सेना के जवान को कमरे में बंद कर लड़की ने मचा दिया शोर, थाने में नहीं हुई सुनवाई तो एसपी बंगला के बाहर दिया धरना

सेना के जवान को कमरे में बंद कर लड़की ने मचा दिया शोर, थाने में नहीं हुई सुनवाई तो एसपी बंगला के बाहर दिया धरना
Satna Crime News: Young Girl Molestation of Army soldiers in satna

Suresh Kumar Mishra | Publish: Sep, 18 2019 05:55:37 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

बलात्कार के आरोपी पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे परिजन: महिला टीआई ने समझाकर कोठी थाने भेजा

सतना/ सेना का एक जवान अपने नजदीकी गांव के एक घर में दाखिल हो गया। वहां कमरे में नाबालिग लड़की पढ़ रही थी। कुछ देर बाद लड़की बाहर निकली और दरवाजा बंद कर शोर मचा दिया। हो-हल्ला सुनते ही गांववाले जुटे और आनन-फानन पुलिस को खबर दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जवान को कब्जे में लिया और थाने लेकर आई। पीछे से लड़की भी अपने परिजनों के साथ पहुंची। वहां लड़की के परिजनों ने बलात्कार का आरोप लगाते हुए कार्रवाई चाही।

इस पर थाना पुलिस तैयार नहीं हुई। कुछ देर बाद मामला बिगड़ा तो पीडि़त परिवार ऑटो में सवार होकर एसपी बंगला के सामने पहुंच गया। यहां सभी धरने पर बैठ गए। पुलिस के आला अफसरों को खबर हुई तो थाना सिविल लाइन से टीआई अर्चना द्विवेदी को भेजा गया। उन्होंने पीडि़त पक्ष की बात सुनने के बाद सभी को समझाया और मामला कायम कराने कोठी थाना के लिए रवाना कर दिया।

यह है मामला
पीडि़त परिवार की ओर से बताया गया कि मंगलवार की सुबह करीब 11 बजे बम्हरौला गांव में रहने वाला सेना का जवान सहेन्द्र सिंह उर्फ सनी पुत्र गोरेलाल सिंह उनके गांव आया। घर में मौजूद नाबालिग छात्रा के कमरे में वह दाखिल हुआ और जबरदस्ती करता रहा। कुछ देर बाद छात्रा कमरे से निकली और बाहर से दरवाजा बंद कर दिया। शोर होने पर गांव वाले जुटे और डायल 100 को खबर दी गई। पुलिस आई और सेना के जवान को अपने साथ कोठी थाना ले गई।

दबाव बनाता रहा आरोपी पक्ष
छात्रा के परिजनों का आरोप है कि जब वह रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंचे तो आरोपी पक्ष की ओर से आए तीन व्यक्ति बाहरीतौर पर दबाव बनाने लगे। सभी चाह रहे थे कि जैसा वो कह रहे हैं वैसी रिपोर्ट कर दी जाए। इस बात को लेकर पीडि़त पक्ष थाने से लौट गया। इसके बाद छात्रा को लेकर उसके परिजन शाम के वक्त एसपी ऑफिस पहुंचे। यहां एसपी के नहीं मिलने पर एसपी बंगला के सामने धरने पर बैठ गए।

सिंहपुर से महिला अधिकारी रवाना
टीआई थाना सिविल लाइन अर्चना द्विवेदी ने आला अधिकारियों से बात करते हुए कोठी थाना प्रभारी आशीष धुर्वे को जानकारी दी। इसके बाद तय हुआ कि पीडि़त परिवार को थाना कोठी भेज दिया जाए, जहां रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। सिंहपुर थाना से एसआई राजश्री रोहित को भी कोठी भेजा गया। ताकि वह छात्रा और उसके परिजनों से बात करते हुए हकीकत पता करें। पुलिस ने आईपीसी की धारा 450, 376 व पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

नाबालिग लड़की परिजनों के साथ एसपी ऑफिस आई थी। साहब के नहीं मिलने पर एसपी बंगला के सामने पीडि़त पक्ष पहुंच गया। उन्हें कोठी थाना भेजा है जहां कायमी की गई है। आरोपी को पुलिस ने पकड़ लिया है।
अर्चना द्विवेदी, टीआई थाना सिविल लाइन

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned