वाट्सऐप बना आपदा पीडि़तों का मददगार

वाट्सऐप बना आपदा पीडि़तों का मददगार

Jyoti Gupta | Publish: Sep, 06 2018 10:42:08 PM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India

मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराई ग्रुप से एकत्रित राशि, संकट में फं से लोगों की मदद को आगे आए

 

सतना. इन दिनों वाट्सऐप ग्रुप के सदस्यों की सोच बदली है। वे गुड मॉर्निंग गुडनाइट और शरारत भरे मैसेज और फोटो पोस्ट करने की जगह केरला में आई आपदा में फं से लोगों के लिए चिंतित हैं। कुछ सदस्यों ने केरल के लोगों को आर्थिक मदद पहुंचाने का फैसला लिया है। फं ड कलेक्ट करने की जिम्मेदारी ग्रुप एडमिन को दी है। सभी सदस्यों से गुजारिश की जाती है कि वे अपनी-अपनी क्षमतानुसार कुछ मदद करें। अलग-अलग ग्रुप एडमिन का कहना है कि एकत्रित किए गए पैसों को मदद के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराया जा रहा है। इस पुनीत कार्य में शहर से बाहर रहने वाले सदस्य भी आगे आ रहे हैं। इसके लिए एडमिन ने उन्हें अपना अकाउंट नंबर दे दिया है।

मित्र मंडली वॉट्सऐप ग्रुप
फोटो एसटी ०७०५ प्लस

मित्र मंडली ग्रुप के साहिर कुरैशी ने बताया कि इसमें सभी समुदाय के लोग जुड़े हैं। ग्रुप में २३३ सदस्य हैं। दो दिन पहले ही इस ग्रुप के सदस्यों से केरला में बाढ़ पीडि़तों की मदद के लिए कहा था। बाहरी लोग भी मदद कर रहे हैं। अब तक 10 हजार रुपए एकत्रित हो गए। जैसे ही और रुपए एकत्रित होते हैं, मुख्यमंत्री राहत कोष में पूरी पारदर्शिता के साथ जमा कर दिए जाएंगे।

वैश्व महासम्मेलन इकाई ग्रुप

ग्रुप एडमिन हरिओम गुप्ता का कहना है कि सभी सदस्य समाजसेवा के लिए अग्रसर हैं। लगभग दो सौ सदस्य सक्रिय हैं। पिछले ही दिनों संकट में फंसे लोगों की मदद के लिए अपील की। देखते ही देखते दो दिन के अंदर 25 हजार रुपए एकत्रित हो गए। हम सभी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा किया। आगे भी इस तरह की विपदा आने पर हमारा पूरा ग्रुप एेसे नेक कार्य करता रहेगा।

रोटरी क्लब ग्रुप
ग्रुप एडमिन मनोहर डिगवानी ने बताया कि केरला में संकट में फंसे लोगों के लिए हर व्यक्ति को आगे आना चाहिए।बूंद बूंद से ही सागर भरता है। संकट में हमारा पूरा ग्रुप बाढ़ पीडि़तों के साथ खड़ा है। एक अपील पर ग्रुप 73 मेंबर्स ने यथा संभव मदद की। महज तीन के अंदर हमारे ग्रुप ने 35 हजार रुपए कलेक्ट कर लिए। इस राशि को राहत कोष में जमा करा दी गई।

Ad Block is Banned