सीधी शहर में अधजला शव मिलने के बाद हड़कंप, कई दिनों से बंद कमरे में हुई वारदात, किरायेदार फरार

बंद कमरे में प्रौड़ का शव मिलने से फैली सनसनी, शहर के उत्तर करौंदिया की घटना, सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची, शिनाख्ती के प्रयास जारी

सीधी। मध्य प्रदेश के सीधी शहर अंतर्गत बंद कमरे में एक प्रौड़ का शव मिलने का मामला सामने आया है। मकान मालिका ने कमरे से आ रही बदबू के बाद पुलिस को सूचना दी। सिटी कोतवाली पुलिस ने बंद कमरे का ताला तुड़वाया तो सबके होश उड़ गए। कारण बंद कमरे के अंदर प्रौड़ का मृत अवस्था में अधजला शव मिला। पुलिस ने मामले को संदिग्ध मानते हुए सिंगरौली से फारेंसिक टीम बुलाई है। इधर, मृत प्रौड़ के शव की शिनाख्त का भी प्रयास किया जा रहा है। कहते है कि किराया से कमरा लेने वाली महिला भी फरार बताई गई है। जिसकी तलाश पुलिस ने शुरू कर दी गई है।

ये है मामला
मकान मालकिन बीना मिश्रा पति आशीष निवासी उत्तर करौंदिया ने गुरुवार की दोपहर सिटी कोतवाली में आवेदन दिया। शिकायती आवेदन में बताया कि विजय फीलिंग स्टेशन के पास बने मेरे मकान के एक भाग में छात्रावास संचालित है। जबकि दूसरे भाग में दो कमरे किराए पर दिए हैं। जिसके एक कमरे में आदित्य शुक्ला अधिवक्ता रहते हैं। वहीं दूसरा कमरा डेढ़ माह पूर्व सुधा तिवारी निवासी कमर्जी को दिया गया था। सुधा तिवारी द्वारा अपने परिचय पत्र में आधार कार्ड दिया था। मकान मालकिन ने पुलिस को दिए आवेदन में कहा कि किरायेदार आदित्य शुक्ला ने बताया है कि सुधा तिवारी नामक महिला उक्त कमरे में बहुत कम रहती है। उसकी स्थित काफी संदिग्ध लगती है। किरायेदार कह रहा है कि सुधा तिवारी के कमरे से खून की बदबू आ रही है। किरायेदार द्वारा जानकारी दिए जाने के बाद पता लगाया तो सुधा तिवारी के कमरे में ताला बंद था। तब मकान मालिक द्वारा इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने कमरे का ताला तोड़वाया तो अंदर एक व्यक्ति जिसकी उम्र करीब 45 से 50 वर्ष के बताई जा रही है का अधजला शव पड़ा मिला।

रीवा का बताया जा रहा मृतक
घटना की जांच के दौरान प्रथम दृष्टया युवक की शिनाख्त बस कंडेक्टर के रूप में की गई है। जो रीवा जिले का निवासी बताया जा रहा है। हालांकि पुलिस अभी मृतक की शिनाख्त को पुख्ता मानकर नहीं चल रही है। पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्ट्या जो पहचान स्पष्ट हो रही है उनके परिजनों को पहचान के लिए बुलाया गया है। उनके आने के बाद पहचान करने पर ही शिनाख्त पुख्ता हो पाएगी।

Show More
suresh mishra Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned