Raiganv bye election: गड्ढों में समाया 15 साल का विकास, सड़कों पर आक्रोश की फसल

रैगांव उपचुनाव से पहले उदयसागर के ग्रामीणों ने सड़क में धान के पौधे रोप किया प्रदर्शन

 

By: Pushpendra pandey

Published: 22 Jul 2021, 02:07 AM IST

Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

सतना. उपचुनाव से पहले मुख्यमंत्री सहित भाजपा के तमाम बड़े नेता रैगांव का दौरा कर मतदाताओं की नब्ज टटोल रहे हैं। भाजपा एक ओर रैगांव का रण जीतने जन सभाओं में कई घोषणाएं कर चुकी है, वहीं जनता का आक्रोश कम होने का नाम नहीं ले रहा। सड़क, बिजली जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित रैगांव क्षेत्र की जनता जैसे-जैसे उप चुनाव नजदीक आ रहे वैसे-वैसे आंदोलित होती जा रही है। उप चुनाव से पहले रैगांव विधानसभा क्षेत्र के गांवों की खस्ताहाल सड़कों पर विरोध की फसल लहलहाने लगी है। इसकी एक झलक बुधवार को कोठी कस्बे से लगे उदयसागर गांव में देखने को मिली।

चेतावनी-लोकलुभावनी घोषणाओं से नहीं चलेगा काम
कई वर्ष से गांव में पक्की सड़क बनाने की मांग कर रहे ग्रामीणों ने बुधवार को गड्ढों में तब्दील गांव की कच्ची सड़क में धान के पौधे लगाकर प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने सड़क में धान की फसल लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार और क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने 15 साल में गांवों का जितना विकास किया, वह गड्ढों में समा चुका है। हम सड़क, बिजली की मांग करते हैं और जनप्रतिनिधि नगर पंचायत व तहसील बनाने का झुनझना पकड़ा रहे हंै। अब लोकलुभावनी घोषणाओं से काम नहीं चलेगा।

15 साल में 500 मीटर सड़क नहीं बना पाए
कोठी नगर परिषद से लगे उदयसागर गांव के ग्रामीणों ने बताया कि उनके गांव को मुख्य मार्ग से जोडऩे वाली आधी सड़क गांव तो आधी सड़क नगर परिषद के वार्ड 12 से गुजरती है। जनप्रतिनिधि १५ साल में गांव की ५०० मीटर सड़क नहीं बना पाए। उप चुनाव में सड़क मुख्या मुद्दा है। यदि सड़क नहीं बनी तो गांव का कोई भी व्यक्ति वोट नहीं डालेगा ।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned