ऐक्ने हाइपर पिग्मेंटेशन कहते हैं। अगर आप नियमित रूप से सनस्क्रीन फेस पर लगाती रहेंगी तो कील-मुंहासे के दाग से छुटकारा पाना आसान हो जाएगा।

-------------------
फेस पर आएगी नैचुरल ब्यूटी

हेल्दी स्किन में मौजूद कोलाजन, केराटिन और इलास्टिन जैसे इसेंशल स्किन प्रोटीन को सुरक्षित बनाए रखने और मेनटेन रखने में भी सनस्क्रीन आपकी मदद कर सकता है। ये वे इसेंशल प्रोटीन हैं जो स्किन को स्मूथ और ग्लोइंग बनाने में मदद करते हैं। स्किन की नैचरल ब्यूटी बनाए रखने में टाइटेनियम ऑक्साइड बेहद फ ायदेमंद है। लिहाजा ऐसा सनस्क्रीन यूज करें जिसमें टाइटेनियम ऑक्साइड मौजूद हो।

प्राइमर की तरह करता है काम
सनस्क्रीन प्राइमर की तरह भी काम करता है और यह फेस पर फ ाइन लाइन्स, ड्राइनेस और ब्राउन स्पॉट्स को दूर करने में मदद करता है। स्किन की अलग-अलग प्रॉब्लम्स से निपटने के लिए आपको क्रीम की जरूरत होती है। लिहाजा, सनस्क्रीन यूज करना एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है।

इस तरह करें अप्लाई

- जब भी घर से बाहर निकलने के लिए त्वचा पर सनस्क्रीन लगा रही हों, तो सीधे सनस्क्रीन न लगाएं। पहले मॉइस्चराइजर लगाएं फि र सन प्रोटेक्टेंट लगाएं।
- घर से बाहर निकलने के बीस मिनट पहले सनस्क्रीन लगाएं, ऐसा इसलिए क्योंकि सनस्क्रीन में मौजूद तत्वों को सक्रिय होने में कम से कम बीस मिनट लगते हैं।


स्किन के अकॉर्डिंग खरीदें सनस्क्रीन

१. सेंसेटिव स्किन

सेंसेटिव स्किन के लोगों को मिनरल सनस्क्रीन खरीदना चाहिए, जिसमें जिंक ऑक्साइड और टाइटेनियम डाइऑक्साइड हो। अगर आपकी स्किन ड्राई और सेंसेटिव है तो अपने लिए क्रीमी सनस्क्रीन चुनें। वहीं ऑइली और सेंसेटिव स्किन वाले जेल बेस्ड सनस्क्रीन खरीदें। कोशिश करें की खरीदी गई सनस्क्रीन ज्यादा केमिकल बेस्ड न हो।

२. ऑइली स्किन
ऑइली स्किन वाले जब सनस्क्रीन लें तो देखें कि उसमें ग्रीन टी एक्ट्रैक्ट, बेओबैब ऑइल, एलकार्निटिन और निकोटिनैमाइड हो। ये चीजें स्किन को प्रटेक्ट और ब्राइट बनाने के साथ ही उसे ऐक्ने से बचाती है।

३. ड्राई स्किन

ड्राई स्किन वाले मिनरल या केमिकल सनस्क्रीन खरीद सकते हैं। मिनरल सनस्क्रीन लगाते ही असर दिखाना शुरू कर देती है। ड्राई स्किन वालों के लिए मॉइस्चराइजिंग सनस्क्रीन भी अच्छी है। ड्राई स्किन पर रिंकल्स भी जल्दी जा जाते हैं इसलिए ऐसी सनस्क्रीन चुनें जिसमें ऐंटीऑक्सिडेंट्स और विटमिन सी व इ भी हों।

Jyoti Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned