तुलसी चाय बनी फेवरेट

तुलसी चाय बनी फेवरेट
tulsi tea demand in homes, restaurants and hotels in the winter

Jyoti Gupta | Publish: Feb, 04 2019 08:56:17 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

सर्दियों के मौसम में घर, रेस्टोरेंट और होटल्स में बढ़ी डिमांड

 

सतना. तुलसी हमारी परम्परा में बहुमूल्य हर्ब के रूप में जानी जाती है। इसे कई बीमारियों के लिए एक प्रभावी उपाय माना जाता है। इसमें प्राकृ तिक एंटीऑक्सीडेंट की एक शृंखला होती है जो शरीर के ऊतकों को मुक्त कणों की क्षति से बचाने में मदद कर सकती है। यही वजह है कि सर्दियों में शहर के लोगों में यह बेहद लोकप्रिय बनी हुई है। ग्रीन टी हो, ब्लैक कॉफी लोग इन सब में तुलसी की पत्तियां डालना नहीं भूल रहे हैं। घर तो घर, लोग तुलसी चाय की डिमांड रेस्टोरेंट, होटल्स में भी कर रहे हैं। आयुर्वेद डॉ. प्रदीप सिंह का कहना है कि तुलसी सभी रूपों में चाहे वह सूखी हो या ताजी या फि र पाउडर के रूप में, लाभदायक है। उनका कहना है कि इस मौसम में हर किसी को तुलसी वाली चाय पीनी चाहिए। इससे वह कई तरह की बीमारियों से खुद को बचा सकते हैं। तुलसी की चाय हमारे शरीर के लिए कई प्रकार से फ ायदेमंद है।


श्वसन प्रॉब्लम को दूर करने में सहायक
तुलसी चाय ठंड और खांसी से लेकर ब्रोंकाइटिस और अस्थमा तक की कुछ श्वसन बीमारियों में लाभदायक होती है। यह प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाती है। खांसी को नियंत्रण में करती है और शासन प्रणाली में राहत प्रदान करती है ।


तनाव दूर करती है

हाल ही में हुए कुछ अध्ययनों के मुताबिक तुलसी की चाय शरीर में हार्मोन के समान स्तर को बनाए रखने में मदद करती है। जिसे तनाव हर्मोन से जाना जाता है। यह कोर्टिसेल के स्तर को कम करता है जिससे आप तनावमुक्त जाते हैं। वास्तव में यह अवसाद के विभिन्न लक्षणों को कम करने के लिए जाना जाती है।

शुगर कंट्रोल में उपयोगी
दूध के बजाय तुलसी चाय पीएं, क्योंकि यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करती है । तुलसी चाय का दैनिक सेवन कार्बो और वसा के चयापचय को सुविधाजनक बनाने में भी मदद कर सकता है।

ओरल हेल्थ में लाभकारी

तुलसी चाय में एंटीमाइक्रोबियल की उपस्थिति मुंह में हानिकारक बैक्टीरिया और रोगाणियों के खिलाफ मुकाबला करने में मदद करती है। माउथ फ्रेशनर के रूप में कार्य करती है। इसके अलावा यह बदबूदार सांस को भी रोकती है ।

गठिया के दर्द कम करें
तुलसी के तेल में य्रूगेनॉल नामक घटक मौजूद होता है जो पाचन तंत्र के लिए लाभदायक होता है। साथ ही इसमें एंटी इंफ्लामेंट्री गुण भी पाए जाते हैं जो गठिया के दर्द को कम करने में मदद करती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned