आत्मनिर्भर भारत: प्रशासन पानी नहीं दे पाया तो आदिवासी दंपती ने 25 दिन में खोद डाला साढ़े चार मीटर गहरा कुआं

मेहनत लाई रंग, पानीदार कुएं से सींच रहे सब्जी

By: Sonelal kushwaha

Updated: 22 May 2020, 06:37 PM IST

सतना. कोरोना लॉकडाउन के बीच पानी से जूझ रहे आदिवासी दंपती ने कुआं खोदकर मिसाल पेश की है। आदिवासी पति-पत्नी को ढाई मीटर चौड़ा व साढ़े चार मीटर गहरा कुआं खोदने में २५ दिन लगे। इनकी मेहनत भी बेकार नहीं गई। कुआं पानीदार निकला। इसके चलते अब पास में ही खेतों में लगी सब्जियों की सिंचाई के लिए भरपूर पानी उपलब्ध है।

हौसले और मेहनत की यह कहानी मझगवां ब्लॉक के बरहा मवान गांव की है। लॉकडाउन में मजदूरी बंद होने से गांव के राजू मवासी ने पानी की किल्लत को देखते हुए कुआं खोदने की ठानी। पत्नी राजकली के साथ वह दिनभर फावड़ा-कुदाल से कुआं खोदता। २५ दिन तक खुदाई करने के बाद जब कुएं से पानी की धार फूटी तो गांव वाले भी आश्चर्यचकित रहे गए। राजू ने बताया कि पानी की बहुत समस्या थी। पहले तो कुछ सूझ नहीं रहा था फिर एक दिन पत्नी से कहा कि मिलकर कुआं खोदेंगे, यदि किस्मत अच्छी रही तो पानी जरूर निकलेगा। कुएं से पानी निकलने पर पति-पत्नी को अपनी मेहनत पर संतोष है।

प्रशासन ने बढ़ाए मदद के हाथ
आदिवासी दंपती की मेहनत बेकार नहीं जाएगी, प्रशासन ने मदद के लिए अपने हाथ आगे कर दिए हैं। कुएं का बंधान कराकर हमेशा के लिए इसको सार्वजनिक उपयोग में लाया जाएगा। बरहा मवान में आदिवासी दंपती द्वारा कुआं खोदने की खबर मिलने के आद ब्लॉक के अधिकारी भी अंचभित रह गए। जनपद सीइओ अशोक मिश्रा को जब जानकारी मिली तो उन्होंने मौके पर इंजीनियर को मुआयना करने को भेजा। राजू व राजकली के हौसले की तारीफ करते हुए सीईओ मिश्रा ने बताया कि कुआं शासकीय भूमि पर है। इसको किसी योजना के दायरे में लाकर बंधान कराया जाएगा ताकि इसका सार्वजनिक उपयोग हो सके।

इंजीनियर को भेज
आदिवासी दंपती द्वारा लॉकडाउन में कुआं खोदे जाने की खबर मिलने के बाद मौके पर इंजीनियर को भेजा। ढाई मीटर चौड़ा व साढ़े चार मीटर गहरा कुआं शासकीय भूमि पर है, जिसे योजना में लेने पर विचार कर रहे हैं। कुएं का बंधान कराकर सार्वजनिक उपयोग में लाया जाएगा।
अशोक मिश्रा, जनपद सीईओ

Show More
Sonelal kushwaha Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned