क्वारंटाइन लोगों को 14 दिन के पहले भेजा घर, सात घंटे बाद गलती का हुआ एहसास तो बुलाया

बड़ी लापरवाही: परिजनों के संपर्क में आए प्रहरी, तो सभी को परिवार सहित क्वारंटाइन में भेजा

By: Sonelal kushwaha

Published: 18 Apr 2020, 09:15 PM IST

सतना. कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए होम क्वारंटाइन किए गए आठ लोगों को प्रोटोकॉल को धता बताते हुए १४ दिन पूरे होने के पहले ही घर भेज दिया गया। जिम्मेदारों को सात घंटे बाद अपनी गलती का एहसास हुआ तो आनन-फानन में सभी को १०८ एम्बुलेंस भेजकर वापस बुलाया गया। स्वास्थ्य महकमे की गलती के चलते तब तक संदिग्ध अपने परिजनों के संपर्क में आ चुके थे। एेसे में तीन प्रहरियों के परिजनों को भी जीएनएम में होम क्वारंटाइन कराया गया।

जेल प्रहरियों को घर भेजा
कोरोना पॉजिटिव बंदियों के संपर्क में आने वाले १७ लोगों को जीएनएम में बनाए गए होम क्वारंटाइन प्लेस में रखा गया है। इनमें से ८ जेल प्रहरियों के थ्रोट के नमूने की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद शुक्रवार दोपहर १ बजे १०८ एम्बुलेंस बुलाकर सभी को उनके घर भेज दिया गया। जबकि प्रोटोकॉल के मुताबिक सभी को १४ दिन तक होम क्वारंटाइन प्लेस में ही रोका जाना था।

परिजनों के संपर्क में आ गए संदिग्ध
होम क्वारंटाइन किए गए जिन 8 लोगों को घर भेजा गया था इनमें ३ जेल प्रहरी जेल कॉलोनी में परिवार के साथ रहते हैं। पांच प्रहरी अकेले ही सरकारी आवास में रहते हैं। स्वास्थ्य महकमे के जिम्मेदारों की गलती के चलते तीन प्रहरी अपने परिजनों के संपर्क में आ गए।

7 घंटे बाद एम्बुलेंस भेज सभी को वापस बुलाया
होम क्वारंटाइन किए गए लोगों को १४ दिन के पहले घर भेजने की जानकारी कलेक्टर सहित संचालनालय स्वास्थ्य सेवा को लगी तो हड़कंप मच गया। लापरवाही पर स्वास्थ्य अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। सभी को शीघ्र वापस बुलाने के निर्देश दिए गए। एेसे में आनन-फानन १०८ एम्बुलेंस बुलाई गई। चिकित्सकों के साथ शाम ७ बजे एम्बुलेंस प्रहरियों के घर भेजी गई। सभी को समझाइश देकर रात ८ बजे वापस होम क्वारंटाइन प्लेस लाया गया। इस दौरान संदिग्धों के संपर्क में आए तीन प्रहरियों के परिजनों को भी होम क्वारंटाइन प्लेस लाया गया।

Sonelal kushwaha Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned