सतना के बाद पन्ना में चेन स्नेचिंग कर भागे बाबरिया गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार

चित्रकूट की धर्मशाला में रहकर वारदात कर रहा था गिरोह, पुलिस की घेराबंदी से पहले एक बदमाश बाइक लेकर भागा, पन्ना और सतना पुलिस के ज्वांट ऑपरेशन में पकड़े गए आरोपी

By: Dhirendra Gupta

Published: 07 Sep 2021, 12:40 AM IST

सतना. सतना शहर में रविवार को चेन स्नेचिंग की वारदात करने के बाद भागे बदमाशों ने सोमवार की सुबह पन्ना शहर में दो महिलाओं के साथ घटना कर दी। पहले से बदमाशों का सुराग लगा रही सतना पुलिस सुबह तक जान चुकी थी कि उप्र के शामिली के बाबरिया गिरोह के सदस्य इन घटनाओं में शामिल हैं। एेसे में पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह यादव ने सुबह से ही चित्रकूट में डेरा जमा लिया था। साइबर टीम भी अपने काम में जुटी थी और पुलिस की अलग अलग टीमें अपराधियों की तलाश कर रही थीं। इधर, पन्ना जिले की पुलिस को सुराग मिला कि अपराधी चित्रकूट में ठहरे हैं। खबर पाते ही पन्ना जिले की पुलिस टीमें चित्रकूट पहुंची और रामघाट की एक धर्मशाला से दो बदमाशों को पकड़ लिया। पन्ना पुलिस अपराधियों को साथ लेकर चली तो सतना पुलिस भी पहुंच गई। दोनों जिलों की पुलिस में जमकर हुज्जत हुई और फिर उच्च स्तर पर समझौते के बाद इसे ज्वाइंट ऑपरेशन बताया गया है।
तीसरा मिला, चौथा भागा
पन्ना पुलिस ने चेन स्नेचिंग करने वाले शामिली उप्र के बाबरिया गिरोह के सदस्यों को धर्मशाला से पकड़ा था। फिर सतना पुलिस ने एक और आरोपी को पकड़ लिया। जबकि चौथा आरोपी बाइक लेकर भाग निकला है। पकड़े गए बदमाशों के नाम जगत सिंह, जगन और हरवंश बताए गए हैं। इनके कब्जे से वारदात में प्रयुक्त अपाचे बाइक यूपी ७२ एएम ७०८६ जब्त कर ली गई है। जबकि दूसरी बाइक यूपी १९ एफ १५४७ लेकर चौथा आरोपी फरार हो गया। यह बाइक पकड़े गए आरोपी जगत सिंह के नाम पर रजिस्टर्ड होना बताई जा रही है।
पन्ना गए थे दो बदमाश
वारदात होने के कुछ देर बाद ही पन्ना साइबर सेल की मदद से पुलिस को पता लगा कि आरोपी सिंहपुर के रास्ते चित्रकूट से उप्र की सीमा में प्रवेश कर सकते हैं। सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक पन्ना धर्मराज मीना ने धरमपुर थाना प्रभारी सुधीर बेगी, बृजपुर थाना प्रभारी बखत सिंह और साइबर सेल की टीम को चित्रकूट के लिए रवाना कर दिया। पन्ना में वारदात करने वाले बदमाशों को लेकर पुलिस चित्रकूट से चली तभी पीली कोठी तिराहा में एसडीओपी चित्रकूट आइपीएस अभिनव चौकसे और साइबर सेल की टीम पहुंच गई। पता चला है कि दो बदमाश ही पन्ना गए थे जबकि बाकी दो बदमाश अगली घटना का प्लान चित्रकूट में रहकर बना रहे थे।
विवाद की खबर पाकर पहुंचे एसपी
सतना और पन्ना जिले के पुलिस अधिकारियों में आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर विवाद होने लगा। बात बढ़ती इसके पहले बढ़ती भीड़ को देख मामला संभाल लिया गया। सूत्रों का कहना है कि पुलिस की इस नोकझोंक के बीच दो बदमाश भाग निकले थे। इनमें से एक को बाद में पकड़ लिया जबकि दूसरा फरार है। दोनों जिलों की पुलिस के विवाद की खबर पाकर एसपी पन्ना भी चित्रकूट पहुंचे। यहां पहले से मौजूद सतना एसपी धर्मवीर सिंह यादव से उनकी बात होने पर संयुक्त कार्रवाही का मसौदा बनाया गया।
धर्मवीर और धर्मराज की टीम
पुलिस अधीक्षक सतना धर्मवीर सिंह यादव और पन्ना एसपी धर्मराज मीना की टीमों में ये शातिर अपराधी पकड़े हैं। एसपी सतना ने बताया कि बाबरिया गिरोह के यह सदस्य चेन स्नेचिंग के मास्टर हैं। गिरोह के सदस्य अपने काम में माहिर होते हैं और अपने इलाके से दूर जाकर अपराध करते हैं। अपराधी यहां सिर्फ वारदात करने आए थे और इनकी सोच थी कि चित्रकूट से मेले की भीड़ में शामिल होकर भाग जाएंगे। प्रयागराज, शामिली, कर्वी और प्रतापगढ़ में पुलिस की टीम जाल बिछाए थी। अपराधियों के चेहरों की पुष्टि हो चुकी थी और इनके मोबाइल नंबर भी पता चल गए। जिसके बाद पुलिस दबिश में जुटी थी कि ताकि अपराधियों के किसी भी मूवमेंट पर उन्हें दबोचा जा सके।
यह हैं गिरफ्तार आरोपी
पकड़े गए आरोपियों में जगत उफज़् जग्गू पिता चरण सिंह राजपूत (20) निवासी जटांखानपुर थाना जिग्जाना शामली उप्र, हरविन्द सिंह पिता वेदपाल सिंह राजपूत (35) निवासी अहमदगढ़ थाना जिग्जाना जिला शामली उप्र, जगत सिंह पिता बाबूराम सिंह राजपूत (25) निवासी बिरलियान थाना जिग्जाना जिला शामली उप्र।
दोनों जिले की संयुक्त टीम
सतना पुलिस टीम से एडिशनल एसपी सुरेंद्र कुमार जैन, सीएसपी विजय प्रताप सिंह परिहार, एसडीओपी चित्रकूट आईपीएस अभिनव चौकसे, थाना प्रभारी कोलगवां, थाना प्रभारी कोतवाली, थाना प्रभारी सिविल लाइन, रक्षित निरीक्षक सत्य प्रकाश मिश्र, थाना प्रभारी कोठी, प्रभारी साइबर सेल अजीत सिंह, आशीष धुर्वे, शैलेंद्र पटेल,राजेंद्र त्रिपाठी, एएसआई दीपेश पटेल, अनिल तिवारी, प्रधान आरक्षक विपेंद्र,वाजिद, ब्रजेश, रमाकांत, राकेश, खेमराज, मुकेश, हरीश, आरक्षक संदीप परिहार,अजीत मिश्रा, कमलाकर, अंकेश, रामानुज, विकास बैंस, विकास बघेल, आशीष, प्रवीण, विमलेश, राकेश, रवि सिंह हैं।
इसी तरह पन्ना पुलिस टीम से निरीक्षक अरुण सोनी थाना प्रभारी कोतवाली पन्ना, उपनिरीक्षक बखत सिंह थाना प्रभारी बृजपुर, उपनिरीक्षक अभिषेक पाण्डेय थाना प्रभारी देवेंद्रनगर , उपनिरीक्षक सुधीर बैगी थाना प्रभारी धरमपुर, प्रधान आरक्षक साइबर सेल नीरज रैकवार, राहुल सिंह बघेल, थाना कोतवाली से प्रधान आरक्षक सत्येंद्र बागरी, लक्ष्मी यादव, आरक्षक वीरेंद्र अहिरवार, प्रदीप दिलीप शमाज़्, ब्रजगोपाल बागरी शामिल रहे।
वर्जन...
पन्ना में चेन स्नेचिंग की घटना के आरोपियों को पकड़ लिया गया है। मामले को लेकर दोनों जिलों के पुलिस के बीच किसी प्रकार के विवाद की स्थिति निर्मित नहीं हुई है। पूरी जानकारी कल पीसी में देंगे।
- धर्मराज मीना, पुलिस अधीक्षक, पन्ना
............
बेहतर समन्वय से सतना और पन्ना जिले की पुलिस ने अपराधियों को पकड़ा है। दोनों जिलों की टीमें प्रशंसा की पात्र हैं। इस ऑपरेशन में कई टीमें शामिली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज में दबिश बनाए हुए थीं।
- धर्मवीर सिंह यादव, पुलिस अधीक्षक, सतना

Show More
Dhirendra Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned