रीवा के लिए गाड़ी बुक करने के बाद टैक्सी ड्राइवर की बेरहमी से हत्या

रामपुर बाघेलान थाना इलाके में मिला शव, पुलिस अधीक्षक घटना स्थल पर पहुंचे, आरोपियों की तलाश में कई पुलिस टीमें रवाना

By: Dhirendra Gupta

Published: 16 Mar 2021, 11:38 PM IST

सतना. रीवा के लिए टैक्सी बुक कराने के बाद ड्राइवर की नृशंस हत्या कर दी गई। उसका शव रामपुर बाघेलान थाना इलाके से बरामद हुआ है। हत्या करने वाले गाड़ी और मृतक का मोबाइल फोन लेकर फरार हो गए। मंगलवार की सुबह खबर पाते ही पुलिस मौके पर दौड़ी। मृतक की पहचान होते ही तफ्तीश तेजी से शुरू कर दी गई। पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह और डीएसपी मुख्यालय किरण किरो घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने टीआइ अनिमेष द्विवेदी से सामने आई जानकारी जुटाते हुए पुलिस की अलग अलग टीमें हत्यारों की तलाश में रवाना की हैं।
नाम है कल्लू डामर
सिटी कोतवाली अंतर्गत धवारी निवासी टैक्सी ड्राइवर सुशील कुमार वर्मन उर्फ कल्लू डामर के तौर पर मृतक की पहचान की गई है। कल्लू स्टेशन रोड स्थित आरएसके फ्यूल से कृष्ण चंद्र जोशी पुत्र नरेश चंद्र जोशी की सफेद रंग की स्विफ्ट डिजायर कार एमपी 19 सीसी 4238 लेकर बुकिंग में रीवा के लिए निकला था।
नुकीले हथियार से गोदा
पुलिस के मुताबिक, कल्लू की किसी धारदार नुकीली चीज से बड़ी बेरहमी से हत्या की गई है। मौके पर पुलिस को कार और कल्लू का मोबाइल फोन नहीं मिला है। घटनास्थल से पुलिस को शराब और बीयर की बोतल मिली है। इसमें जो बीयर की बोतल है वह इस क्षेत्र में नहीं मिलती है। इसी तरह एक अलग किस्म का मास्क भी मिला है। साक्ष्य संकलन कर पुलिस आरोपियों का पता लगाने में जुटी है।
कॉल रिसीव नहीं किया
सिटी कोतवाली क्षेत्र के स्टेशन रोड में प्रेम नर्सिंग होम के पास रहने वाले नवनीत जोशी ने बताया कि कार उनके भाई के नाम पर है। जिसे सोमवार की शाम कल्लू लेकर गया था। शाम करीब साढ़े 7 बजे कल्लू कार लेकर पंप पर आया और खड़ी कर चला गया। करीब 10 मिनट बाद वापस आकर उसने कहा कार लेकर रीवा जाना है तब वह कार पेट्रोल पंप से लेकर गया। थोड़ी देर बाद फिर उसने पंप आकर कार में पेट्रोल भराया और निकल गया। रात 11.57 बजे यह जानने के लिए उसे फोन लगाया कि अभी तक वापस क्यों नहीं आया है, कब तक आएगा? तब उसके फोन पर घंटी जाती रही लेकिन कॉल रिसीव नहीं हुआ।
स्टेशन में रहता था डेरा
पता चला है कि कल्लू पुराना टैक्सी ड्राइवर था जो सतना रेलवे स्टेशन परिसर में ही अधिकतर मौजूद रहकर किसी न किसी की टैक्सी चलाता था। कुछ साल पहले पत्नी का स्वर्गवास हो चुका है। इसके दो पुत्र एक पुत्री हैं। बड़ा पुत्र अनिल राजेंद्र नगर निवासी हिमांशु यादव की कार का ड्राइवर है। इससे छोटी बहन आरती की शादी हो चुकी है, उसकी ससुराल उमरिया जिला के करकेली में है। छोटे बेटे अजय की शादी नागौद के बरेठिया में तय है, जल्द ही शादी होनी थी। टैक्सी ड्राइवरों की आपसी चर्चा से पता चला कि कल्लू शराब पीने का शौकीन था लेकिन ड्यूटी के बाद ही वह इस शौक को पूरा करता था। इसके अलावा उसमें कोई ऐब नहीं था। पीने के बाद नशे में उसका छुटपुट विवाद होता रहता था। कहते हैं कि लंबे समय से उसके पास स्थाई काम नहीं था। रीवा के लिए बुकिंग मिलने पर उसने पेट्रोल पंप से कृष्ण चंद्र जोशी की गाड़ी ली थी।
हत्या की वजह लूट तो नहीं?
कल्लू की हत्या की वजह अभी साफ नहीं है लेकिन जिस कार से वह गया था उसके साथ उसका मोबाइल फोन का ना मिलना कई सवाल खड़े कर रहा है। सवाल हो रहा है कि लूट के लिए तो हत्या नहीं हुई है? यहां बता दें कि सतना रेलवे स्टेशन से टैक्सी बुक कर ले जाने और फिर गाड़ी लूटने, ड्राइवर को पीटने या कत्ल कर देने जैसी घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं। कई ड्राइवर और गाडिय़ों का तो वर्षों बाद भी पता नहीं चला है।
नशे की हालत में थे युवक
यह जांच का विषय है कि कल्लू को इतनी बेरहमी से मौत के घाट क्यों उतारा गया और उसका कातिल कौन है? फिलहाल तो स्टेशन परिसर में टैक्सी वालों के बीच ऐसी चर्चा है कि 15 मार्च सोमवार की शाम करीब 5 बजे 25 से 30 वर्ष उम्र के दो युवक नशे की हालत में स्टेशन क्षेत्र में घूम रहे थे। इन्होंने लोकल घूमने के लिए इरशाद की एक्सेंट गाड़ी को बुक किया लेकिन इरशाद को जब उनके नशे में होने का एहसास हुआ तो उसने बुकिंग नहीं ली। इसके बाद इन युवकों ने लकी शर्मा की डिजायर कार यूपी 90 क्यू 7321 को बुक किया जिसे लेकर छोटू ड्राइवर गया। लेकिन थोड़ी देर बाद वह गाड़ी लेकर लौट आया। कहते हैं कि दोनों युवकों ने शहर के डाली बाबा मोहल्ला जाने की बात कही थी, बीच रास्ते में उनकी छोटू से कहासुनी हो गई तो छोटू ने उन्हें गाड़ी से उतार दिया और वापस स्टेशन आ गया। टैक्सी ड्राइवरों ने संभावना जताई है कि शायद यही दोनों युवक कल्लू को साथ लेकर गए। हालांकि इस बात की आधिकारिक पुष्टि कोई नहीं कर रहा है कि कल्लू किसके साथ गया था। लेकिन इतना बताया जा रहा है कि स्टेशन पार्किंग से वह सोमवार की रात करीब 8.10 पर निकला था।
सीसीटीवी जांच रही पुलिस
कल्लू किसके साथ गया था इसका पता लगाने पुलिस स्टेशन एरिया समेत पेट्रोल पंप एवं अन्य स्थानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। चर्चा के अनुसार, जो दो युवक नशे की हालत में घूम रहे थे उनमें से एक धवारी निवासी तिवारी परिवार का सदस्य है। उसके बड़े भाई की बोलेरो जो सतना के बाहर रजिस्टर्ड है वह रेलवे स्टेशन से किराए पर चलती है। सूत्र बताते हैं कि कल्लू के शरीर में कई वार किए गए हैं। शुरुआत में पुलिस के लिए उसकी पहचान भी एक बड़ी चुनौती थी। उसके एक हाथ में कल्लू और दूसरे हाथ में अनिल, अजय गुदा हुआ था। मृतक के पुत्र अनिल ने मौके पर पहुंचकर शव की शिनाख्त की जिसके बाद उसका पोस्टमार्टम कराया गया। खबर है कि एक हजार रुपए देकर गाड़ी बुक कराने वाले तक पुलिस पहुंच गई है और उससे पूछताछ की जा रही है।

Dhirendra Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned