satna to bhopal distance: ये है सतना से भोपाल की दूरी

विंध्यवासियों के लिए राजधानी का सफर करना किसी चुनौती से कम नहीं है। ट्रेन से 455 किमी. की दूरी तय करने के लिए करीब 9 घंटे का समय लगता है।

By: suresh mishra

Published: 08 Nov 2017, 12:37 PM IST

सतना। विंध्यवासियों के लिए राजधानी का सफर करना किसी चुनौती से कम नहीं है। ट्रेन से 455 किमी. की दूरी तय करने के लिए करीब 9 घंटे का समय लगता है। यहां के यात्रियों को भोपाल जाने के लिए सीमित साधन ही उपलब्ध है। वो भी विंध्य क्षेत्र के सतना, रीवा, सीधी, सिंगरौली आदि जिलों के पैसेंजरों को एकलौती ट्रेन रेवांचल एक्सप्रेस ही है।

जिसमे हरदम 300 से उपर वेेटिंग का झमेला बना रहता है। 50 फीसदी यात्रियों जनरल बोगियों में ठसाठस यात्रा करते है। हालांकि सतना, रीवा से आधा दर्जन यात्री बसें भी राजधानी भोपाल और इंदौर के लिए चलती है। फिर भी सुरक्षित यात्रा की उम्मीद कम ही रहती है।

90 के दशक जैसी यात्री आज भी जारी

गौरतलब है कि, रेवांचल ट्रेन का संचालन दो दशक पहले किया गया था। इसके पहले सतना, रीवा के यात्री पन्ना, छतरपुर, सागर के रास्ते बसों से आया-जाया करते थे। लेकिन डिजिटल युग में भी 90 के दशक जैसी यात्री आज भी जारी है। जबकि समय-समय पर सामाजिक संगठनों ने आवाज उठाकर केन्द्र और राज्य सरकार को चेताया फिर भी आज भी ट्रेनों की संख्या बढ़ाने की मांग अधूरी है।

नाम के लिए चार ट्रेनें
कहने को तो सतना से भोपाल के लिए चार ट्रेनों का संचालन होता है। लेकिन यात्रा बड़ी मशक्कत में ही होती है। इसका सबसे बड़ा कारण कि रेवांचल एक्सप्रेस रीवा से ही पैक आती है। वहीं इलाहाबाद की ओर आने वाली कामायनी एक्सप्रेस खचाखच भरी रहती है। जबकि क्षिप्रा एक्सप्रेस और रीवा-इंदौर सप्ताहिक ट्रेन है इसलिए सुगम यात्रा सफल नहीं हो पाती है।

त्योहारों में रहती 400 के उपर वेटिंग
होली, दिवाली, रक्षाबंधन आदि त्योहारों पर सतना आने के लिए रेवांचल एक्सप्रेस में वेटिंग ३00 से ४00 के बीच रहती है। इसी तरह से एसी 3 में वेटिंग 15 से 20 के बीच है। लंबी वेटिंग को देखते हुए रेलवे ने इस बार तीन महीने पहले ही रीवा के लिए स्पेशल चलाने का शेड्यूल जारी कर दिया था। जबकि बसों में भी एडवांस बुकिंग के यही हालात रहते है।

पैर रखने तक का स्थान नहीं
विंध्यवासियों को राजधानी भोपाल पहुंचने के लिए सिर्फ एक ट्रेन ही सहारा है। जिसमें वर्षों से हजारों यात्री जान हथेली में रखकर यात्रा करते है। एकलौती ट्रेन होने के कारण इस कदर भीड़ होती है कि सूई अगर गिर जाए तो नीचे पहुंचना मुनासिब होगा। त्योहारों में तो यात्रियों की शामत ही आ जाती है। हालांकि रेलवे द्वारा 10 से 15 दिनों के लिए त्योहार स्पेशल ट्रेन चलाई जाती है फिर भी सभी यात्री सुगम यात्रा नहीं कर पाते है।

ये है रोजाना सतना से भोपाल की ट्रेनें

12186 रेवांचल एक्सप्रेस STA 20:55 BPL 05:35 08:40 Y Y Y Y Y Y Y 1A 2A 3A SL
11072 कामायनी एक्सप्रेस STA 22:50 BPL 07:35 08:45 Y Y Y Y Y Y Y 2A 3A SL

ये है साप्ताहिक गाड़ियां

11703 Rewa Indore Junction Bg Express Satna (06:05) Bairagarh (15:13) 9h 8m

22912 Shipra Express Satna (11:35) Bhopal Junction (20:30) 8h 55m

suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned