प्रैक्टिकल के नंबर अब हुए ऑनलाइन

प्रैक्टिकल के नंबर अब हुए ऑनलाइन

Suresh Kumar Mishra | Publish: Feb, 01 2016 02:20:00 AM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India


सतना
स्कूलों के साथ स्टूडेंट्स को हाईटेक बनाने के लिए अब सीबीएसई भी डिजिटल सर्विसेस के इस्तेमाल की तैयारी में जुट गया है। परीक्षाओं से लेकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन तक के लिए अब ऑनलाइन सर्विसेस को यूनिक कंसेप्ट के साथ लांच किया जा रहा है। इसमें सीबीएसई, सीआईएसई भी हर ऑनलाइन फ ीचर्स को तेज और बेहतर बनाने की कोशिश कर रहे हैं। ई-इंटरेक्शन के जरिए सीबीएसई को डिजिटिलाइज किया जा रहा है। आने वाले समय में बोर्ड परीक्षाआें से लेकर ई-पाठशाला जैसे कंसेप्ट एजुकेशन सिस्टम को और भी हाईटेक बना देंगे ।

एक्सपर्ट के अनुसार, काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन के बोर्ड एग्जाम में भी अब डिजिटल मार्किंग होगी। आईसीएसई 10वीं और आईएससी 12वीं की आंसरशीट की जांच के बाद नंबर को भी डिजिटली सेव किया जा सकता है। इसके लिए सीबीएसई खासतौर पर लाइव इंक कैरेक्टररिकग्निशन एलआईसीआर का इस्तेमाल करेगा। अंसरशीट की जांच के बाद फैकल्टी, स्टूडेंट्स के नंबर को डिजिटली सेव कर पाएंगे। यह नंबर सीधे सर्वर के जरिए रियल टाइम ट्रांसफर करना भी काफी आसान होगा और यह ऑटोमैटिक सेंट्रल डेटाबेस में सेव हो जाएगा। सभी विषयों के नंबर का जोड़ और रिजल्ट भी आसानी से बनाया जा सकता है। एलआईसीआर टेक्नोलॉजी के लिए डिजिटल पेन, टेबलेट और अंसरशीट के कवर पन्ने पर स्पेशल प्रिंटेड पेपर का इस्तेमाल होता है।

ऑन स्क्रीन मार्किंग सर्विस का ट्रॉयल

सीबीएसई भी अंसरशीट चेक करने के लिए ऑन स्क्रीन मार्किंग सर्विस का ट्रायल कर रही है। इसमें 12वीं और 10वीं के स्टूडेंट्स की अंसरशीट को डिजिटल लाइब्रेरी से जांचा जाएगा। अंसरशीट को डिजिटल लाइब्रेरी में सेव किया जाएगा। अभी डिजिटल सर्विसेस में सीबीएसई स्कूलों में प्रैक्टिकल नंबर्स को ऑनलाइन डाटा बेस में भेजा रहा है। इससे सर्विसेस भी पहले से ज्यादा बेहतर हो रही है।

नया डेटाबेस करेगा योग्यता का सत्यापन
नेशनल कॅरियर सर्विस में पंजीकृत नौकरी तलाश रहे उम्मीदवारों को तमाम तरह के पेपर वर्क के लिए परेशान नहीं होना होगा। उम्मीदवारों की शैक्षिणिक योग्यता सत्यापन करने के लिए सीबीएसई के डेटाबेस का इस्तेमाल होगा। सीबीएसई ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा सीटीआईटी के प्रमाण पत्रों की मोबाइल पर वेरिफिकेशन सुविधा शुरू की है। प्रत्येक सर्टिफिकेट पर ग्लोबल डॉक्यूमेंट टाइम आइडेंटिफायर कोड का इस्तेमाल हो रहा है। इसमें पूरे नाम, फोटो, रोलनंबर, प्रमाण-पत्र जारी करने की तारीख, प्राप्तांक और अन्य सूचनाएं भी ऑनलाइन होगी।


MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned