अगली कक्षा में प्रवेश चाहिए तो ऑनलाइन जमा करें फीस

कॉन्वेंट स्कू लों की मनमानी से अभिभावक परेशान

By: Pushpendra pandey

Published: 23 May 2020, 07:14 PM IST

सतना . कोराना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन के कारण दो माह से स्कू ल बंद हैं। नए शिक्षा सत्र को लेकर सरकार द्वारा अभी कोई भी दिशा निर्देश नहीं दिए गए। लेकिन, शहर के कॉन्वेंट स्कू ल शासन के निर्देश को दरकिनार कर अभिभावकों पर फीस जमा करने का दबाव बना रहे हैं। निजी विद्यालय अभिभावकों के मोबाइल पर मैसेज भेजकर ऑनलाइन फीस जमा करने का नसीहत दे रहे हैं।
ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर फीस मांगने वाले निजी विद्यालय बच्चों को अगली कक्षा में प्रवेश के लिए ३० मई तक फीस की पहली किस्त स्कूल के बैंक खाते में जमा करने के निर्देश दे रहे हैं। निजी विद्यालयों की मनमानी से अभिभावक परेशान हैं। बच्चों के भविष्य को देखते हुए जहां कुछ अभिभावक दूसरे से पैसा लेकर स्कूल फीस जमा कर रहे हैं, तो जो फीस जमा करने में फिलहाल असमर्थ हंै वे जुलाई तक की मोहलत मांग रहे हैं।

बोनांजा ने मैसेज के साथ भेजी चेतावनी
बोनांजा स्कू ल द्वारा अभिभावकों को मैसेज भेजकर छात्रों को अगली कक्षा में प्रवेश के लिए कक्षा कोड जनरेट कराने 7750 रुपए फीस ऑनलाइन स्कू ल के बैंक एकाउंट में जमा कर सूचना स्कूल के नंबर पर देने के निर्देश दिए जा रहे हैं। अभिभावकों का कहना है कि उन्हें यह चेतावनी भी दी जा रही कि यदि 30 मई तक फीस जमा नहीं हुई तो बच्चे के अगली कक्षा के कोड जनरेट नहीं होंगे। इसकी जवाबदारी स्वयं अभिभावकों की होगी।

क्रॉइस्ट ज्योति का कारनामा भी सामने आया
क्रॉइस्ट ज्योति स्कू ल द्वारा अभिभावकों को मैसेज भेजकर स्कूल की प्रथम किस्त ऑनलाइन बैंक खाते में जमा कराने को कहा जा रहा है। स्कूल द्वारा सभी अभिभावकों को फीस जमाकर रसीद प्राप्त करने का दबाव बनाया जा रहा है। साथ ही चेतावनी भी दी जा रही कि स्कू ल खुलने पर फीस जमा की रसीदों का सत्यापन किया जाएगा। जो अभिभावक समय पर फीस जमा नहीं करेंगे, उनके बच्चों को अगली कक्षा में प्रवेश में परेशानी हो सकती है।

स्कूल फीस जमा कराने को लेकर गाइडलाइन जारी की जा रही है। जो विद्यालय गाइडलाइन के विपरीत आचरण करेंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
टीपी ङ्क्षसह, जिला शिक्षा अधिकारी सतना

Pushpendra pandey Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned