बुजुर्ग के हाथ से रुपए से भरा बैग छीन ले गए बदमाश, देखिए किस तरह बाइक से पीछाकर की वारदात

लुटेरे फिर दे गए चुनौती, पन्ना नाका में हुई वारदात, बाइक से पीछा कर रहे थे आरोपी

By: suresh mishra

Published: 10 Feb 2018, 06:41 PM IST

सतना। शहर में हुई लूट की वारदतों की गुत्थी सुलझाने में उलझी पुलिस को लुटेरे फिर से चुनौती दे गए। शुक्रवार की दोपहर शहर कोतवाली इलाके के पन्ना नाका में ऑटो से उतरे बुजुर्ग के हाथ से रुपयों से भरा थैला बदमाशों ने छीन लिया। बाइक सवारों की इस हरकत के बाद दहशत में आए बुजुर्ग ने अपने परिवार को खबर दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन लुटेरों का सुराग नहीं लग सका।

जानकारी के अनुसार, पन्ना नाका के पास उमरी मोहल्ले में रहने वाले कृषि विभाग से रिटायर्ड लिपिक लाल मणि त्रिपाठी (74) अकेले ही स्टेट बैंक की मुख्य शाखा गए थे। खाते से 40 हजार रुपए आहरित करने के बाद वह ऑटो में सवार हुए और पन्ना नाका में उतर गए।

रुपए से भरा थैला छीन लिया

इसी बीच बाइक से आए दो बदमाशों ने झपट्टा मारते हुए लालमणि के हाथ से रुपए से भरा थैला छीन लिया। जब तक वह कुछ समझ पाते तब तक बदमाश भाग चुके थे। सूचना पर सिविल लाइन थाना पुलिस पहुंची। जांच में जब यह बात सामने आई कि घटना स्थल सिटी कोतवाली क्षेत्र का है तो वहां की पुलिस को बताया गया। इसके बाद दोनों थानों की पुलिस आस पास इलाके में छानबीन करती रही।

रैकी के बाद पीछा
पुलिस जांच में यह बात सामने आ रही है कि बैंक के बाहर रैकी करने वाले बदमाशों को बैंक के पास वारदात करने का मौका नहीं मिला। इसकी एक वजह यह भी है कि स्टेट बैंक मुख्य शाखा के पास सड़क यातयात व्यस्त रहता है। इसलिए बैंक से ही रैकी करते हुए ऑटो का पीछा कर पन्ना नाका पहुंचे बदमाशों ने यहां मौका पाकर घटना को अंजाम दे दिया।

पीला-नीला स्वेटर
पीडि़त ने पुलिस को बताया कि बाइक पर सवार दोनों युवकों में पीछे बैठे युवक ने थैला छुड़ाया था। उसने पीला-नीला स्वेटर पहना था। गाड़ी को भी बुजुर्ग ठीक से नहीं देख सके। इस घटना ने एक बार फिर शहर की कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा दिए हैं।

suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned