फीस मांगने वाले निजी स्कूल को जारी होगी नोटिस

अभिभावक संघ ने जिला शिक्षाधिकारी से मुलाकात कर सौंपा ज्ञापन

By: Pushpendra pandey

Published: 22 May 2020, 07:35 PM IST

सतना . लॉकडाउन के दौरान अभिभावकों को मैसेज कर फीस जमा करने का दबाव बना रहे निजी स्कूल संचालकों को शिक्षा विभाग नोटिस जारी करेगा। इतना ही नहीं, शासन के निर्देशानुसार स्कूलों में एनसीईआरटी की किताब चलाने सभी निजी विद्यालायों को गाइड लाइन भी जारी की जाएगी। यह बात गुरुवार को अभिभावक संघ के पदाधिकारियों से चर्चा करते हुए डीईओ टीपी ङ्क्षसह ने कही।
दरअसल, पत्रिका द्वारा प्रकाशित खबरों को आधार बनाते हुए अभिभावक संघ के पदाधिकारियों ने गुरुवार को जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय पहुंच कर निजी विद्यालयों द्वारा अभिभावकों पर फीस जमा करने के बनाए जा रहे दबाव की लिखित शिकायत की। मांग की गई कि लॉकडाउन गर्मी में सभी स्कू ल बंद हैं। इसलिए ट्यूशन फीस माफ कराई जाए। निजी विद्यालय अभिभावकों पर फीस जमा करने का दबाव न बनाएं। कॉन्वेंट स्कूल हर साल किताब बदल देते हैं, उनकी इस मनमानी पर रोक लगाई जाए। निजी प्रकाशकों की किताब बिक्री के नाम पर कमीशन का खेल बंद हो। एक बोर्ड से जुड़े सभी विद्यालय में एक प्रकाशक की किताबंे चलाई जाएं। इससे अभिभावकों को हर स्टेशनी में किताब मिल सकेगी। यदि यह व्यवस्था लागू होगी तो अभिभावकों को महंगी किताब खरीदने से राहत मिलेगी। ज्ञापन सौंपने वालों में अभिभावक संघ के संरक्षक गुलाब सोनी, अध्यक्ष विजय देवसेना, उपाध्यक्ष राजललन सिंह एवं नीतू मिश्रा शामिल रहे।

नहीं होने देंगे लूट
अभिभावक संघ के अध्यक्ष विजय देवसेना ने कहा, निजी विद्यालय संकट की इस घड़ी में मानवतावादी व्यवहार नहीं कर रहे। संघ की ओर से सभी निजी विद्यालयों से अपील की जाती है कि लॉकडाउन के दौरान परेशान अभिभावकों का सहयोग करंे। ऑनलाइन फीस एवं किताब में कमीशन का खेल बंद हो। जिससे आम परिवार अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दे सके।

Pushpendra pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned