सतना में टला बड़ा बस हादसा, पंक्चर बस में बच्चों को बैठाकर फर्राटे मार रहा था ड्राइवर

Pushpendra Pandey

Updated: 12 Oct 2019, 02:08:40 AM (IST)

Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

सतना. निजी स्कूल प्रबंधन कंडम बसों का संचालन कर नौनिहालों की जान जोखिम में डाल रहे हैं। आरटीओ महकमा मिलीभगत के चलते चुप्पी साधे हुआ है। एेसा ही मामला शुक्रवार की शाम बिरसिंहपुर में सामने आया। चालक बच्चों से भरी पंक्चर बस सड़क पर दौड़ा रहा था। जिसे लोगों ने रुकवा कर पुलिस के हवाले किया और बड़ा हादसा होने से टल गया।

छोडऩे बिरसिंहपुर जा रही
दरअसल, बोनांजा स्कूल की बस रोजाना की तरह शुक्रवार शाम बच्चों को छोडऩे बिरसिंहपुर जा रही थी। कंडम बस का टायर भी फूटा हुआ था, बावजूद इसके उसमंे बच्चों को बैठाया गया था। ग्रामीणों ने नागौरा गांव के पास रोका और पुलिस को जानकारी दी। सूचना पर मौके पर पहुंची सभापुर पुलिस ने बस की कंडम हालत को देखते हुए जब्त कर थाना में खड़ा करा लिया। लोगों के मोबाइल लेकर बच्चों ने अभिभावकों से संपर्क साधा। उन्हें मामले की जानकारी दी और मौके पर बुलाया।


चालक को सुनाई खरी-खोटी
मौके पर पहुंचे अभिभावकों ने बस चालक को खरी-खोटी सुनाई। प्रत्यक्षदर्शियों की मानंे तो गुस्साए कुछ अभिभावकों ने तो स्कूल प्रबंधन से शिकायत दर्ज कराई।

Satna school bus accident
IMAGE CREDIT: patrika

7 मासूमों की जान जाने के बाद भी नहीं ली सीख
22 नवंबर 18 को सड़क हादसे में आधा दर्जन से अधिक मासूमों की मौत हो गई थी। इतने बड़े हादसे के बाद भी जिम्मेदारों ने सीख नहीं ली है। अभी भी बच्चों का परिवहन कंडम और खटारा बसों में किया जा रहा है। इससे फिर बड़ा हादसा हो सकता है।

Satna school bus accident
IMAGE CREDIT: patrika

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned