मंत्री की बैठक बिजली गुल तो BJP सांसद बोले- मंत्रीजी या तो कांग्रेस रह सकती है या बिजली; दोनों साथ नहीं

मंत्री की बैठक बिजली गुल तो BJP सांसद बोले- मंत्रीजी या तो कांग्रेस रह सकती है या बिजली; दोनों साथ नहीं

Pawan Tiwari | Publish: Jun, 23 2019 10:54:33 AM (IST) | Updated: Jun, 23 2019 11:18:30 AM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

  • मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से लगातार बिजली कटौती हो रही है।
  • कई मंत्रियों की बैठक में भी बिजली कट हो चुकी है। खुद मुख्यमंत्री कमल नाथ और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह भी बिजली कटौती की समस्या का सामना कर चुके हैं।

सतना. मध्यप्रदेश में अघोषित बिजली कटौती के कारण आम लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तो दूसरी तरफ कमलनाथ सरकार के मंत्री भी बिजली कटौती से परेशान हैं। सतना जिले में मध्यप्रदेश सरकार के सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री और सतना जिले के प्रभारी मंत्री लखन घनघोरिया जिला योजना समिति की बैठक में पहुंचे। इस दौरान यहां बिजली गुल हो गई जिस कारण कांग्रेस सरकार की जकर किरकिरी हुई।

 

बिजली विभाग की समीक्षा ने गुल हुई लाइट
मंत्री लखन घनघोरिया विभागवार योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने जैसे ही बिजली विभाग की समीक्षा शुरू की वैसे ही बिजली गुल हो गई। बिजली गुल होने के बाद मंत्री लखन घनघोरिया असहज दिखे।

भाजपा सांसद ने कंसा तंज
इस बैठक में भाजपा सांसद गणेश सिंह भी मौजूद थे। बिजली विभाग की समीक्षा के दौरान जैसे ही लाइट गई सांसद गणेश सिंह ने कहा- मैंने पहले ही कहा है कि प्रदेश में या तो कांग्रेस रह सकती है या बिजली पर दोनों साथ में नहीं रह सकते हैं।

 

 

इसे भी पढ़ें- हार के बाद विपक्ष छुट्टी मना रहा, हम ऐतिहासिक जीत के बाद 2024 की तैयारी में; इन राज्यों पर फोकस: शिवराज

विधायक ने कहा- लाइट के लिए भाजपा सरकार जिम्मेदार
इस बीच बैठक में मौजूद सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा ने स्थिति को संभालते हुए भाजपा की पूर्व सरकार पर आरोप लगाया। सिद्धार्थ कुशवाहा ने कहा- बीजेपी के शासनकाल में जो खंभे और तार खींचे गए थे उसमें गड़बड़ी हुई थी जिस कारण से बिजली गुल हो रही है। भाजपा के शासनकाल की गड़बड़ी अब सामने आ रही है।


सीएम भी कर चुके हैं बिजली कटौती का सामना
मध्यप्रदेश में हो रही अघोषित बिजली कटौती का सामना खुद मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कमल नाथ ( Kamal Nath ) भी कर चुके हैं। लोकसभा ( LOk sabha )चुनाव के दौरान सीएम कमलनाथ छिंदवाड़ा में बिजली कटौती का सामना कर चुके हैं। तो भोपाल के बिजली अधिकारियों ने ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह को बिजली कटौती का कारण चमगादड़ों को बताया था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned