झारखण्ड- बिहार के मजदूरों को धोखा देकर भाग ट्रक चालक

महाराष्ट्र से अपने गांव जा रहे थे 49 मजदूर, सतना के पुलिस प्रशासन ने मदद की

By: Dhirendra Gupta

Updated: 19 May 2020, 12:31 AM IST

सतना. महाराष्ट्र में रह रहे झारखण्ड और बिहार राज्य के मजदूरों को यूपी बार्डर पर सख्ती का धोखा देकर ट्रक चालक भाग निकला। अमदरा के घुमेही गांव में परेशान मजदूर कई घंटे तक ट्रक चालक की राह तकते रहे लेकिन वह लौटा नहीं। जब स्थानीय पुलिस प्रशासन को खबर मिली तो मजदूरों को पेट भर खाना खिलाने के बाद उनके जाने का इंतजाम किया गया।
मजदूरों में शामिल बिहार के सद्दाम अंसारी ने बताया, महाराष्ट्र से अपने बाव जाने के लिए उन्होंने ट्रक यूपी ७२ एटी ३४११ के मालिक से बात की। प्रत्येक मजदूर का 4300 रुपए किराया लेने के बाद ट्रक चालक महाराष्ट्र से 49 मजदूरों को सतना जिले की सीमा तक लेकर आया। सोमवार की दोपहर ट्रक चालक ने घुमेही गांव में यह कहते हुए सभी मजदूरों को उतार दिया कि आगे 3 किमी की दूरी पर उप्र का बार्डर है जहां काफी सख्ती चल रही है। इसलिए ट्रक लेकर वह बार्डर पार करेगा और सभी मजदूर पैदल बार्डर के पार आएंगे तो सवार कर लेगा। ट्रक चालक की बात मानकर मजदूर घुमेही में उतर गए और ट्रक चालक का फोन आने की राह तकने लगे। कई घंटे बीत जाने के बाद मजदूरों को समझ आ गया कि उन्हें धोखा दिया गया है। सद्दाम का कहना है कि घुमेही में सरपंच, पुलिस, प्रशासन और स्थानीय लोगों की उसे मदद मिली। मुंबई की एक महिला के जरिए सभी मजदूरों को प्रशासन भोजन कराते हुए बस का प्रबंध किया।

Show More
Dhirendra Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned