Mansoon रिमझिम बारिश के साथ विंध्य प्रदेश में वर्षा ऋतु की शुरुआत

विंध्य में छाया प्री मानसून,अगले तीन दिन गरज चमक के साथ जारी रहेगा बारिश का दौर

By: Sukhendra Mishra

Updated: 02 Jun 2020, 12:44 AM IST

सतना. मौसम विभाग के कैलेंडर के अनुसार ऋतुओं की रानी वर्षा ऋतु का आगाज एक जून से हो चुका है। इस साल जिले में वर्षा ऋतु की शुरुआत लू के थपेड़े व झुलसाती गर्मी के बीच नहीं बल्कि रिमझिम बारिश के साथ हुई है। वर्षो बाद विंध्य में एक जून को प्रीमानसून की गतिविधि शुरु हुई है। दक्षिण पश्चिम मानसून के समय से एक दिन पहले केरल तट पर दस्तक के साथ ही विंध्य में प्रीमानसून की बारिश शरू हो गई है। इससे इस वर्ष मानसून के समय पर दस्तक देने एवं मानसूनी सीजन में जोरदार बारिश की उम्मीद बंधी है।
दोपहर धूप शाम को दिखा इंद्रधनुष
जिले में मानसून पूर्व की बारिश का दौर शुरू हो गया है। चार दिन से आसमान मं बादल छाए हुए हैं। इस बीज जिले में रिकार्ड 35 मिमी बारिश हो चुकी है। सोमवार को सुबह से आसमान मं बादल छाए रहे। दोपहर में धूप खिली तो लगा मौसम खुल जाएगा लेकिन शाम होते ही एक बार फिर काले बादल घिर आए और गरज चमक के साथ रिमझिम बारिश हुए। इस दौरान कुछ स्थानों पर 30 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं भी चली। रिमझिम बारिश के बीच शाम को पूर्व दिशा में बना सतरंगी इंद्रधनुष कोरोना वायरस की मार झेल रहे लोगों के लिए अच्छे दिन आने की उम्मीद जगा गया।
चक्रवात का असर,हो सकती है तेज बारिश
खाड़ी में उठे चक्रवात के बाद अब अरब सागर में निसर्ग चक्रवाती तूफान सक्रिय हो गया है। इसका प्रभाव अगले तीन दिन विंध्य के मौसम में भी पड़ेगा। मौसम विभाग के अनुसान इस चक्रवात के महाराष्ट्र गुजरात की सीमा से टकरने के बाद प्रदेश में भी तेज हवाएं चल सकती है। मौसम विभाग ने 3 व 4 जून को चक्रवात के प्रभाव से सतना में अंधड़ के साथ तेज बारिश होने की आशंका व्यक्त की है।

Sukhendra Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned