शराब कंपनी के सेल्समैन को लूटने उप्र से बुलाए थे बदमाश

तीन शातिर अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया, बाइक के साथ 50 हजार रुपए की नकदी जब्त, कंपनी से निकाले गए कर्मचारी ने कराई थी वारदात

By: Dhirendra Gupta

Published: 30 Jan 2021, 12:27 AM IST

सतना. शराब कंपनी के सेल्समैन को लूटने के लिए उप्र से बदमाश बुलाए गए थे। आधा दर्जन से ज्यादा अपराधी इस सनसनीखेज वारदात में शामिल रहे। 11 जनवरी को सिविल लाइन थाना क्षेत्र में हुई इस घटना का खुलासा गुरुवार को पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने करते हुए बताया कि तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनके कब्जे से लूट में प्रयुक्त मोटर साइकिल व ५० हजार रुपए की नकदी जब्त कर ली गई है। जबकि चार आरोपियों को पुलिस को तलाश है।
यह है मामला
जैतवारा थाना क्षेत्र के मरवा गांव के निवासी बालेन्द्र गौतम पुत्र छोटेलाल गौतम (30) के साथ 11 जनवरी की सुबह लूट की वारदात हुई थी। सिविल लाइन थाना अंतर्गत कोठी मार्ग स्थित मिशनरी स्कूल बरा के पास बाइक सवार चार बदमाशों ने उसे लूट का शिकार बना लिया था। जिसमें 4 लाख 24 हजार 205 रुपए लूटे गए थे।
500 संदेही, 100 बाइक जांची
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस वारदात का खुलासा करने के लिए थाना सिविल लाइन, कोठी, मझगवां, जैतवारा, नयागांव, सिंहपुर, बरौंधा, सभापुर के साथ साइबर सेल की टीम को शुरुआत में एसडीओपी चित्रकूट अभिनव चौकसे, सीएसपी विजय प्रताप सिंह के नेतृत्व में टास्क पर लगाया गया। आरोपियों की जानकारी जुटाने सीसीटीवी फुटेज को बारीकी से देखा और इस बीच कई इलाकों के करीब 500 व्यक्तियों से पूछताछ करते हुए नीले रंग की लगभग 100 गाडि़यों को जांचा।
एेसे किया था वारदात का प्लान
पता चला है कि कल्लू मझगवां और कोठी की शराब दुकान में काम कर चुका है। वह मझगवां में किराए से रहता था। जहां उसने उमाशंकर से संपर्क कर सेल्समैन के बारे में बताया। उमाशंकर ने ही बाकी से संपर्क साधा। उमा शंकर की मौसी का पुत्र है अंकित पाण्डेय जो अपने साथ लोकेन्द्र को लेकर आया था। यज्ञदत्त के बेटे आशीष की गाड़ी का उपयोग इन बदमाशों ने किया। यह बात भी सामने आई हे कि चित्रकूट में ही यह शातिर अपराधी पनाह लेते हैं। इनके मददगारों की पुलिस सूची बना रही है।
चित्रकूट में मिला पहला बदमाश
मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने संदेही आशीष शर्मा उर्फ लक्खू को उसके घर से पकड़ा। इसके यहां से नीले रंग की बाइक मिलने पर पूछताछ हुई तो पता चला कि चित्रकूट के शातिर अपराधी यज्ञदत्त शर्मा का बेटा आशीष उर्फ लक्खू ही अपराधियों को पनाह दिए था। आशीष ने पुलिस गिरफ्त में आने के बाद बताया कि कल्लू को शराब कंपनी से निकाल दिया था। जिससे कल्लू नाराज होकर सबक सिखाना चाहता था। इसलिए उसने सेल्समैन के बारे में जानकारी दी। जिसके बाद साथियों को इकट्ठा कर वारदात कर दी गई।
यह आरोपी पकड़े गए
पुलिस ने लूट के इस मामले में आरोपी आशीष शर्मा उर्फ लक्खू पुत्र यज्ञदत्त शर्मा (29) निवासी कामतन द्वितीय मुखारबिंद के पास चित्रकूट थाना नयागांव, लक्ष्मी प्रसाद मिश्रा पुत्र स्व. स्वामीदीन मिश्रा (49) निवासी ग्राम किरहा पुरवा थाना बरौंधा, अंकित पाण्डेय पुत्र राम किशोर पाण्डेय (27) निवासी ग्राम बरछा दडिय़ा थाना फतेहगंज जिला बांदा उप्र को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से नीले रंग की एक मोटर साइकिल एमपी 19 एमपी 8036, फरियादी का पैन कार्ड, वोटर आइडी कार्ड, आधार कार्ड व नकदी 50 हजार रुपए व शराब दुकान वाउचर की दो पर्ची जब्त की गई।
पूर्व उपाध्यक्ष के बेटे की तलाश
पुलिस इसी मामले में फरार कृषि उपज मण्डी के पूर्व उपाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय के पुत्र उमा शंकर पाण्डेय (32) निवासी कंदर थाना बरौंधा समेत उसके साथी कल्लू उर्फ राजेश सिंह पुत्र स्व. राज बहादुर सिंह (35) निवासी नरदहा थाना बरौंधा, लोकेंद्र सिंह राजपूत पुत्र बोस राजपूत (26) निवासी नाहर पुरवा बिसंडा जिला बांदा, पुष्पेंद्र पाण्डेय पुत्र स्व. राजमणि पाण्डेय (32) निवासी ग्राम कंदर थाना बरौंधा की तलाश है।
चलेगा प्रशासन का बुल्डोजर
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी आशीष के हत्या समेत कई अपराध पूर्व से दर्ज हैं। आरोपी अंकित के खिलाफ कर्वी कोतवाली में मारपीट व लूट के अपराध पंजीबद्ध हैं। आरोपी लक्ष्मी प्रसाद मिश्रा के खिलाफ मारपीट का अपराध और तीन इस्तेगासा की जा चुकी हैं। कल्लू उर्फ राजेश मारपीट बलवा का अपराध दर्ज होने के सााि इस्मेगासा पंजीबद्ध हैं। इन अपराधियों के बारे में प्रशासन से इनकी संपत्ति की जानकारी जुआई जाएगी और इनके कब्जों पर बुल्डोजर चलाने की कार्रवाही होगी।
एसपी करेंगे पुरुस्कृत
लूटेरों के इस गिरोह तक पहुंचने वाली टीम और उत्कृष्ट विवेचना के लिए पुलिस अधीक्षक इनाम देंगे। इस टीम में एसडीओपी चित्रकूट आइपीएस अभिनव चौकसे, सीएसपी विजय प्रताप सिंह, टीआइ थाना सिविल लाइन एसएम उपाध्याय, टीआइ थाना बरौंधा पीसी कोल, मझगवां थाना प्रभारी ओपी चोंगड़े, चित्रकूट थाना प्रभारी आरबी त्रिपाठी, एएसआइ रवींद्र द्विवेदी, प्रधान आरक्षक संतोष धुर्वे, आरक्षक अजीत मिश्रा, शिवम द्विवेदी, विकास सिंह, राकेश कश्यप, संजय यादव, कमलाकर सिंह, शत्रुघन गौतम, साइबर सेल प्रभारी अजीत सिंह, प्रधान आरक्षक दीपेश पटेल, आरके पटेल, आरक्षक विपेंद्र मिश्रा, संदीप सिंह, असलेन्द्र सिंह शामिल रहे।

Dhirendra Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned