अब दादा-दादी को पोते पढ़ाएंगे ककहरा

अब दादा-दादी को पोते पढ़ाएंगे ककहरा

Suresh Kumar Mishra | Publish: Feb, 23 2016 01:53:00 AM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India

आदर्श गांव पालदेव और अबेर में साक्षरता लाने के लिए शुरू की गई कवायद, जिला प्रौढ़ कार्यालय की पहल


विवेक मिश्र@ सतना
साक्षर भारत अभियान के तहत आदर्श गांव पालदेव और अबेर को साक्षर बनाने के लिए अब निरक्षर दादा-दादी को पोते लिखना-पढऩा सिखाएंगे। ताकि वे शिक्षित वर्ग में अपनी उपस्थिति दर्ज करा सकें। जिला प्रौढ़ कार्यालय की पहल पर 10वीं व 12वीं के छात्र-छात्राओं ने आगे आकर प्रतिदिन प्रौढ़ निरक्षरों को पढ़ाने की इच्छा जाहिर की है। अफसरों की ओर से की गई सकारात्मक पहल के परिणाम दिखने की आस जगी है।

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर द्वारा गोद लिए गए पालदेव आदर्श ग्राम में 440 निरक्षर दर्ज हैं। इसमें 190 महिलाएं व 250 पुरुष हैं। वर्तमान समय में 440 निरक्षरों में महज 50 लोग ही साक्षरता की सूची में दर्ज हो सके हैं, जबकि 390 निरक्षर यानी 88 फीसदी को अभी भी साक्षर होने का इंतजार है।

सांसद गणेश सिंह  द्वारा गोद लिए गए आदर्श ग्राम अबेर में 208 निरक्षर हैं। यहां पर 83 महिलाएं व 125 पुरुष हैं। इसमें से कुल 45 लोग ही ककहरा पढऩा सीख सके हैं। जबकि अभी भी यहां 163 यानी 80 फीसदी निरक्षरों को साक्षरता की सूची में शामिल होना बाकी है।

परीक्षा 20 मार्च को
जिले में 20 मार्च को नवसाक्षर परीक्षा का आयोजन कराया जाना है। आदर्श ग्राम सहित जिले के सभी ग्राम पंचायत स्तर पर परीक्षा होने की तैयारी की जा रही है। अभी एक माह का समय है, स्वयंसेवकों को टीचिंग लर्निंग मैटेरियल (टीएलएम) देकर पढ़ाने की प्रक्रिया समझाई जा रही है।

साक्षरता लाने का लिया संकल्प
रामपुर बाघेलान के आदर्श ग्राम अबेर में 12वीं पास ज्ञानेंद्र आदिवासी, नरेंद्र, इंद्रजीत, चेतना सिंह , पुष्पराज सिंह , अजय कुमार गुप्ता, प्रभा सिंह , प्रतिमासिंह , पूनम सिंह , गायत्री विश्वकर्मा, मनीषा कुशवाहा, नेहा सिंह, धनराज कुशवाहा, अमित
सिंह, सुशीला कुशवाहा, श्रीचंद प्रजापति, 10वीं पास बबली सिंह, शिवानी मिश्रा, बीए उत्तीर्ण नीलम साकेत, मनोज साकेत, हरिप्रकाश, सरोज, बीकॉम उत्तीर्ण सीमा सिंह  सहित 23 स्वयंसेवकों ने साक्षर लाने का संकल्प लिया है।

आदर्श ग्राम पालदेव में कायादेवी, रेखा पटेल, महरुम, कमलेश रवि, राममिलन अनुरागी, बुद्धविलास अनुरागी, अनुसुइया प्रसाद, आरती देवी, रतना पटेल, पूजा देवी, ओमकार रवि, राजू प्रसाद, बच्चीलाल, राजू प्रसाद व रिंकू पटेल द्वारा पहल की जा रही है।

स्वयंसेवकों को देंगे प्रमाण-पत्र
जिला लोकलेखा समिति अधिकारी अंजना श्रीवास्तव बताती हैं, आदर्श ग्रामों को साक्षर बनाने के लिए उच्चाधिकारियों का खासा दबाव बना हुआ है। प्रेरकों को समय पर वेतन न मिलने से उन्होंने त्यागपत्र दे दिया है। अब स्वयंसेवकों की टोली तैयार कर उन्हें अध्यापन कार्य कराने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। बड़ी संख्या में विद्यार्थी व स्नातक उत्तीर्ण छात्रों ने पढ़ाने के लिए सहमति जताई है। ऐसे स्वयंसेवकों को प्रमाणपत्र देकर प्रोत्साहित किया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned