प्लेटफार्म पर गंदगी, शौचालय में ताला... ऐसा है आपका सतना रेलवे स्टेशन

अनदेखी: सफाई के नाम पर खानापूर्ति, जगह-जगह फैला कूड़ा

By: suresh mishra

Published: 07 Jul 2019, 05:25 PM IST

सतना। किसी भी शहर का पहला प्रभाव वहां के रेलवे स्टेशन को देखकर पड़ता है। लेकिन, मुंबई के रास्ते पर पडऩे वाले सतना रेलवे स्टेशन की हालत बद से बदतर है। प्लेटफार्म क्रमांक एक और दो पर जगह-जगह गंदगी का अंबार लगा रहता है। साफ-सफाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जाती है। यहां शौचालय में अक्सर ही ताला लगा रहता है।

कुछ ऐसी ही स्थिति शनिवार दोपहर 3 बजे देखने को मिली। इस मनमानी की जानकारी रेलवे प्रबंधन के जिम्मेदारों को भी है पर कोई भी बोलने की हिम्मत नहीं जुटा पाता। सतना रेलवे स्टेशन को ए श्रेणी का तमगा मिला है पर हकीकत यह है कि यहां सुविधाएं डी श्रेणी की भी नहीं हैं। मुख्य द्वार से लेकर अंदर तक जगह-जगह गंदगी फैली रहती है। सफाई अमले का पता नहीं रहता। सफाई की मशीनें एक किनारे रख दी जाती हैं।

शौचालय में मनमानी का ताला
रेलवे प्रबंधन ने यात्रियों की सुविधा के लिए प्लेटफार्म क्रमांक दो पर महिला-पुरुष शौचालय बनवाए हैं। लेकिन, दोनों ही शौचालयों में महीनों से ताला लटक रहा है। शौचालय जाने के लिए यात्रियों को प्लेटफार्म एक पर आना पड़ता है। इससे सबसे ज्यादा परेशानी महिलाओं और बच्चों को होती है। कई बार तो लोगों को घर वापस आना पड़ता है।

प्लेटफार्म दो पर बेतरतीब निर्माण
स्टेशन के दो नंबर प्लेटफार्म पर विद्युत पोल खडे़ किए जा रहे हैं। लेकिन, इनका निर्माण बेतरतीब ढंग से कराया जा रहा। जगह-जगह मलबा बिखरा है। बारिश के कारण पानी का जमाव होता है। ऐसे में यात्रियों को आवाजाही में भी परेशानी हो रही है। अंधेरा होते ही गंदगी के चलते मच्छरों का आंतक फैल जाता है। ट्रेन के इंतजार में सीटों पर बैठना मुश्किल होता है।

एटीएम में हर वक्त कैश की किल्लत
स्टेशन परिसर में यात्रियों की सुविधा के लिए बैंक ऑफ बड़ौदा का एटीएम लगाया गया है। यात्रियों की मानें तो एटीएम में हमेशा कैश की किल्लत बनी रहती है। लोग भरोसा करके आते हैं और कैश नहीं होने पर निराश होकर लौटते हैं। ऐसा ही कुछ मंगलवार दोपहर देखने को मिला। एटीएम बूथ का शटर गिरा थी। बैंक प्रबंधन ने किसी प्रकार की सूचना भी नहीं लगाई थी कि किस वजह से एटीएम बंद है।

स्टेशन परिसर का निरीक्षण किया था। प्लेटफार्म पर गंदगी मिली थी। शीघ्र सुधार के निर्देश दिए हैं। सुधार नहीं होने पर कार्रवाई की जाएगी।
एसएस मीणा, स्टेशन अधीक्षक

suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned