सतना को 5 करोड़ की चपत लगा गया चक्रवाती तूफान

मौसम विभाग की चेतावनी को नजर अंदाज करना पड़ा महंगा

By: Sukhendra Mishra

Published: 30 May 2020, 11:47 PM IST

सतना. मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल ने सतना सहित रीवा संभाग में दो दिन मौसम खराब रहने और गरज चमक के ४० से ५० किमी प्रति घंटा की रफ्तार से तूफान आने की चेतवानी जारी की थी। लेकिन जिला प्रशासन के अधिकारियों ने मौसम विभाग की चेतवानी को गंभीरता से नहीं लिया। जिसका खामियाजा सतना सहित रीवा संभाग की जनता को भुगतना पड़ा।

यदि जिला प्रशासन तूफान की चेतावनी पर अमल करता और लोगों को एहतियात बरतने की हिदायत दी जाती तो विंध्य को जनहानि से बचाया जा सकता था।

तूफान की चेपट में आने से सतना और रीवा में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं आधा सैकड़ा से अधिक लोग घायल हुए हैं। खरीदी केन्द्रों में रखा हजारों क्विंटल अनाज भीग गया। पन्ना एवं सीधी में भी अंधड़ से जमकर नुकसान हुआ है। पन्ना में खेतों में रखी हजारों क्विंटल प्याज भीग गई। यदि लोगों को आंधी तूफान आने की जानकारी होती तो विंध्य को तूफानी कहर से बचाया जा सकता था।

Sukhendra Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned