बीएड-डीएडधारी बेरोजगारों ने मुंडन करा कर किया प्रदर्शन

बीएड-डीएडधारी बेरोजगारों ने मुंडन करा कर किया प्रदर्शन
unique protest of BEd Ded unemployed in satna Madhya pradesh

Rajiv Jain | Publish: Jun, 07 2018 01:52:45 PM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India

मध्य प्रदेश सरकार के संविदा शिक्षक भर्ती की तिथियों का एेलान नहीं करने से नाराज बीएड डीएडधारियों ने गुरुवार को अनोखा प्रदर्शन किया।

सतना. मध्य प्रदेश सरकार के संविदा शिक्षक भर्ती की तिथियों का एेलान नहीं करने से नाराज बीएड डीएडधारियों ने गुरुवार को अनोखा प्रदर्शन किया। बीएड डीएड प्रशिक्षित छात्र संगठन के बैनर तले बेरोजगार युवक मुंडन कराकर दोपहर 12 बजे सडक़ पर प्रदर्शन करने लगे। पहले एक छात्र और छात्रा ने मुंडन कराया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान बेरोजगारों ने बहुत हो गया इंतजार, मामा जल्द करो भर्ती , शिक्षक भर्ती जल्द करो जल्द करो के नारे लगाए। कड़ी धूप में भी बड़ी संख्या में बेरोजगार युवक जुटे।

इसके बाद दोपहर 2 बजे कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में राज्य सरकार को 10 दिन का रिमाइंडर देकर संविदा शिक्षक भर्ती की तारीख का एेलान करने की मांग की।

घंटों इंतजार के बाद भी नहीं हुई परीक्षा, नाराज छात्र लौटे
बीएसडब्ल्यू की परीक्षा देने आधा सैकड़ा छात्र भरी गर्मी में पसीने से तरबतर शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में प्रश्न-पत्र का इंतजार करते रहे। लेकिन, प्रश्न-पत्र नहीं आने से उन्हें बिना परीक्षा दिए लौटना पड़ा। स्कूल प्रबंधन ने भी परीक्षा लेने की तैयारी कर रखी थी। बावजूद, परीक्षा नहीं हुई। इसके लिए ब्लॉक समन्वयक विश्वनाथ राय को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। पोंडी गरादा के बालेन्द्र सिंह की शिकायत थी कि, जब यही परीक्षा मैहर में सुबह 11 बजे से हुई तो यहां क्यों नहीं। बिहटा की सोनम सिंह ने कहा भीषण गर्मी में तीन घंटे बेवजह बैठे रहे। परन्तु जिम्मेदार अधिकारी परीक्षा लेने आया ही नहीं। अब बता रहे है कि पेपर सही समय से न आने के कारण ऐसा हुआ। ज्ञात हो कि परीक्षा उपरांत छात्रों को शासन की जनकल्याण कारी योजनाओं के साथ साथ सामाजिक कार्य करने होते हैं। बदले में मानदेय दिया जाता है ।

बीएसडब्ल्यू जनअभियान परीक्षा के यूनिवर्सिटी से पेपर नहीं आये। जिसके कारण परीक्षा में व्यवधान हुआ। जबतक पेपर आये तबतक परीक्षार्थी चले गये।
विश्वनाथ राय, ब्लाक समन्वक उचेहरा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned