चार धाम की यात्रा है श्री रामनवमी शोभा यात्रा

चार धाम की यात्रा है श्री रामनवमी शोभा यात्रा
The journey of Char Dham is Shri Ramnavami Shobha Yatra

Jyoti Gupta | Publish: May, 23 2019 09:38:59 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

हिंदू पर्व समन्वय समिति ने सहयोगियों का किया अभिनंदन

सतना. हिंदू पर्व समन्वय समिति के आयोजकत्व में श्रीराम नवमी के अवसर पर आयोजित भव्य शोभायात्रा में सहयोगी संस्थाओं एवं समाजो का अभिनंदन समारोह शंकर सभागार सरस्वती विद्यापीठ में संपन्न हुआ। इस अवसर पर अतिथि के रूप में वरिष्ठ समाजसेवी मोतीलाल गोयल एवं वाल्मिक समाज की वरिष्ठ समाजसेविका राजकुमारी वाल्मीकि सहित रामावतार चमडिय़ा, योगेश ताम्रकार, मणिकांत माहेश्वरी, उत्तम बनर्जी, कमलजीत सेठी, हेमचंद्र जयसवाल, अर्जुनदास वाधवानी मंचासीन रहे। समिति अध्यक्ष रामअवतार चमडिय़ा ने सामाजिक सद्भाव की इस डेढ़ दशक की यात्रा का वर्णन किया। समिति के सदस्य उत्तम बनर्जी ने कहा जैसे अपनी चार धाम की यात्रा बिना पूरे भारतवर्ष की परिक्रमा किए पूरी नहीं हो सकती वैसा ही रामनवमी चल समारोह का स्वरूप हो गया है। झांकी के रूप में या स्वागत सत्कार के रूप में विभिन्न समाज जाति बिरादरी की सहभागिता के कारण पूरा भारत बसता है सतना में। मुख्य अतिथि वैश्य महासम्मेलन के प्रदेश उपाध्यक्ष मोतीलाल गोयल ने कहा कि धीरे- धीरे एक दूसरे समाजों के प्रति जानकारी बढ़ रही है।जानकारी बढ़ेगी तो उससे आत्मीयता बढ़ेगी मन में श्रद्धा बढ़ेगा और फि र सद्भावना भी बढ़ेगी। वरिष्ठ सदस्य योगेश ताम्रकार ने पर्यावरण जागरूकता को लेकर हिंदू पर्व समन्वय समिति के प्रयासों की जानकारी देते हुए बताया कि शोभायात्रा में स्वच्छता वाहिनी में अब समाज के लोग भी आग्रह करके जुडऩे लगे हैं। इस बार प्लास्टिक का बहिष्कार का आवाहन भी सफ ल रहा। समारोह का संचालन समिति के सदस्य हरिओम गुप्ता व अनुराग गोस्वामी ने किया। आभार प्रदर्शन वरिष्ठ सदस्य हेमचंद जयसवाल ने किया। राजेश कोटवानी के भजनों से हुआ शुभारंभ समिति के सदस्य राजेश कोटवानी के भजनों के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर शोभायात्रा में जिन सामाजिक संस्थाओं ने चल समारोह में झांकी निकाली, अपनी समिति या समाज की ओर से स्वागत किया अथवा आयोजन की व्यवस्था में सहयोग किया। उन्हें स्मृति चिन्ह देकर अभिनंदन किया गया। इस अवसर पर छप्पन समाज व जाति बिरादरी चौबीस, समाज सेवी संगठन बाइस, स्वयंसेवी संस्थाएं दस धार्मिक संस्थान सहित सामाजिक समितियों का अभिनंदन किया गया। सहभोज के साथ कार्यक्रम पूरा हुआ।

विशिष्ट उपलब्धि के लिए बच्चियों का किया गया सम्मान

पर्यावरण संरक्षण के लिए तीन सभी बहनों कृपाली चैत्या और अंशली रैकवार ने हिंदू पर्व समन्वय समिति के वृक्षारोपण अभियान को शुरू करने में बहुत बड़ा योगदान दिया। इन्होंने बहुत छोटी उम्र से अपने जेब खर्च बचा कर अपने जन्मदिन पर वृक्ष लगाने की परंपरा प्रारंभ की। बाद में यह हिंदू पर्व समन्वय समिति का वार्षिक कार्यक्रम बन गया और प्रतिवर्ष 9 अगस्त को यह आयोजन करते हैं।साथ ही सौम्या गोस्वामी ने तीन वर्ष पूर्व संकल्प लिया था कि शहर के कुछ मंदिरों में रामनवमी शोभा यात्रा का पोस्टर स्वयं जाकर लगाएंगे। इस वर्ष सौम्या ने स्वयं ही सौ मंदिरों में शोभायात्रा के पोस्टर लगाए। अभिनंदन समारोह में इन चारों बच्चियों का समिति के सदस्यों ने सम्मान किया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned