मध्यप्रदेश के इन कार्यालयों को विदेश मंत्रालय ने किया अपग्रेड, अब 15 दिन में बन सकेंगे पासपोर्ट

मध्यप्रदेश के इन कार्यालयों को विदेश मंत्रालय ने किया अपग्रेड, अब 15 दिन में बन सकेंगे पासपोर्ट
Satna Post Office Passport Service Center difference between psk-popsk

Suresh Kumar Mishra | Publish: Jun, 26 2019 03:16:57 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

सतना को सुविधा: रीवा पुराने ढर्रे पर, अभी लगेगा समय, अब भोपाल स्थित ग्रांटिंग ऑफिसर के पास सीधे आएगी फाइल, अभी तक हार्ड कॉपी आती थी

सतना। विदेश मंत्रालय ने सतना सहित प्रदेश के 11 शहरों में मौजूद पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र (पीओपीएसके) को पासपोर्ट सेवा केंद्र (पीएसके) में अपग्रेड (लाइव) कर दिया है। पीओपीएसके के पीएसके में अपगे्रड होने से इन शहरों के आवदेकों के पासपोर्ट महज 10-15 दिनों में बन जाएंगे। रीवा सहित आधा दर्जन केंद्र पुराने ढर्रे पर काम कर रहे हैं। इन्हें अपग्रेड नहीं किया गया है।

MP के इस जिले में यूजी की 75 प्रतिशत सीटें खाली, ग्रामीण अंचल के कॉलेजों में पंजीयन नहीं

लिहाजा, यहां पासपोर्ट बनने में एक से डेढ़ माह तक का समय लगेगा। रीजनल पासपोर्ट ऑफिसर रश्मि बघेल ने बताया कि वर्तमान में मप्र में 17 पीओपीएसके संचालित हो रहे हैं। अक्टूबर 2018 में सबसे पहले विदिशा में मौजूद पीओपीएसके को अपग्रेड किया गया था। इसके बाद जून 2019 तक 10 अन्य पीओपीएसके को अपग्रेड किया गया है, इसमें सतना भी शामिल है।

शुगर फ्री आम: मध्य प्रदेश के आम की दुनिया है कायल, डायबि‍टीज के मरीजों के लि‍ए है फायदेमंद

सीधे ग्रांटिंग मोड पर आ गए पीओपीएसके
पासपोर्ट ऑफिसर ने बताया कि पीएसके में अपग्रेड होने के बाद संबंधित केंद्र से पासपोर्ट के आवेदन वहां मौजूद वेरिफिकेशन ऑफिसर के माध्यम से तुरंत ही ऑनलाइन भोपाल पहुंच जाएंगे। यहां वह आवेदन ग्रांटिंग की प्रक्रिया के लिए आगे बढ़ जाएगा। अभी इन सभी शहरों से आवेदनों की फाइल हार्ड कॉपी में भोपाल भेजी जाती थी। जिसकी स्कैनिंग और वेरिफिकेशन में करीब 10-15 दिन का वक्त लगता था। इसके बाद फाइल पुलिस वेरिफिकेशन रिपोर्ट (पीवीआर) के लिए भेजी जाती थी और रिपोर्ट मिलने के बाद ही पासपोर्ट प्रिंटिंग की प्रक्रिया शुरू होती थी। इस पूरी प्रक्रिया के चलते पीओपीएसके के आवेदक को करीब एक महीने में पासपोर्ट मिल पाता था। जबकि पीएसके में अपग्रेड होने के बाद से आवेदन सीधे ग्रांटिंग मोड पर आ गया है।

नंबर गेम
- प्रदेश में अभी भोपाल और इंदौर में है पीएसके जबकि 17 शहरों में पीओपीएसके
- सतना पीओपीएसके में रोजाना नॉर्मल कैटेगरी के 40 अप्वाइंटमेंट
- रीवा सेंटर पर भी औसतन 40 अप्वाइंटमेंट प्रतिदिन आते हैं

यह पीओपीएसके हुए अपग्रेड
- सतना, विदिशा, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, देवास, रतलाम, बालाघाट, छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, सागर।

ये पुराने पैटर्न पर ही
- रीवा, बैतूल, छतरपुर, दमोह, धार, टीकमगढ़।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned