जन आशीर्वाद यात्रा: CM शिवराज के काफिले पर पथराव से टूटा रथ का शीशा, बोले-हिम्मत है तो सामने आओ

जन आशीर्वाद यात्रा: CM शिवराज के काफिले पर पथराव से टूटा रथ का शीशा, बोले-हिम्मत है तो सामने आओ

suresh mishra | Publish: Sep, 03 2018 11:44:56 AM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India

चुरहट में काफिले पर पथराव के बाद सीधी में सीएम ने नेता प्रतिपक्ष को घेरा, बोले-जो मां का नहीं वह प्रदेश का क्या होगा, भारी सुरक्षा के बीच मंच पर पहुंचते ही सीएम पर फेंका काला झंडा

सीधी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा रविवार की रात करीब 12.30 बजे शहर स्थित पूजा पार्क पहुंची। यहां उन्होंंने सभा की शुरुआत चुरहट विस क्षेत्र में हुए पथराव से की। कहा कि सीधी, चुरहट या विंध्य प्रदेश शिष्टाचार का प्रदेश है। यहां राजनीति में वैचारिक मतभेद होते हैं लेकिन दुश्मनी कभी नहीं होती। चोरी छिपे पत्थर फिकवाने वालों की यह अच्छी राजनीति नहीं बल्कि बचकानी हरकत है। जनता ने मुझे जो आशीर्वाद दिया है। जिस तरह से यहां जनसैलाब स्वागत के लिए उमड़ा है, उससे बौखलाते क्यों हो। इस तरह तुम राजनीति को कहां ले जाओगे।

जो मां का नहीं हुआ, वह प्रदेश का क्या होगा

तुम्हारे पिताजी अर्जुन सिंह कभी ओछी राजनीति नहीं करते थे। सीएम ने कहा कि जो मां का नहीं हुआ, वह प्रदेश का क्या होगा। काफिले पर पथराव की सूचना के बाद शहर पुलिस अलर्ट रही। सभा स्थल के पास चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा रहा। हालांकि इतनी सख्त सुरक्षा व्यवस्था के बावजूद सीएम के मंच के ठीक सामने कुछ अज्ञात लोगों ने काले झंडे दिखाए। सीएम के मंच पर पहुंचते ही नारेबाजी कर काला झंडा फेंका, जो सीएम के ऊपर गिरा। इसके बाद पुलिस ने सभी अज्ञात लोगों को हिरासत में ले लिया। इस दौरान अफरा-तफरी का माहौल बन गया।

नकाब पहनकर सीएम को काले झंडे दिखाए

इससे पहलेे पटपरा में कांग्रेसियों ने नकाब पहनकर सीएम को काले झंडे दिखाए। इससे पहले सिहावल विधानसभा के मयापुर में आरक्षण विरोधी संगठन के अध्यक्ष शत्रुघन पांडेय को पुलिस ने काले झंडे दिखाने की आशंका पर हिरासत में ले लिया था। हालांकि यात्रा के दौरान उनके सहयोगियों ने काला झंडा दिखाया। जन आशीर्वाद यात्रा के दूसरे दिन रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सिंहावल विधानसभा क्षेत्र के अमिलिया में सभा की। कहा, यहां का विकास भाजपा का विधायक नहीं होने के कारण नहीं हुआ।

किसानों की खुशहाली में प्रदेश की खुशहाली

क्षेत्र का विकास चाहिए तो भाजपा के विधायक को जिताइए। इसके पूर्व सीधी विधानसभा के अमरपुर में कहा, सीधी जिले के साथ-साथ प्रदेश के हर खेत में पानी पहुंचाएंगे। खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए सिंचाई सुविधाओं का निरंतर विस्तार किया जाएगा। किसानों की खुशहाली में प्रदेश की खुशहाली है। उन्होंने अमरपुर में 204.02 करोड़ रूपए लागत के महान परियोजना बहरी नहर विस्तार द्वितीय चरण का भूमिपूजन किया। इस अवसर पर पत्नी साधना सिंह ने कन्या पूजन किया। चौहान के साथ राज्यसभा सांसद प्रभात झा, अजय प्रताप सिंह, सांसद सीधी रीती पाठक, सांसद रीवा जनार्दन मिश्रा, विंध्य विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष सुभाष सिंह, पूर्व विधायक सिहावल विश्वामित्र पाठक, जनपद अध्यक्ष सीधी शकुंतला सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ.राजेश मिश्रा, पुनीत नारायण शुक्ला, गुरुदत्त शरण शुक्ल सहित जन प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

40 लाख हेक्टेयर में सिंचाई की व्यवस्था
चौहान ने कहा, प्रदेश सरकार ने 40 लाख हेक्टेयर में सिंचाई की व्यवस्था की है। बाणसागर परियोजना से विंध्य में सिंचाई सुविधाओं का विस्तार हुआ है। गुलाब सागर महान परियोजना से सीधी जिले में सिंचाई का विस्तार किया जा रहा है। परियोजना के बहरी नहर विस्तार द्वितीय चरण अंतर्गत 25 किमी महान मुख्य नहर तथा 72 किमी माइनर नहरों का निर्माण किया जायेगा। नहर का निर्माण पूर्ण होने पर सीधी एवं सिहावल विकासखंड के 75 ग्रामों के 7424 हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। 27 हज़ार से अधिक कृषक लाभांवित होंगे। योजना की पूर्णता के पश्चात् लाभांवित कृषकों की आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति में सुधार, भू-जल स्तर में वृद्धि, पशुओं को पर्याप्त चारा एवं पानी उपलब्ध होगा।

किसानों को देंगे पसीने की पूरी कीमत
मुख्यमंत्री ने कहा, किसानों को उनके पसीने की पूरी क़ीमत देने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। पिछले वर्ष के गेहूं के उपार्जन पर किसानों को 200 रुपए प्रति क्विंटल के मान से तथा इस वर्ष 265 रुपए प्रति क्विंटल के मान से प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई है। इस वर्ष धान का उपार्जन 1700 रुपए प्रति क्विंटल के मान से किया जाएगा। सरकार ने किसानों की लागत में 50 प्रतिशत जोड़़कर समर्थन मूल्य तय करने का निर्णय किया है। अपील की, योजनाओं का लाभ अधिकार के साथ लें। कमज़ोर वर्ग को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए संबल योजना आरंभ की गई है। जिससे गरीब परिवारों को पट्टा, आवास, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार की सुविधा प्रदान की जा रही है।

सोन नदी पर पुल का भूमिपूजन
चौहान ने बहुप्रतीक्षित 17 करोड़ 33 लाख 30 हज़ार रुपए की लागत के खड़बड़ा कुबरी वाया अमरपुर मार्ग में सोन नदी पर पुल निर्माण एवं शाउमावि कुचवाही, कुचवाही-मयापुर रोड से मझरेटी, एनएच 39 से तेंदुहा नं.1, कुबरी अमरपुर रोड से पथरौंही, जोगीपुर बहेरा रोड से महाराजपुर, कुचवाही मयापुर अमरपुर रोड से सरेह, कुबरी पोखरा सारो रोड से रोदो टोला में मार्ग निर्माण का शिलान्यास किया। इसके पहले विधायक सीधी केदारनाथ शुक्ल ने प्रदेश सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों को बताया। सोन नदी पर पुल निर्माण के लिए आभार जताया।

अमिलिया में 21 करोड़ 56 लाख के कार्यों का भूमिपूजन
अमिलिया में 21 करोड़ 56 लाख 47 हजार के विकास कार्यों का भूमिपूजन किया। उन्होंने शासकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बहरी, सिहावल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आवासीय भवनों, शाउमावि सुड़वार आजीविका भवन सेमरी निर्माण के साथ-साथ मटिहनी से धुम्मा मार्ग, पैगमा आबाद से पैगमा वीरान मार्ग, एनएच-39 से मटिहनी रोड, झटखनिया से चोराही रोड, झटखनिया से सरसा रोड, नकझरकला से पोखरी रोड़ मायापुर खुटेली लौआर रोड से बिछरी, करौली से हौदाबांध रोड, चुरहट अमिलिया रोड से खाड़ी, पहाड़ी से धुम्मा खुर्द रोड, बहरी हनुमाना रोड से परसौना रोड, अमिलिया सिहावल बिछी रोड से ब्यौहार खाड़, सजवानी दुधमनिया सिहावल रोड से भौरो रोड निर्माण का शिलान्यास किया।

सीएम की सुरक्षा पर सवाल
सीधी जिले में मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा का कांग्रेस ने जगह-जगह विरोध किया। उन्हें काले झंडे दिखाए गए। इस दौरान कई कांगे्रसियों को हिरासत में लिया गया। लेकिन, अप्रत्याशित तौर पर चुरहट विस क्षेत्र में पत्थर फेंकने की घटना से मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। दोनों घटनाओं में आरोपियों की शिनाख्त नहीं हो सकी है। रामपुर नैकिन पुलिस ने बताया कि विरोध की आशंका को देेखते हुए पहले ही कुछ कांग्रेसियों को हिरासत में लिया जा चुका है।

मयापुर मेें दिखाए काले झंडे
मयापुर में रथ सभा के दौरान आरक्षण विरोधी संगठन के जिलाध्यक्ष शत्रुघ्न पांडेय द्वारा मुख्यमंत्री को आरक्षण के विरोध में काला झंडा दिखाने की तैयारी की जा रही थी। पुलिस को सूचना मिली तो सीएम का रथ पहुंचने से पहले ही शत्रुघ्न को गिरफ्तार कर लिया गया। लेकिन भीड़ में संगठन के आधा दर्जन से अधिक युवा मौजूद थे। जिन्होंने सीएम के रथ सभा के दौरान काला झंडा दिखाकर आरक्षण खत्म करो के नारे लगाकर उनका विरोध किया।

Ad Block is Banned