रास्ते में यात्री ने दम तोड़ दिया, ट्रेन रुकवा कर उतारा शव

पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा, तीन घंटे खड़ी रही मझगवां में ट्रेन

By: Dhirendra Gupta

Published: 12 May 2020, 12:58 AM IST

सतना. पुणे से प्रयागराज के लिए रवाना हुई ट्रेन 01960 में एक नौजवान यात्री की मौत हो गई। सतना रेलवे स्टेशन से ट्रेन छूटने के बाद उसे पश्चिम मध्य रेल के मझगंवा स्टेशन में रोका गया। जहां जीआरपी, आरपीएफ, जिला पुलिस बल और चिकित्सा दल की मौजूदगी में शव ट्रेन से उतार गया। इस बीच मझगवां में यह स्पेशल ट्रेन 6.25 बजे से रात 9.25 बजे तक तीन घंटे तक खड़ी रही। इसके बाद मझगवां से प्रयागराज के लिए ट्रेन रवाना हो सकी। मृत यात्री का नाम अखलेश सिंह राणा पुत्र राम वसामन राणा निवासी मौहारी थाना नबावगंज जिला गोंडा उत्तर प्रदेश बताया गया है। यह बात सामने आई है कि सतना स्टेशन में ही यात्री की मृत्यु की सूचना मिल गई थी। यहां रेल स्टाफ ने जीआरपी को सूचना दिए बिना ही ट्रेन को सिग्नल दे दिया। स्टेशन प्रबंधन का कहना है कि सतना से ट्रेन जब उचेहरा पहुंची तब उन्हें मृत्यु के बारे में पता चला एेसे में रेलवे कंट्रोल रूम सूचना दी गई। जब जोन स्तर पर इस घटना की सूचना पहुंची तो रेल अमला हरकत में आया। जिसके बाद मझगंवा के लिए सतना जीआरपी प्रभारी संतोष तिवारी ने से सहायक उप निरीक्षक सुरेश उपाध्याय को पुलिस बल के साथ रवाना किया। मझगवां में थाना प्रभारी ओपी सिंह की मदद से जीआरपी ने पंचनामा कार्रवाही की है। शव के साथ मृतक के परिचित जय प्रकाश ठाकुर और त्रिभुवन सिंह ट्रेन से उतरे हैं। मृतक के परिजनों को सूचना दी गई है जो मंगलवार की सुबह तक सतना पहुंचेगे। जीआरपी का कहना है कि मृतक के परिचितों ने बताया है कि ट्रेन में सवार होने पर अखलेश स्वस्थ्य था। कटनी के बाद अचानक उसकी तबीयत बिगड़ी और फिर मृत्यु हो गई। मझगवां की डॉक्टर टीम ने शव को जिला अस्पताल रेफर किया है। शव सतना लाने के लिए एम्बुलेंस का घंटों इंतजार करना पड़ा। सतना से ही एम्बुलेंस गई तब शव लाया जा सका।

Show More
Dhirendra Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned