दो बसों के बीच दबा नाबालिग खलासी, अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत

बस स्टैंड में हुआ हादसा: मृत्यु की पुष्टि होते ही पुलिस ने आरोपी बस को कब्जे में लेते हुए जांच कार्रवाई शुरू कर दी है।

सतना/ मध्यप्रदेश के सतना शहर अंतर्गत बस स्टैंड में एक खलासी बिना मौत के काल के गाल में समा गया। बताया गया कि सवारी बैठाने के लिए बस स्टैंड में बस बैक करा रहा नाबालिग खलासी दो बसों के बीच दब गया। शनिवार की दोपहर हुए इस हादसे के बाद पुलिस की मदद से आनन-फानन में पीडि़त को जिला अस्पताल भेजा गया। जहां उसने दम तोड़ दिया। पुलिस की मदद से मृतक के परिजनों और मोटर मालिक को हादसे की सूचना दे गई है। मृत्यु की पुष्टि होते ही पुलिस ने आरोपी बस को कब्जे में लेते हुए जांच कार्रवाई शुरू कर दी है।

ये है मामला
जानकारी मिली है कि सेमरी कोच के नाम से सतना से गुनौर के लिए चलने वाली बस एममपी 19 पी 0668 में पन्ना जिले के देवेन्द्र नगर का रहने वाला नाबालिग आकाश कुशवाहा (17) बतौर खलासी का काम करता था। दोपहर करीब 2.30 बजे यह बस सतना से रवाना होती है। बस को सवारियों के लिए बस स्टैण्ड में खड़ी कराना था।

अस्पताल पहुंचते ही दम तोड़ दिया
आकाश बस चालक की मदद करते हुए बस को बैक करा रहा था। तभी चालक ने लापरवाही से बस को पीछे किया और आकाश को चपेट में लेते हुए पीछे की ओर खड़ी नफीस ट्रेवल्स की बस से टक्कर मार दी। ऐसे में दो बसों के बीच दबे आकाश ने अस्पताल पहुंचते ही दम तोड़ दिया।

suresh mishra
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned