पान थूकने बस की खिड़की से निकाली गर्दन और गवानी पड़ी जान

 पान थूकने बस की खिड़की से निकाली गर्दन और गवानी पड़ी जान
satna news

बस की खिड़की से सिर निकलना किशोर को पड़ा महंगा, बगल से निकल रहे ट्रेलर ने की चपेट में आने से दर्दनाक मौत, मैहर- अमरपाटन रोड़ की घटना।


सतना। मैहर- अमरपाटन एनएच-7 में सोमवार की दोपहर बस की खिड़की से किशोर को पान थूकना महंगा पड़ गया। उसे इसकी कीमत अपनी जान से हाथ गवाकर चुकाना पड़ा। रीवा से मैहर जाने वाली बस एमपी 17 पी 0377 में एक किशोर यात्रा कर रहा था।

अमरपाटन से जैसे ही बस मैहर के लिए रवाना हुए खिड़की के किनारे बैठे किशोर यात्री ने पान थूकने के लिए गर्दन बाहर निकाली। तभी पीछे से आ रहे ट्रेलर ने बस को ओवरटेक करते हुए बगल से निकलते हुए यात्री की गर्दन को चपेट में लेते हुए आगे निकल गया।

घटना होते देख चालक ने बस रोकी और आनन-फानन में घायल यात्री को अमरपाटन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया। यहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

ये भी पढ़ें: जब वैश्या ने गाया राष्ट्र गीत, तब झंडे को सलाम करने उमड़ पड़ी भीड़

खिड़की में नहीं थी रेलिंग
आरटीओ के नियमों की बात की जाए तो बस की खिड़कियों में रेलिंग होना आवश्यक है। लेकिन बस संचालक पैसे कमाने के धुन में नियमों की धज्जियां उड़ाने से बाज नहीं आते। जिले में चल रहे अधिकांश बसों की खिड़की में रेलिंग नहीं लगी है। जिसे बस में यह घटना हुई है उसमें भी रेलिंग नहीं लगी हुई थी। अगर रेलिंग लगी होती तो यात्री को अपनी जान से हाथ न धोना पड़ता।

ये भी पढ़ें: MP: विंध्य में बाढ़ के हालात, रीवा के 12 मोहल्ले जलमग्न, 1 लाख लोग प्रभावित

इन बातों का रखे ध्यान
- बस में यात्रा करते समय बच्चों को खिड़की किनारे ने बैठाएं।
- बस की खिड़की में अगर रेलिंग नहीं लगी हो तो उसे बंद ही रहने दे।
- बस में यात्रा के दौरान किसी प्रकार का धम्रपान व नशा न करे।
- अगर वाहन में भीड़ है तो उस पर यात्रा न कर दूसरे वाहन का इंतजार करे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned